comScore
Dainik Bhaskar Hindi

अनियंत्रित रेत से भरा ट्रक झोपड़ी पर पलटा, परिवार के दो बच्चों सहित चार की मौत

BhaskarHindi.com | Last Modified - October 09th, 2018 15:33 IST

2.2k
0
0
अनियंत्रित रेत से भरा ट्रक झोपड़ी पर पलटा, परिवार के दो बच्चों सहित चार की मौत

भास्कर न्यूज, टीकमगढ़। जतारा थाना क्षेत्र के लिधौरा ताल गांव के पास सडक़ किनारे टेलीफोन लाइन बिछाने के लिए की गई खुदाई के कारण रेत से भरा ट्रक अनियंत्रित होकर पलट गया। सुबह 4 बजे इस हादसे में ट्रक के नीचे दबने से लोहगढिय़ा परिवार के 4 सदस्यों की दर्दनाक मौत हो गई। हादसे में घायल 8 वर्षीय मासूम की स्थिति गंभीर बनी हुई है। ट्रक रेत भरकर चंदेरा से जतारा की ओर आ रहा था। रातों-रात रेत की चोरी और सडक़ किनारे खोदी गई टेलीफोन लाइन ने सोमवार को चार लोगों की जान ले ली। क्षेत्र में रेत का अवैध परिवहन रात के अंधेरे बड़े पैमाने पर किया जा रहा है। रेत चुराकर ट्रक चालक तेज गति से वाहन दौड़ाकर जल्द से जल्द भागने के फिराक में रहते हैं। रेत भरकर चंदेरा से जतारा की ओर आ रहा ट्रक क्रमांक यूपी-91, टी-8483 अनियंत्रित होकर लिधौरा ताल गांव के पास पलट गया। बेकाबू ट्रक सडक़ किनारे झोपड़ी डालकर सो रही लोहगढिय़ा (घुमक्कड़ जाति) परिवार के ऊपर जा गिरा। ट्रक के नीचे शेरसिंह पुत्र बुध सिंह (42), मीरा पत्नी शेर सिंह (36), जिगर पुत्र शेरसिंह (10) और दिलीप लोहगढिय़ा की मौत हो गई। ट्रक की चपेट में आए लोगों में से सिर्फ 13 वर्षीय मुस्कान की जान बच गई। हालाकि उसे गंभीर हालत में जिला अस्पताल में भर्ती कराया है। जहां उसका उपचार किया जा रहा है।

पलेरा से पहुंचे संबंधियों को सौंपे शव
हादसे के बाद पुलिस और प्रशासन के अधिकारी मौके पर पहुंचे। ट्रक के नीचे दबे लोगों को बाहर निकालने के लिए जेसीबी मशीन बुलानी पड़ी। जेसीबी मशीन से ट्रक को नीचे दबे लोगों को निकाला गया, लेकिन तब तक बहुत देर हो चुकी थी। हादसे का कारण ओवरलोड ट्रक, अनियंत्रित गति और सडक़ किनारे लाइन बिछाने की गई खुदाई मानी जा रही है। मृतकों के संबंधी पलेरा से लोहगढिय़ा समाज के लोग घटना की जानकारी लगते ही पहुंचे। पुलिस ने पोस्टमार्टम के बाद शव उन्हें सौंपे। फरार अज्ञात ट्रक चालक के खिलाफ केस दर्ज करने के साथ ही पुलिस सडक़ किनारे खुदाई करने वाली कंपनी को नोटिस देने की तैयारी कर रही है।

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें