comScore
Dainik Bhaskar Hindi

रोमानिया: सरकार के विरोध में 11 हजार लोगों का प्रदर्शन, 24 पुलिस अधिकारी समेत 440 घायल

BhaskarHindi.com | Last Modified - August 12th, 2018 11:29 IST

873
1
0
रोमानिया: सरकार के विरोध में 11 हजार लोगों का प्रदर्शन, 24 पुलिस अधिकारी समेत 440 घायल

News Highlights

  • रोमानिया की राजधानी बुचारेस्ट में सरकार के खिलाफ प्रदर्शन।
  • प्रदर्शन करने के लिए जुट करीब 11 हजार लोग।
  • पुलिस ने लोगों को रोकने के लिए आंसू गैस, वॉटर केनन का इस्तेमाल किया।


डिजिटल डेस्क, बुचारेस्ट। रोमानिया की राजधानी बुचारेस्ट में सरकार के खिलाफ प्रदर्शन करने के लिए जुट करीब 11 हजार लोगों पर पुलिस ने जमकर लाठीचार्ज किया। रातभर चले इस प्रदर्शन में पुलिस ने लोगों को रोकने के लिए आंसू गैस, वॉटर केनन का इस्तेमाल किया। इस दौरान 24 पुलिस अफसर और 440 से ज्यादा लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। जिसके बाद सभी घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया। हालात बिगड़ता देख यहां आपात सेवा की घोषणा कर दी गई है। पूरे मामले को लेकर राष्ट्रपति क्लाउस जोहानिस का कहना है कि पुलिस ने लोगों के साथ बहुत निर्दयता दिखाई। हालांकि सुरक्षा अधिकारियों ने कहा कि यह राज्य हिंसा थी और वे लोग केवल हमले पर प्रतिक्रिया दे रहे थे।

 

 

Image result for Thousands protest Romania diluting fight against corruption]

 

 


सरकार के विरोध में प्रदर्शन कर रहे सभी प्रदर्शनकारी संसद अध्यक्ष लिवियु ड्रेगनिया और प्रधानमंत्री विओरिका डानसिला के इस्तीफे की मांग कर रहे हैं। गौरलतब है कि पिछले साल भी भ्रष्टाचार रोधी कानूनों को खत्म करने के सरकार के प्रयास से नाराज हजारों लोगों ने रोमानिया के प्रमुख शहरों में मार्च निकाला था। राजधानी बुखारेस्ट स्थित प्रमुख सरकारी स्थल पर रैली का आयोजन किया गया था वहां तापमान के शून्य से नीचे होने के बावजूद भी करीब 3,000 लोग एकत्रित हुए। प्रदर्शनकारी जो वाम की ओर झुकाव रखने वाली सोशल डेमोक्रेटिक सरकार से अपना कदम वापस लेने की मांग कर रहे हैं वे चिल्ला रहे थे ‘हम विरोध कर रहे हैं, हम पीछे नहीं हटेंगें। ’‘सोशल डेमोक्रेटिक’ पिछले साल दिसंबर में ही सत्ता में आई थी। टिमिसोआरा में 3,000 और क्लजु और सिबियु में 2,500 लोगों सहित देश के अन्य हिस्सों में 8,000 लोग विरोध प्रदर्शन में शामिल हुए।  

 

 

 

Related image

 

 

 

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ई-पेपर