comScore

शिवसेना नेता प्रियंका चतुर्वेदी-कांग्रेस नगरसेविका को धमकी, ट्विटर पर लिखा था ‘गोली मार दूंगा’

शिवसेना नेता प्रियंका चतुर्वेदी-कांग्रेस नगरसेविका को धमकी, ट्विटर पर लिखा था ‘गोली मार दूंगा’

डिजिटल डेस्क, मुंबई। शिवसेना नेता प्रियंका चतुर्वेदी और कांग्रेस नगरसेविका शीतल म्हात्रे को ट्वीटर पर गोली मारने की धमकी देने वाले आरोपी के खिलाफ पुलिस ने एफआईआर दर्ज की है। म्हात्रे की शिकायत पर एमएचबी पुलिस ने आशीष द्विवेदी नाम के ट्विटर यूजर के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है। आरोपी के खिलाफ पुलिस ने आईपीसी की धारा 506(2) के तहत मामला दर्ज किया है। चतुर्वेदी ने कहा कि मैंने दीपावली की बधाई देते हुए ट्वीट किया था जिस पर आरोपी ने अपशब्दों का इस्तेमाल करते हुए धमकाने वाला ट्वीट किया। आरोपी ने धमकी भरे ट्वीट में म्हात्रे और चतुर्वेदी दोनों को टैग किया था। ट्वीट देखने के बाद म्हात्रे ने मामले की शिकायत पुलिस से की। चतुर्वेदी ने ट्वीट कर एफआईआर दर्ज कराने में मदद के लिए म्हात्रे और राहुल कनल नाम के पार्टी कार्यकर्ता का धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा कि मतभेद स्वीकार किए जा सकते हैं लेकिन इस तरह की धमकियां नहीं। चतुर्वेदी ने धमकी भरा ट्वीट करने वाले आरोपी के ट्वीट को साझा भी किया है। पुलिस को भी धमकी भरे ट्वीट की तस्वीर सबूत के रुप में सौंपी गई है। एफआईआर दर्ज करने के बाद पुलिस आरोपी की तलाश में जुटी हुई है।     

बैंक में घूसे चोरों को मिले सिर्फ 800 रुपए

उधर मालाड के मार्वे रोड इलाके में स्थित कपोल बैंक कॉपरेटिव बैंक में पहुंचे चोरों के हाथ सिर्फ 800 रुपए लगे। चोर बैंक की तिजोरी नहीं खोल पाए इसलिए कैशियर के ड्रावर में रखे पैसे लेकर भाग निकले। जाते जाते चोर सीसीटीवी का डिजिटल वीडियो रिकॉर्डर (डीवीआर) भी अपने साथ ले गए। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) ने साल 2014 में कपोल बैंक के संचालक मंडल को बर्खास्त कर प्रशासक की नियुक्ति कर दी थी। साल 2017 से खाताधारकों को छह महीने में सिर्फ 3 हजार रुपए निकालने की छूट दी गई है। इसलिए बैंक में ज्यादा पैसे नहीं रहते। बैंक रहिवासी सोसायटी में है इसलिए इसमें सुरक्षा रक्षक भी तैनात नहीं किया गया है। सोसायटी मे भी सिर्फ दिन में ही सुरक्षा रक्षक तैनात होता है। चोरी का खुलासा बुधवार को तब हुआ जब दीपावली की छुट्टियों के बाद कर्मचारी ने बैंक खोला। बैंक के शटर का ताला टूटा हुआ था साथ ही कैशियर के ड्रावर से 800 रुपए गायब मिले। मालाड पुलिस ने आईपीसी की धारा 457 और 380 के तहत चोरी का मामला दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है। आसपास के इलाके में भी सीसीटीवी कैमरे न होने के चलते आरोपियों की पहचान में मुश्किल आ रही है।   

पेशाब करने से रोका तो ले ली जान

वहीं घर के बाहर पेशाब करने से रोकने पर नाराज एक शख्स ने दंपति पर जानलेवा हमला कर दिया। हमले में नंदलाल कनौजिया नाम के शख्स की मौत हो गई जबकि उनकी पत्नी उर्मिला बुरी तरह जख्मी है। वारदात गोरेगांव में स्थित बाबा सिंह चाल में हुई। गुरूवार सुबह चार बजे के करीब उर्मिला पानी भरने के लिए उठीं थीं। वे पानी भर रहीं थीं इसी दौरान पड़ोस में रहने वाला अमित सौरभ नाम का आरोपी नशे में धुत होकर वहां आया और पास में ही खड़े होकर पेशाब करने लगा। उर्मिला ने आपत्ति जताई तो आरोपी ने उनसे गालीगलौच शुरू कर दी। आवाज सुनकर नंदलाल भी मौके पर पहुंच गए। इसके बाद अमित ने अनिल मिश्रा नाम के अपने साथी के साथ मिलकर कनौजिया दंपति पर धारदार हथियार से हमला कर दिया। बुरी तरह जख्मी दंपति को इलाके के कांदीवली के शताब्दी अस्पताल ले जाया गया लेकिन दाखिल करने से पहले ही डॉक्टरों ने नंदलाल को मृत घोषित कर दिया। वहीं हालत गंभीर होने के चलते उर्मिला को इलाज के लिए नायर अस्पताल में भेज दिया गया। बीच बचाव के दौरान पड़ोस में रहने वाले जावेद भी जख्मी हो गए। पड़ोसियों के मुताबिक आरोपियों और कनौजिया परिवार के बीच पहले भी विवाद हुए थे। वारदात के बाद दोनों आरोपी फरार हो गए। अमित और अनिल नाम के दोनों आरोपी मूल रूप से बिहार के बताए जा रहे हैं। वे यहां किराए पर रह रहे थे। लेकिन मकान मालिक के पास उनसे जुड़ी कोई जानकारी नहीं है। पुलिस मकान मालिक भानुप्रताप सिंह और घर दिलाने वाले बिचौलिए जोगिंदर जायसवाल से पूछताछ कर रही है। आरोपी सिंह का ही ऑटोरिक्शा चलाया करते थे। मालाड पुलिस ने दोनों आरोपियों के खिलाफ हत्या और हत्या की कोशिश का मामला दर्ज कर उनका तलाश शुरू कर दी है।  
 

कमेंट करें
bagZR