comScore

टेंडर हासिल करने के लिए दूसरी कंपनी के मोबाइल टावर में लगाई आग, 3 गिरफ्तार

टेंडर हासिल करने के लिए दूसरी कंपनी के मोबाइल टावर में लगाई आग, 3 गिरफ्तार

डिजिटल डेस्क, नागपुर। व्यापारिक प्रतिस्पर्धा के चलते एक कंपनी के 3 संचालकों ने मोबाइल कंपनी का टॉवर फूंक दिया। यह सब टेंडर हासिल करने के लिए किया गया। दंपति समेत 4 आरोपियों के खिलाफ शुक्रवार को देर रात कोराड़ी थाने में मामला दर्ज कर 3 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है।

पुलिस के मुताबिक आरोपी अभिषेक ओमप्रकाश तिवारी (35), राजेश गरड (40) और उसकी पत्नी सरिना गरड (35), तीनों मानकापुर निवासी हैं। यह तीनों यूनिक इंफ्रा प्राइवेट लिमिटेड नामक कंपनी के संचालक हैं। उनकी कंपनी मोबाइल टॉवर लगाने का काम करती है। इसी क्षेत्र में एआर फार्म टेली वेंचर प्राइवेट लिमिटेड कंपनी भी सक्रिय है। इस कंपनी को इंडस पावर कंपनी के तरफ टॉवर लगाने का ठेका दिया गया है, जबकि यूनिक इंफ्रा कंपनी के संचालक चाहते थे कि यह ठेका उनकी कंपनी को मिले।

एआर कंपनी का नाम खराब करने के लिए यूनिक कंपनी के संचालकों ने षडयंत्र रचा। 23 से 25 अक्टूबर 2017 के बीच एआर कंपनी के दहेगांव रंगारी में गायत्री गर्ल्स स्कूल परिसर में लगाए गए टॉवर को पेट्रोल डालकर आग लगा दी गई।

घटना को मुस्ताक अहमद सैयद, महादुला, कोराडी निवासी की मदद से अंजाम दिया गया। घटना में संबंधित कंपनी को 22 लाख का नुकसान हुआ है, जिसकी थाने में शिकायत की गई थी। जांच पड़ताल में यूनिक कंपनी के संचालक अभिषेक, राजेश, सरिना और मुस्ताक को जिम्मेदार ठहराया गया है। प्रकरण दर्ज कर सरिना को छोड़ बाकि आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है।

कमेंट करें
L1geG