comScore
Election 2019

करंट लगाकर किया टाइगर का शिकार -3 आरोपी गिरफ्तार

करंट लगाकर किया टाइगर का शिकार -3 आरोपी गिरफ्तार

डिजिटल डेस्क, सतना। यहां जंगल में नाला के पास फंदा में  करंट फैलाकर आरोपियों ने एक बाघ का शिकार किया ,और बाघ को घटना स्थल पर ही छोड़कर भाग गए। वन विभाग ने तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। इस संबंध में वन विभाग द्वारा बताया गया है कि मझगवां वन रेंज की अमिरती बीट में बीती रात  शिकारियों के जाल में फंसने से तकरीबन 3 साल के टाइगर की मौत हो गई। सीएफ राजीव मिश्रा ने बताया कि इस सिलसिले में पुलिस की मदद से अमिरती निवासी 3 आरोपियों को गिरफ्तार करते हुए पूछताछ शुरू की गई है। पकड़ में आए आरोपी शिकारी रंजन कोल , राजेश मवासी और ज्वाला सतनामी ने माना कि सांभर या फिर चीतल  के शिकार के लिए उन लोगों ने वन कक्ष क्रमांक 108 के डुडहा  नाला में करंट फैलाया था। घटनास्थल सकभंगा नर्सरी से महज 200 मीटर के फासले पर है। वन नियमों के तहत बाघ का अग्निदाह करा दिया गया।

भागे बाघ की दहाड़ से

शिकारी आरोपियों ने बताया कि उन्हें टाइगर के फंसने की आशंका नहीं थी। शिकारियों ने रात 8:30 बजे नाले में करंट फैलाया और वही छुप गए। रात तकरीबन 11:15 बजे 3 साल का मेल टाइगर पानी पीने के लिए मौके पर पहुंचा। करंट लगते ही उसने जोर की दहाड़ मारी और वहीं पर गिर गया।  दहाड़ से भयभीत शिकारी मौके से भाग गए। उधर नर्सरी में मौजूद गश्ती  चौकीदारों ने जब रात में सर्च  शुरू की तो टाइगर का शव नाले के पास मिला। 

पीएम के बाद अग्नि दाह

बताया गया है कि सोमवार को सरभंगा नर्सरी में संजय टाइगर रिजर्व के  फील्ड डायरेक्टर विंसेंट और सीएफ राजीव मिश्रा की मौजूदगी में टाइगर का पोस्टमार्टम व्हाइट टाइगर सफारी के राजेश तोमर और डॉक्टर तय्यब अली के पैनल से कराया गया और फिर वन नियमों के तहत अग्निदाह करा दिया गया।
 

Loading...
कमेंट करें
aUzKL
Loading...