comScore

कान्हा नेशनल पार्क  : मोचा गांव में बाघ का मूवमेंट, दहशत में ग्रामीण

July 20th, 2018 19:00 IST
कान्हा नेशनल पार्क  : मोचा गांव में बाघ का मूवमेंट, दहशत में ग्रामीण


डिजिटल डेस्क, मंडला।  बारिश के सीजन में कान्हा नेशनल पार्क के कोर एरिया में पर्यटन सुरक्षा दृष्टि से बंद कर दिया जाता हैै लेकिन बफर में पर्यटको को सैरसपाटा के खुला है। यहां के मोचा गांव में एक बाघ का मूवमेंट देखा जा रहा है।
रहवासी इलाके में होने के कारण ग्रामीणों में दहशत बनी हुई है। वहीं राह से निकलने वाले लोग व अपनी जान की परवाह करें बिना बाघ को देखने के लिए पहुंच रहे है। लगातार बाघ की मूवमेंट को देखते हुए केटीआर ने ग्रामीणों को सर्तक किया है।

बताया गया है कि बीते कुछ दिनो से केटीआर के बफर जोन के गांव मोचा के गंधार नदी के पास मेल टाइगर देखा जा रहा है। यहां पास से ही एक कच्चा मार्ग है। जिसमें कार और जिप्सी सवार बाघ को देखने के लिए पहुंच रहे है। इतना ही नहीं बाइक से भी युवक मौके पर पहुंच रहे है। यहां सुरक्षा की दृष्टि से बाघ पर नजर नहीं रखी जा रही है। जिससे अनहोनी घटना होने का डर बना हुआ है। बाघ की फितरत होती है कि वह अपना एरिया स्वयं बनाता है। जहां वह शिकार कर सकें। इसके कारण इस क्षेत्र यह मेल टाइगर बफर जोन में देखा जा रहा है। प्रत्यक्षदर्शियों ने मेल टाइगर को वीडियों भी बनाया है। जिसमें बाघ ने बंदर को मुंह दबाया है और वह कच्चा मार्ग पार कर रहा है। बाघ को देखते ही कार में सवार लोगो की मुंह से चीख में सुनाई देती है। हाल ही में जून माह मोचा के मानेगांव के एक व्यक्ति को इसी मेल टाइगर द्वारा घायल कर दिया गया, शुक्रवार सुबह भी मेल टाइगर मोचा के गंघार नदी के पास देखा गया। कान्हा पार्क प्रबंधन द्वारा टी टू मेल टाइगर को कोर एरिया में पहुचाने का प्रयास किया जा रहा है। जिससे की कोई घटना घटित न हो सकें।

कमेंट करें
47FjP