comScore

खेत में दिखा बाघ, गांववालों के छूटे पसीने

February 13th, 2019 15:23 IST
खेत में दिखा बाघ, गांववालों के छूटे पसीने

डिजिटल डेस्क,उमरिया। टाईगर रिजर्व के बाघों का  मूवमेंट अब गांवों के आस पास होने लगा है । गत शाम यहां के एक गांव में बाघ खेतों में घुस आया और इसी खेत से गांव लगा होने से पूरे गांव में दहशत फैल गई । माना जा रहा है कि आसान शिकार तथा बाघों की बढ़ती संख्या के कारण टेरिटरी झगड़े के कारण बाघ गांव की ओर कूच करने लगे हैं । बांधवगढ़ टाईगर रिजर्व के बाघ हफ्तेभर के भीतर दूसरी बार आवासीय क्षेत्र में लाइव हुए हैं। नौगवां के बाद नया मामला मझखेता का है। यहां ग्राम पंचायत के पटोरीहार इलाके में बाघ खेतों में जा घुसा। खेत के पास ही किसान का परिवार निवासरत था। बाघ को देखते ही जहां वे लोग सन्न रह गए। वहीं यह खबर गांव में फैलते ही लोगों का हुजूम एकत्रित हो गया। सूचना पर वन विभाग की टीम ने गांव में डेरा डाला। तब जाकर स्थिति काबू में हुई।
गांव में मचा हड़कंप
जानकारी अनुसार घटना कल सुबह की है। ग्राम पंचायत मझखेता के पटोरी हार में एक किसान परिवार खेत में घर बनाकर रह रहा था। सुबह-सुबह जंगल से लगे इलाके में बाघ की आहट मिली। लोगों को शंका हुई कि घर समीप बंधे मवेशियों को निवाला बनाने बाघ का मूवमेंट हुआ है। लोगों द्वारा हो हल्ला  कर टीन व थाली पीटना शुरु कर दिया गया। भारी संख्या में एकत्रित होकर बाघ को खदेडने ग्रामीण दौड़े तब जाकर बाघ जंगल की तरफ भागा।
नहीं पहुंची समय पर टीम
मझखेता ग्राम के निवासी कोदू सिंह, टोमन साहू, हनुमत लाल साहू, केशव साहू, गोकुल यादव ने बताया कि सुबह-सुबह हल्ला सुनकर उन्हें बाघ की खबर मिली थी। सभी लोगों ने एक जुट होकर लाठी डंडा तथा बर्तन से आवाज करते हुए उसे दूर करने का प्रयास कर रहे थे। टाइगर की मौजूदगी होने की जानकारी वन अमले को तुरंत दी गई लेकिन वन विभाग की टीम समय पर पहुंचने मेें नाकाम रही। एक मात्र बीटगार्ड ही पहुंच पाया। सभी ग्रामीणों ने अपने परिवार व अपने मवेशियों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए किसी कदर बाघ को जंगल की तरफ खदेड़ा। घटना के संबंध में बांधवगढ़ टाईगर रिजर्व के संचालक मृदुल पाठक का कहना था सूचना पर हमने स्थानीय वन अमले को गांव में भेजा है। सर्चिंग व टे्रकिंग का कार्य जारी है।

कमेंट करें
U8wlM