comScore

अपने सपनों को साकार करने के लिए अपनाएं ये सक्सेस मंत्र

August 31st, 2017 15:51 IST
अपने सपनों को साकार करने के लिए अपनाएं ये सक्सेस मंत्र

डिजिटल डेस्क,भोपाल। अपनी जिंदगी में हर कोई सफलता की ऊंचाईयों को छूना चाहता है, हर कोई एक अलग मुकाम हासिल करना चाहता है, लेकिन कुछ वजहों से वो अपनी मंजिल तक नहीं पहुंच पाता है और अपने लक्ष्य से दूर होता जाता है। 

अपना लक्ष्य हासिल करने के लिए कुछ चीजों का अपना कर आप आसानी से सपला पा सकते हैं। आपने सुना होगा 'slow and steady wins the race' तो इसी तरह अपना लक्ष्य जानें और हर कदम बिना रुके अपने लक्ष्य की तरफ आगे बढ़ें। इसके लिए जरुरी है कुछ चीजें जो आपके इस सफर को आसान बनाने में आपकी मदद करेंगी।

लक्ष्य निर्धारित करें

लक्ष्य निर्धारित करें की आप करना क्या चाहतें हैं। बिना लक्ष्य का व्यक्ति उस मेंढ़क की तरह होता है जो कुएं को अपना संसार समझ लेता है। सभी Successful लोगों  का लक्ष्य पूरी तरह से केन्द्रित होता है। वो अच्छे से जानते है कि वो क्या चाहते है और उसे हासिल करने के लिए जीवन के हर दिन अपना पूरा ध्यान लगाते है। लक्ष्य को तय करने की क्षमता ही सफलता का मूल मंत्र है। अपने जीवन के Important Goals  की सूची तैयार करें । हर काम के साथ अपने लक्ष्य की समीक्षा करें की क्या वो आपको आपके लक्ष्य तक ले जा रहा है या नहीं, अगर नहीं तो उसे त्याग कर अपने लक्ष्य को पाने के दूसरे तरीके अपनाएं।

अनुशासन

कहा जाता है कि Discipline and hard work is a key to success ये बात शत प्रतिशत सही है और बिना अनुशासन कोई व्यक्ति सफलता की सीढ़ी नहीं चढ़ सकता ।लोगो के मन में ये गलत धारणा है कि आजादी का अर्थ मनमुताबिक काम करना होता है, हमारा स्वभाव कुछ ऐसा ही है की हम नतिजे की परवाह किये बिना अपने अनुसार सभी कामों को करना चाहते है। अनुशासन की बंदिशे हमें नीचे गिराने के बजाये ऊपर उठती है।

मेहनत और एकाग्रता

कामयाबी मेहनत से मिलती है इस धरती पर बिना मेहनत के किसी को कुछ भी प्राप्त नहीं हो सका है। मेहनत सफल व्यक्तियों का बहुत बड़ा गुण है।मन का एक विषय में केन्द्रित होने को ही 'एकाग्रता' कहते है। आजतक मानव ने जीतने भी अविष्कार और खोजें या अविश्वसनीय कार्य किये है वे सब मन की एकाग्रता और उनकी मेहनत के कारण ही संभव हो पाया है। आप भी अपने मन की एकाग्रता का उपयोग करके सफलता प्राप्त कर सकते है।

प्रबल इच्छाशक्ति

प्रबल इच्छा शक्ति इंसान को सफलता दिलाने में महत्वपूर्ण है। मनुष्य का मष्तिष्क जिन वस्तुओं के बारे में सोच सकता है या जिन चीजों पर विश्वास कर सकता है। उसे प्राप्त भी कर सकता है। इतने मजबूत बनिए की आपकी मन की इच्छा को कोई भी ख़त्म न कर सके। अपने रास्ते से न भटकें और लक्ष्य पूरा होने तक किसी भी चीज को अपनी इच्छाशक्ति पर हावी न होने दें।

समय का सदुपयोग

समय किसी के लिए नहीं रुकता इसके लिए जरुरी है कि समय को व्यवस्थित किया जाए। अगर आप बेकार की चीजों में अपना समय बर्बाद करेगें तो समय आपको बर्बाद कर देगा, इस बात को याद रखें।समय एक ऐसा धन है, जिसको नष्ट करने का अर्थ है अपनी शक्ति को नष्ट करना और सामर्थ्य को खो देना तथा सफलता की ऊँचाइयों से स्वयं को नीचे धकेलना औए सुनहरे अवसरों को सदा सदा के लिए विदा कर देना। समय किसी की भी प्रतीक्षा नहीं करता है। सांसे थम जाती है। जीवन रुक जाता है पर समय नहीं रुकता।

आलस्य का त्याग करें

व्यक्ति को आलस्य को त्याग कर फुर्ती से काम को करना चाहिए और निश्चित समय पर कार्य को करने की आदत डालनी चाहिए, जो भी काम शुरु करें उसे कल पर टालने की आदत त्याग दें और उसे निर्धारित समय में पूरा करने की कोशिश करें।

कर्म पर विश्वास और ईमानदारी

कब तक आप अपने भाग्य को कोसते रहेंगे और किसी साधारण पेड़ के नीचे खड़े होकर 'आम' के टपकने की कल्पना करते रहेंगे। भय से मुक्त जीना ही जीवन है । इतिहास गवाह है की बड़े-बड़े कामयाब महापुरुषों को भी जीत से पहले हताश कर देने वाली बाधाओं का सामना करना पड़ा था और उन्हें जीत इसीलिए मिली क्योंकि उन्होंने कभी भी असफलताओं से मायूस होकर हार नहीं मानी और अपने और अपने काम के प्रति ईमानदारी दिखाई और अपने काम पर विश्वास कर उन्हें ये जीत हासिल हुई।

सकारात्मक दृष्टिकोण और आत्म विश्वास

हमारी चेतना भावनाओं की गहराई की तलाश में भटकती रहती है।नकारात्मक भावनाएं हमेशा ही सकारात्मक भावनाओं की अपेक्षा अधिक ध्यान आकर्षित करती है और इसीलिए अधिकांश लोग नकारात्मक भावनाओं की गहराई तक बिना किसी कोशिश के ही पहुँच जाते है जबकि अपने सकारात्मक दृष्टिकोण अपनाने में उन्हें काफी समय लग जाता है। लक्ष्य प्राप्ति के लिए जरुरी है कि आप खुद पर विश्वास बनाए रखें किसी और खुद को भी अपनी काबिलियत पर संदेह न होने दें। नार्मन विसेंट पीले ने कहा है, 'हमारे सामने मौजूद किसी भी तथ्य से ज्यादा महत्वपूर्ण उस तथ्य के बारे में हमारा नजरिया होता है, क्योंकि सफलता या असफलता उसी से तय होती है।'

जब लोग आपसे कहें कि आप अपना लक्ष्य प्राप्त नहीं कर पाएंगे, तो बहरे बन जाएं। नकारात्मक लोगों की बातों को न सुनें, क्योंकि वो आपके सपने और इच्छाओं को मार देते हैं। हमेशा सकारात्मक सोचें।
 

कमेंट करें
jZFM2