comScore

1.25 करोड़ रुपए के इनामी शीर्ष माओवादी ने किया सरेंडर

February 13th, 2019 13:24 IST
1.25 करोड़ रुपए के इनामी शीर्ष माओवादी ने किया सरेंडर

डिजिटल डेस्क, कुमरम भीम आसिफबाद। तेलंगाना से जुड़े एक और माओवादी नेता ने पुलिस के सामने आत्मसमर्पण कर दिया है। निर्मल जिले के सारंगपुर मंडल मुख्यालय निवासी ओग्गु सट्वाजी उर्फ (सुधाकर/बुर्यार/किरण) ने दल में शामिल  हुई अपनी पत्नी नीलिमा उर्फ माधवी के साथ रांची में पुलिस के सामने आत्मसमर्पण कर दिया है। इस पर 1.25 करोड़ का इनाम था जबकि ओग्गु सटबाजी की पत्नी नीलिमा पर भी 10 लाख का इनाम सरकार ने घोषित कर रखा था।

पत्नी के साथ किया सरेंडर
बता दें कि ओग्गु सट्वाजी 2013 से माओवादी केंद्रीय पोलितब्यूरो सदस्य रहते हुए सेंट्रल मिलटरी सदस्य, बिहार-झारखंड स्पेशल एरिया कमेटी का प्रभारी भी रहा है। पिछले कुछ समय से झारखंड में माओवादी कार्यकलापों के विस्तारण और क्रियान्वयन में सक्रिय रहते हुए कई बड़ी घटनाओं को भी अंजाम दिया। 2017 में अपने भाई नारायण के रांची में पकड़े जाने और निर्मल पुलिस द्वारा अपनी मां पर दबाव बनाए जाने तथा माओवादी पार्टी में पैदा हुए आंतरिक संकट को देखते हुए सुधाकर द्वारा पत्नी के साथ पुलिस के सामने आत्मसमर्पण करने की जानकारी सामने आ रही है।

पत्नी पर भी सरकार ने रखा 10 लाख का इनाम
इस माओवादी नेता पर 1.25 करोड़ रुपए नगद का इनाम है । उसकी पत्नी भी माओवादी है। तेलंगाना के रहने वाले बी.सुधाकर के आत्मसमर्पण की प्रक्रिया चल रही है। सुधाकर की पत्नी नीलिमा पर भी 10 लाख रुपए का इनाम है। 1986 में सुधाकर को कर्नाटक की गुलबर्गा पुलिस ने गिरफ्तार किया था और 1989 के आखिर तक वह जेल में रहा। परंतु मर्री चेन्नारेड्डी के मुख्यमंत्री बनने के बाद पीपुल्सवार पर लगा प्रतिबंध हटा देने से वे बाहर आ गए। तब से घर पर रहकर ही निर्मल में एक विशाल स्थूप का निर्माण करवाया। बाद में सरकार के नक्सलियों पर प्रतिबंध लगने पर वह फिर से 1991 में माओवादियों के साथ शामिल हो गया। दोनों नक्सलियों के सरेंडर करने की जानकारी पुलिस द्वारा दी गई है।

कमेंट करें
ZaHqG