comScore

शुक्र का धनु राशि में गोचर, क्या होगा प्रभाव?

January 18th, 2019 15:20 IST
शुक्र का धनु राशि में गोचर, क्या होगा प्रभाव?

डिजिटल डेस्क। ज्योतिषशास्त्र में शुक्र को लाभ,सौंदर्य,ख्याति और सुख-सुविधा का कारक माना जाता है। राशिचक्र की दूसरी राशि वृषभ एवं सातवीं राशि तुला शुक्र की राशियां मानी जाती हैं। शुक्र की प्रत्येक गतिविधि ज्योतिषविदों के लिये बहुत विशेष होती है। 29 जनवरी 2019 को 3:18 प्रातः से शुक्र वृश्चिक राशि से निकलकर धनु राशि में प्रवेश कर रहे हैं। जो 24 फरवरी 2019 को रात 12:30 तक रहेगा। जहां पर शनि पहले से ही गोचर कर रहे हैं। राशिनुसार शुक्र आपको आपकी राशि के अनुसार कैसे प्रभावित करेंगें आइये जानते हैं।

मेष राशि 

आपकी राशि से शुक्र का परिवर्तन नवम भाव में हो रहा है। आपके लिये यह समय भाग्योन्नति के योग बना रहा है। भाग्य स्थान में शुक्र व शनि एक साथ गोचर करेंगें जो दोनों आपस में मित्र हैं। कार्यक्षेत्र में आपके लिये उन्नति के योग हैं। भाई बहनों का भी आपको पूर्ण सहयोग मिल सकता है। धार्मिक कार्यों के प्रति भी आपका लगाव बढ़ने या यात्रा करने के योग हैं। प्रेम जीवन की बात करें तो संबंधों में स्थिरता रहेगी।


 

वृषभ राशि  

वृषभ राशि के स्वामी स्वयं शुक्र ही हैं जो आपकी राशि से अष्टम भाव में रहेंगे। अष्टम भाव में शनि व शुक्र के साथ गोचर करने से यह समय आपके लिये छोटी यात्राओं के योग बना रहा है। वैसे शारीरिक रूप से आपको कुछ कष्ट उठाने पड़ सकते हैं। स्वास्थ्य भी कुछ नरम-गरम रह सकता हैं। शत्रु पक्ष भी आप पर हावी हो सकता है। प्रतिस्पर्धियों से चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है। कुल मिलाकर इस समय आपको थोड़ा संभलकर रहने की आवश्यकता है।


 

मिथुन राशि  

आपकी राशि से शुक्र सप्तम भाव में शनि के साथ गोचर हो रहा हैं। यह समय आपके लिये दांपत्य जीवन में स्थिरता लाने वाला हैं। जो अविवाहित जातक परिणय सूत्र में बंधने के इच्छुक हैं उन्हें इसके लिये कुछ समय और लग सकता है लेकिन उनके विवाह संबंधी बात जरूर आगे बढ़ सकती है। इस समय आपके लिये कोई अच्छा संबंध आ सकता है। वैसे इस समय अविवाहित प्रेमी युगलों में आपसी तालमेल में कमी आ सकती है। साथी की नाराज़गी भी झेलनी पड़ सकती है। जो जातक किसी के प्रेम में बंधना चाहते हैं उनके लिये प्रेम के योग बन रहे हैं। शारीरिक सुख के साथ-साथ मानसिक शांति आपको मिल सकती है।


कर्क राशि

कर्क राशि वालों के लिये शुक्र राशि से छठे स्थान में प्रवेश कर रहे हैं जहां पर शनि पहले से ही उपस्थित हैं। आपके लिये यह परिवर्तन सौभाग्यशाली कहा जा सकता है। विशेषकर व्यवसायी एवं विद्यार्थियों के लिये अपने प्रतिस्पर्धियों पर विजय प्राप्ति के योग बन रहे हैं। आपके स्वास्थ्य में भी सुधार अनुभव कर सकते हैं। यात्रा के योग भी इस समय आपके लिये बन सकते हैं। और साथ में धन लाभ के भी योग हैं। वैसे इस समय आपको सुख का अभाव हो सकता है, माता के लिये यह समय कुछ कष्टकारी हो सकता है


सिंह राशि 

आपकी राशि से शुक्र पंचम भाव में गोचर करेंगें। शनि के साथ शुक्र के आने से यह समय आपके लिये लाभकारी योग बना रहा हैं। विशेषकर जो जातक किसी प्रकार की परीक्षा दे रहे हैं या फिर कहीं साक्षात्कार दे रहे हैं तो उन्हें सफलता मिलने के योग हैं। इस समय संतान पक्ष की ओर से भी आप संतुष्ट रह सकते हैं। प्रेम जीवन भी इस समय सुखद रह सकता हैं। कार्यक्षेत्र में उन्नति की आशा भी कर सकते हैं। वैसे एक अज्ञात सा भय भी आपको रह सकता है।


कन्या राशि

कन्या राशि के जातकों के लिये शुक्र का परिवर्तन सुखभाव मे हो रहा है जहां शनि गोचर कर रहे हैं। इस समय आपके सुख में वृद्धि होने के योग हैं। यदि लंबे समय से मकान या वाहन की खरीददारी का विचार बना रहे हैं तो इस समय आपको सफलता मिल सकती है। कार्यक्षेत्र में भी आपके लिये उन्नति के योग बन रहे हैं। भाग्य का भी आपको पूरा सहयोग मिलेगा। वैसे इस समय आपके खर्चों में भी बढ़ोतरी होने के योग हैं।


तुला राशि

आपकी राशि से शुक्र तीसरे भाव में प्रवेश कर रहा हैं। शुक्र आपकी राशि के स्वामी भी हैं। पराक्रम भाव में शनि के साथ गोचर करने से यह समय आपके लिये कुछ प्रतिस्पर्धात्मक रह सकता है। आपके भाई-बहनों से भी आपके रिश्ते कुछ अच्छे नहीं कहे जा सकते। कहीं न कहीं ईर्ष्या की भावना रिश्तों में दरार का काम कर सकती है। इस समय आपके लिये यात्रा के योग भी बन रहे हैं लेकिन यह यात्राएं कष्टदायी भी हो सकती हैं। इस समय संभव हो तो अपनी यात्रा स्थगित रखे। अपने स्वास्थ्य का भी ध्यान रखने की आवश्यकता आपको रहेगी।


वृश्चिक राशि 

आपकी राशि से शुक्र दूसरे भाव में आ रहे हैं। धन भाव में शुक्र के आने से इस समय आपके लिये धन वृद्धि के योग बन रहे हैं। लंबे समय से यदि किसी बिमारी से परेशान हैं तो राहत मिलने की प्रबल संभावनाएं हैं। वैसे इस समय दांपत्य जीवन में आपको कुछ संघर्ष करना पड़ सकता है आपको रिश्तों में अस्थिरता का सामना करना पड़ सकता है। लेकिन अविवाहित जातकों का प्रेम जीवन अच्छा रह सकता हैं साथी के साथ आपके संबंध मधुर रह सकते हैं। आपको धन प्राप्ति तो होगी लेकिन साथ ही खर्चे भी अधिक बढ़ सकते हैं। आर्थिक स्थिति अच्छी बनाये रखने के लिये खर्चों पर नियंत्रण बनाये रखने का प्रयास करें।


धनु राशि 

शुक्र आपकी ही राशि में प्रवेश कर रहे हैं। यह समय स्वास्थ्य के विषय में आपके लिये सौभाग्यशाली कहा जा सकता है। इस समय आपकी भेंट कुछ पुराने मित्रों से भी हो सकती है जिससे आपको बहुत प्रसन्नता मिलेगी। व्यवसायी जातकों के लिये प्रतिस्पर्धी चुनौतियां खड़ी कर सकते हैं। इस समय आपके लिये यात्रा के योग भी बनेंगे जो कि आपके लिये लाभकारी रह सकते हैं। पैतृक संपत्ति से भी आपको लाभ मिलने के योग हैं। जो मित्र, सगे-संबंधि दूर रहते हैं उनसे किसी प्रकार का लाभ मिल सकता है।


मकर राशि

आपकी राशि से शुक्र का 12वें स्थान में जा रहे हैं। इस समय कामकाजी जीवन के लिये समय लाभकारी रहने के योग हैं। साक्षात्कार एवं प्रतियोगी परीक्षाओं में सफलता मिल सकती है। प्रेम जीवन भी अच्छा रहने की उम्मीद हैं। विवाहित दंपति संतान संबंधी खुशखबरी को प्राप्त कर सकते हैं। इस समय आपके प्रतिद्वंदि भी कमजोर रहेंगे। कुल मिलाकर शुक्र का यह राशि परिवर्तन आपके लिये शुभ रहेगा।


कुंभ राशि

कुंभ राशि वालों के लिये लाभ का कारक माने जाने वाले शुक्र लाभ स्थान में ही प्रवेश कर रहे हैं, लेकिन लाभ घर में ही शनि के गोचर करने से लाभ और बड सकता हैं। भाग्य का साथ आपको बड सकता है। माता-पिता की ओर से आपको सुख का अनुभव हो सकता है। भौतिक सुख तो आपको मिलेगा लेकिन हो सकता है आप आत्मिक रूप से संतुष्टि का अनुभव ना कर पायें। जिस कार्यों से आपको लाभ प्राप्ति की अपेक्षा है उनमें विलंब हो सकता है,लेकिन बड़े बुजूर्गों से आपको सहयोग मिल सकता है।


मीन राशि 

मीन राशि वालों के लिये शुक्र कर्म स्थान में प्रवेश करेंगे आपके लिये यह समय कार्योन्नति का समय है। यदि किसी नये कार्य का आरंभ करना चाहते हैं तो उसकी योजना बनाने के लिये यह समय एकदम सही है। भाग्य का आपको पूरा साथ मिल सकता है। भाई-बहनों की ओर से भी आपको लाभ हो सकता है। माता पिता की ओर से भी आपको सुख की प्राप्ति होगी। इस समय यात्रा के योग भी बन रहे हैं जो कि लाभकारी रह सकतें हैं। आपके पराक्रम में भी वृद्धि होने के योग हैं।

Loading...
कमेंट करें
dBvQ2
Loading...
loading...