comScore

ट्रिपल तलाक पीड़िता की नेताओं से अपील, एकजुट होकर पास कराएं बिल

January 04th, 2018 13:29 IST
ट्रिपल तलाक पीड़िता की नेताओं से अपील, एकजुट होकर पास कराएं बिल

डिजिटल डेस्क, लखनऊ। सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद भले ही तीन तलाक बिल पास हो गया हो लेकिन राज्यसभा में इसे पास कराना केंद्र सरकार के लिए ढेडी खीर बनता जा रहा है। गुरूवार को राज्यसभा में तीन तलाक पर कानून बनाने का बिल पेश होना है। सदन में तीन तलाक बिल के पेश होने में आ रही दिक्कतों को देखते हुए एक तीन तलाक पीड़िता ने नेताओं से भावुक अपील की है। पीड़िता ने कहा कि सभी नेताओं से मेरा निवेदन है कि इस बिल को एकजुट होकर पास कराएं।

बता दें कि राज्यसभा में बीजेपी को पूर्ण बहुमत नहीं है। केंद्र सरकार के पास 245 सीटों वाली राज्यसभा में 83 सांसद हैं। वहीं लोकसभा में सरकार का समर्थन करने वाली कांग्रेस इसके विरोध में है। इतना ही नहीं कांग्रेस के अलावा कई दल इसके विरोध में है और कुछ संसोधन की मांग कर रही है। सरकार तीन बिल में किसी भी तरह के संसोधन के मूड में नहीं है ऐसे में ये देखना दिलचस्प होगा कि तीन तलाक जैसी कुप्रथा को रोकने वाले इस बिल को सरकार पास करा पाती है या नहीं। 

पीड़िता ने कहा कि राज्यसभा में तीन तलाक बिल पास कराने के लिए सभी नेताओं को सहयोग करना चाहिए। उन्होंने कहा कि अभी तीन तलाक देने वाले पतियों में कोई सुधार नहीं आया है ऐसे लोगों को सख्त सजा देने की जरूरत है। बता दें कि पीड़िता का नाम वारिशा है और उन्हें उनके पति ने इसलिए तलाक दिया है कि उनके पिता ने दहेज में कार नहीं दी थी। वारिशा ने कहा कि भले ही सुप्रीम कोर्ट ने तीन तलाक पर ऐतिहासिक फैसला दिया हो लेकिन मर्द अभी भी सुधरने का नाम नहीं ले रहे हैं। उन्होंने कहा कि ऐसे मर्दो को सजा मिलनी चाहिए। वारिशा ने तीन तलाक को महिला के सम्मान से जुड़ा मुद्दा बताया। उन्होंने कहा कि ये मुद्दा धर्म से जुड़ा नहीं है। उन्होंने कहा कि इस मामले पर धर्म की आड़ लेना गलत है। वारिशा ने तीन तलाक पर सरकार के कदम को उचित बताया। उन्होंने कहा सजा 3 साल से और अधिक होनी चाहिए। वारिशा तीन तलाक बिल का पुरजोर समर्थन करती हैं और इसे मुस्लिम महिलाओं के लिए बेहद ही जरूरी कदम बताती हैं। 

कमेंट करें
7Woh8