comScore

 बाणसागर में डूबे दो बालक, 4 घंटे बाद मिले शव

 बाणसागर में डूबे दो बालक, 4 घंटे बाद मिले शव

डिजिटल डेस्क,सतना। रामनगर थाना अंतर्गत देवदहा गांव के दो लड़कों की बाणसागर में डूबने से मौत हो गई। जिस पर मर्ग कायम कर पुलिस जांच में जुट गई है। मृतकों के शव चार घंटे बाद बरामद किए गए। थाना प्रभारी सतीश मिश्रा ने बताया कि सोनू उर्फ अंबुज कोल 12 वर्ष और रजनीश उर्फ ललवा कोल 13 वर्ष अपने ही गांव के कुछ और लड़कों के साथ नहाने के लिए जंगल के रास्ते दो किलोमीटर चलकर दोपहर करीब 1 बजे बाणसागर बांध पहुंच गए थे। जहां नहाते समय सोनू और ललवा गहरे पानी में डूब गए। यह देखकर उनके साथी घबरा गए और भागकर परिजन व ग्रामीणों को खबर दी तो बड़ी संख्या में लोग मौके पर पहुंचकर बचाव की कोशिश में पहुंच गए। वहीं डायल 100 को सूचित कर पुलिस को बुला लिया। लगभग 4 घंटे के प्रयासों के बाद बच्चों के शव बाणसागर बांध से बाहर निकाले सके और तब मौके पर पंचनामा कार्रवाई कर अस्पताल रवाना कर दिए गए। शवों का पोस्टमार्टम गुरुवार सुबह कराया गया। इस घटना से गांव में मातम पसर गया है।

गला घोट कर की गई थी किशोरी की हत्या
सिंहपुर थाना क्षेत्र के मड़ई गांव में 12 वर्षीय बालिका की हत्या गला घोट कर की गई थी, इस बात की पुष्टि देवेन्द्रनगर अस्पताल में शव का पोस्टमार्टम करने वाले डाक्टर की रिपोर्ट से हो गई है। जिसके आधार पर पुलिस ने अज्ञात आरोपी के विरुद्ध हत्या का मुकदमा पंजीबद्ध कर लिया है। जबकि दुष्कर्म की जांच के लिए स्लाइड बनाकर फॉरेंसिक लैब सागर भेजी गई है।

एसपी ने किया घटना स्थल का मुआयना
इससे पूर्व मंगलवार को पुलिस कप्तान रियाज इकबाल ने गांव पहुंचकर मृतका के घर का मुआयना किया और परिजन से बातचीत की। साथ ही टीआई अरूण मर्शकोले से अब तक सामने आए तथ्यों की जानकारी लेकर जरूरी दिशा-निर्देश दिए। इसके अलावा देवेन्द्र नगर अस्पताल में शव का पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टर और फारेंसिक अधिकारी डा. महेन्द्र सिंह से भी बातचीत की। एसपी के साथ अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक गौतम सोलंकी भी मौजूद रहे।
 

कमेंट करें
TtmIH