comScore
Dainik Bhaskar Hindi

10वीं व 12वीं की परीक्षा दे रहे फर्जी परीक्षार्थी पकड़ाए

BhaskarHindi.com | Last Modified - March 13th, 2019 16:21 IST

1.3k
0
0
10वीं व 12वीं की परीक्षा दे रहे फर्जी परीक्षार्थी पकड़ाए

डिजिटल डेस्क,नागपुर। फर्जी प्रवेशपत्र से परीक्षा दे रहे दो परीक्षार्थियों को पकड़ा गया। नगर के भीम नगर चौक में दोनों फर्जी विद्यार्थियों को कक्षा 10वीं और 12वीं का प्रश्नपत्र हल करते समय पुलिस ने पकड़ा। दोनों किसी विद्यार्थी के नाम पर एक फार्मेसी कॉलेज में परीक्षा दे रहे थे। दोनों केंद्र से प्रश्नपत्र लेकर बाहर आ गए और चौक पर प्रश्न हल कर रहे थे। जरीपटका थाने में प्रकरण दर्ज किया गया है। दलाल और एक विद्यार्थी को गिरफ्तार किया गया तथा नाबालिग को हिरासत में लिया गया है। 

अच्छे नंबरों से पास हो चुके हैं दोनों

पुलिस के अनुसार आरोपी दलाल अतुल उर्फ गुड्डू शिवमोहन अवस्थी (35) कपिल नगर, चंद्रकांत उर्फ चंदू नीलकंठ मते (36) फरस चौक, मानकापुर, फर्जी विद्यार्थी अमन मुकेश मोटघरे (19) माया नगर, इंदोरा और एक नाबालिग हैं। इनमें से एक आरोपी ट्यूशन टीचर है।  भीम नगर चौक में उन्हें किसी और विद्यार्थी के नाम पर पर्चा हल करते हुए पकड़ा गया है। उल्लेखनीय है कि नाबालिग और अमन पूर्व विद्यार्थी हैं। वे अच्छे अंकों से कक्षा 10वीं और 12वीं पास कर चुके हैं। अभी वे जो विद्यार्थी पढ़ाई में कमजोर हैं, उनके नाम पर रुपए लेकर पर्चा हल कर रहे थे। ऐसा दो विद्यार्थियों के नाम पर पर्चा हल करते हुए उन्हें पकड़ा गया है। सबसे मुख्य सवाल यह है कि वे उत्तर पुस्तिका लेकर परीक्षा केंद्र से कैसे बाहर आए। चर्चा है केंद्र प्रमुख और अन्य शिक्षकों के बगैर मिलीभगत से ऐसा होना संभव नहीं है। घटना से बोर्ड के अधिकारियों में भी हड़कंप मचा हुआ है। 

नाम किसी और का, फोटो किसी और की

अमन और नाबालिग के पास से बरामद पहचानपत्र किसी और विद्यार्थी के नाम का था, जिस पर आरोपियों द्वारा खुद का फोटाे लगाकर परीक्षा देने का खुलासा हुआ है। प्रारंभिक पूछताछ में आरोपियों ने पुलिस को बताया कि वे प्रति पर्चा हल करने के दो हजार रुपए संबंधित विद्यार्थी से लेते हैं, मगर जिस तरह से प्रकरण को अंजाम दिया जा रहा था, उससे आशंका है कि 10 से 15 हजार रुपए प्रति पर्चा लिया गया है। मामले में पुलिस की भूमिका पर भी सवाल उठ रहा है। आरोपियों के हाथ आने के बावजूद घटना के 24 घंटे बाद भी पुलिस संबंधित परीक्षा केंद्र का नाम आरोपियों से उगलवा नहीं पाई थी। प्रकरण में गंभीर खुलासा होने की संभावना है। मंगलवार की दोपहर पुलिस ने आरोपियों को अदालत में पेश कर पीसीआर में लिया है। 
 

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें
Survey

app-download