comScore

परीक्षा देकर लौट रहे दो छात्रों को ट्रक ने कुचला

March 08th, 2019 12:17 IST
परीक्षा देकर लौट रहे दो छात्रों को ट्रक ने कुचला

डिजिटल डेस्क,रीवा। पत्थरों से लदे तेज रफ्तार भागते ट्रक ने मोटर साइकिल सवार को टक्कर मार दी। टक्कर इतनी जोरदार थी कि दो बच्चों की दर्दनाक मौत हो गई। दोनों बच्चे स्कूल से परीक्षा देकर वापस अपने घर लौट रहे थे। पुलिस ने पंचनामा कार्रवाई कर शव को पोस्ट मार्टम के लिए भेजा है। वहीं इस घटना के बाद गांव में शोक का माहौल है। आक्रोशित लोगों ने क्रेशरों को बंद किए जाने की मांग की है
आक्रोशित लोगों ने किया चक्काजाम-
जानकारी के मुताबिक जेपी नगर स्थित स्कूल में पढने वाले दो बच्चों की उस समय सड़क दुर्घटना में मौत हो गई, जब वे परीक्षा के बाद घर लौट रहे थे। चोरहटा थाना क्षेत्र अंतर्गत भोलगढ़ गांव में हुई इस घटना के बाद आक्रोशित लोगों ने चक्काजाम कर दिया। मृतक परिवार को आर्थिक सहायता दिलाने के साथ ही इस क्षेत्र में हो रहे अवैध उत्खनन को बंद किए जाने की मांग उठाते हुए कलेक्टर को मौके पर बुलाने की मांग स्थानीय लोगों द्वारा की गई।
ट्रक के पहिए के नीचे आ गए बच्चे-
जानकारी के अनुसार भोलगढ़ निवासी रामनिवास साकेत की पुत्री जागृति 12 वर्ष और मोहित साकेत पुत्र सवाईलाल 10 वर्ष सहित एक अन्य छात्र परीक्षा सम्पन्न होने के बाद सचिन देव साकेत 20 वर्ष के साथ बाइक से घर लौट रहे थे। जेपी नगर स्थित सरदार वल्लभ भाई पटेल स्कूल में पढऩे वाले इन बच्चों को लेकर सचिन गांव तक पहुंचा ही था कि पत्थर लदा एक ट्रक तेजी से गुजरा और बाइक को ठोकर मार दी। ट्रक की ठोकर लगते ही बाइक चला रहे सचिन सहित तीनों बच्चों नीचे गिर गए। इस दौरान सचिन सहित जागृति और मोहित ट्रक की चपेट में आ गए। जबकि एक अन्य छात्र बाल-बाल बच गया। इस घटना में जागृति और मोहित की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि सचिन को गंभीर हालत मेें उपचार के लिए संजय गांधी स्मृति चिकित्सालय ले जाया गया।
ट्रक चालक मौके से फरार-
घटना के बाद ट्रक चालक वाहन छोड़कर मौके से फरार हो गया। यह ट्रक भोलगढ़ के ही एक व्यक्ति का बताया जा रहा है।  दो बच्चों की मौत से स्थानीय लोगों में इस कदर आक्रोश भड़का की लाश नहीं  उठने दी।
बंद किए जाएं क्रेशर-
इस घटना के बाद लोगों ने एक सुर में कहा कि यहां से क्रेशर बंद किए जाएं।  स्थानीय लोगों का कहना था कि क्रेशर की वजह से दिन-भर भारी वाहन और ट्रेक्टर आदि का आना-जाना लगा रहता है। चार क्रेशर यहां पहले से चल रहे है। एक और क्रेशर तैयार हो रहा है। पत्थरों का अवैध उत्खनन भी जमकर चल रहा है। अवैध उत्खनन के बाद वाहन तेजी से भागते है। इस वजह से कई बार दुर्घटनाएं हुई हैं।

कमेंट करें
mByLp