comScore

मौत का कुआं : मोबाइल निकालने की कोशिश में दो युवकों की जान गयी,बचाने में तीसरे की हालत बिगड़ी

मौत का कुआं : मोबाइल निकालने की कोशिश में दो युवकों की जान गयी,बचाने में तीसरे की हालत बिगड़ी

डिजिटल डेस्क, सतना। अमदरा थाना अंतर्गत तिघरा गांव में गुरूवार सुबह सूखे कुएं में गिरे  मोबाइल को निकालने के चक्कर में एक युवक नीचे उतरा पर बाहर नहीं आया तो दूसरा व्यक्ति उसकी मदद के लिए चला गया लेकिन जब वह भी नहीं लौटा तो तीसरा गया जिसे सांस लेने में दिक्कत होते ही ऊपर खड़े लोगों ने खींच लिया। इस घटना में दो लोगों की जान चली गयी।

क्या है घटना

पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक गुरूवार सुबह करीब 6 बजे आशीष पटेल पुत्र मुन्ना लाल 26 बर्ष का मोबाइल फोन  बच्चे ने खेलते-खेलते घर के पास स्थित कुएं में गिरा दिया।तब आशीष  फोन निकालने के लिए कुएं में  उतर गया,पर वह काफी देर तक उपर नहीं आया तो परिजन ने अनहोनी की आशंका के चलते मोहल्ले -पड़ोस के लोगों को बुला लिया। इन्हीं में से दिनेश पटेल पुत्र इंद्रपाल पटेल 45 वर्ष हिम्मत जुटाकर आशीष की मदद के लिए कुएं मे उतर गया। लेकिन नीचे जाने के बाद उसकी तरफ से कोई जवाब नहीं आया।ऐसे में गांव के ही रमेश सेन 40 वर्ष ने कुएं मे उतरने का फैसला किया परंतु पहले गये दो लोगों का हश्र देखकर उसने बाहर खड़े लोगों का रस्सी का एक छोर पकडाया और दूसरा छोर कमर पर बांध लिया।ताकि मुसीबत होने पर उसे  निकाला जा सके।रमेश कुछ दूर तक कुएं उतरा पर सांस लेने में दिक्कत हुई तो इशारा कर दिया लिहाजा बाहर खडे लोगों ने युवक को उपर खींच लिया ।

पुलिस और मेडिकल टीम पहुंची 

दो लोगों के कुएं में गिरने की सूचना डायल 100 पर दी गयी तो अमदरा पुलिस और मेडिकल टीम तुरंत मौके पर पहुंच गयी।घटना की जानकारी लेने के बाद 108 एंबुलेंस में मौजूद आक्सीजन सिलेंडर का इस्तेमाल कर कुछ ग्रामीणों को कुयें मे उतारा गया,जिनकी कमर पर रस्सी बांधी गयी तो मुहं  गीले कपड़े  से ढकवाये गये।इन उपायों का इस्तेमाल कर ग्रामीण कुएं नीचे गये और बेसुध हो चुके आशीष व दिनेश को किसी तरह निकालकर बाहर ले आये। तत्पश्चात दोनो को सिविल अस्पताल मैहर रवाना किया गया ,पर अस्पताल पहुंचते डाक्टर ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।जबकि रमेश का इलाज अमदरा में चल रहा था।

कुएं मे ऑक्सीजन की कमी 

बताया गया है कि लगभग तीस फिट गहरे कुयें मे पानी नहीं था।सकरे कुयें में कचरा भी भरा था। रमेश समेत जितने लोग बचाव के लिए नीचे उतरे सभी को सांस लेने में परेशानी हो रही थी। डॉक्टरों और फारेंसिक अधिकारी का मानना है कि कुएं में  आक्सीजन की कमी थी जिसके चलते आशीष और दिनेश की जान चली गयी। बहलहाल फारेंसिक टीम जांच में जुट गयी है।
 

कमेंट करें
YJzj4