comScore
Dainik Bhaskar Hindi

उबर के ड्राइवर ने कैब में युवती को बंद कर की छेड़खानी, गाड़ी से कूद बचाई जान

BhaskarHindi.com | Last Modified - March 13th, 2018 10:07 IST

5.8k
0
0
उबर के ड्राइवर ने कैब में युवती को बंद कर की छेड़खानी, गाड़ी से कूद बचाई जान

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। दिल्ली में एक बार फिर उबर कैब में महिला से छेड़खानी का मामला समाने आया है। पश्चिमी दिल्ली की एक कंपनी की महिला अधिकारी ने आरोप लगाया है कि उनके साथ चलती कार में उबर के ड्राइवर ने छेड़खानी की। महिला ने बताया कि उसे अपनी इज्जत बचाने के लिए कैब से कूदना पड़ा। इसके बाद महिला ने घटना के संबंध में पुलिस में शिकायत दर्ज कराई। पुलिस ने आरोपी कार ड्राइवर को कार समेत गिरफ्तार कर लिया है लेकिन जो कार बर कंपनी की बताई जा रही है उस कार का ना तो नंबर कर्मिशयल है और ना ही कार पर कहीं भी कोई उबर का स्टीकर लगा है।

ड्राइवर ने कहा कार उबर की है

दिल्ली पुलिस ने कार को भी सोनीपत से बरामद किया। पीड़िता के बयान के मुताबिक मामला 9 मार्च का है। महिला ने कुंडली से रोहिणी के लिए कैब बुक की थी। कुछ देर बाद सफेद स्विफ्ट उसे पिक करने आई जिसकी हरियाणा नंबर की प्लेट सफेद रंग की थी। बुकिंग कार की तस्वीर से ये कार अलग थी, लेकिन ड्राइवर बोला उसे ही आपको पिक करने भेजा है। ड्राइवर ने भरोसा दिलाया कि ये कार उबर की है। 

निजी कंपनी में अधिकारी है महिला

ड्राइवर की बातों पर भरोसा कर महिला कार में सवार हो गई, लेकिन आरोप है कि कुछ आगे चलते ही ड्राइवर ने अश्लील हरकतें शुरू कर दी। कार के दरवाज़े लॉक कर ड्राइवर महिला से छेड़छाड़ करने लगा। किसी तरह से महिला कार का दरवाज़ा खोलने में कामयाब रही और चलती कार से कूद गई। छेड़छाड़ की शिकार पीड़ित युवती निजी कंपनी में अधिकारी है। जिला पुलिस उपायुक्त असलम खान ने बताया कि गिरफ्तार कैब चालक की पहचान गांधीनगर, गन्नौर, हरियाणा निवासी संजीव उर्फ संजू के रूप में हुई है। कार गांव जैंतीकलां, सोनीपत में अमित के नाम पर रजिस्टर्ड थी। बता दें कि जब पुलिस की टीम ने गांव में छापा मारा तो उसमें एक चालक शराब के नशे में सो रहा था।  


पुलिस ने उबर को भेजा नोटिस

दिल्ली पुलिस ने उबर को नोटिस भेजकर मामले में उनका पक्ष मांगा है और उनसे महिला के साथ हुई घटना के बारे में जानकारी दी है। पीड़िता लड़की के सामने आरोपी कैब ड्राइवर की पूछताछ कराई जाएगी। इससे पहले भी कैब ड्राइवरों की महिलाओं से छेड़छाड़ की घटनाएं सामने आईं हैं। जब तक कैब सर्विस देने वाली कंपनियां सरकार द्वारा जारी निर्देश का पालन नहीं करती हैं।  
 

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें

app-download