comScore
Dainik Bhaskar Hindi

उद्धव का बीजेपी पर तंज- पहले 15 लाख वाला जुमला दिया, अब राम मंदिर का देंगे

BhaskarHindi.com | Last Modified - January 13th, 2019 22:10 IST

1.6k
0
0
उद्धव का बीजेपी पर तंज- पहले 15 लाख वाला जुमला दिया, अब राम मंदिर का देंगे

News Highlights

  • लोकसभा चुनाव से पहले बीजेपी और शिवसेना के बीच खींचतान बढ़ी।
  • उद्धव ठाकरे ने कहा- बीजेपी ने पहले 15 लाख वाला जुमला दिया, अब राम मंदिर का जुमला देगी।
  • उद्धव ने अमित शाह के बयान पर पलटवार करते हुए यह भी कहा कि शिवसेना को महाराष्ट्र में हराने वाला पैदा नहीं हुआ।


डिजिटल डेस्क, मुंबई। लोकसभा चुनाव से पहले बीजेपी और शिवसेना के बीच खींचतान बढ़ती जा रही है। इन दोनों सहयोगी दलों के नेता लगातार एक-दूसरे के विरोध में बयानबाजी कर रहे हैं। कुछ दिनों पहले ही बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने लोकसभा चुनाव में शिवसेना के साथ न आने पर उसे हराने की बात कही थी, अब शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे एक जनसभा में बीजेपी और मोदी सरकार पर बरसे हैं। उद्धव ठाकरे ने कहा है कि मोदी सरकार जुमलेबाज है, 2014 में इन्होंने 15 लाख रुपए हर बैंक खाते में जमा करने का जुमला दिया था और राम मंदिर बनाने का जुमला दे रहे हैं।

महाराष्ट्र के वर्ली में एक जनसभा को संबोधित करते हुए उद्धव ने कहा, 'बैंक अकाउंट में 15 लाख रुपए जमा करना एक जुमला था और अब राम मंदिर एक जुमला है। इस महत्वपूर्ण मामले पर अगर आप जुमलेबाजी करते हो तो ये उम्मीद कैसे कर सकते हो कि लोग आपको वोट देंगे।'

उद्धव ने बीजेपी नेताओं द्वारा राम मंदिर निर्माण में कांग्रेस के अड़ंगे लगाने वाली दलील को भी बकवास बताया। उन्होंने कहा, 'ये लोग कहते हैं कि कांग्रेस राम मंदिर निर्माण में बाधा बन रही है। कांग्रेस, अयोध्या में मंदिर नहीं बनने दे रही थी, इसीलिए लोगों ने उस पार्टी को दंडित किया और आपको सत्ता सौंपी, लेकिन अब तक राम मंदिर बनाने की दिशा में कोई कदम आपने आगे नहीं बढ़ाया।'

उद्धव ने इस दौरान भगवान हनुमान की जाति पर हो रहे घमासान पर भी बात रखी। उन्होंने कहा, 'भगवान हनुमान की जाति पर चर्चा क्यों की जा रही है? अगर अन्य किसी धर्म में इस तरह भगवान की जाति पर चर्चा होती तो कितना बड़ा मुद्दा बना दिया जाता लेकिन क्योंकि हिंदू धर्म के भगवान की जाति पर चर्चा हो रही है, तो यह ठीक है। यह भावना कितनी दुखद है।'

सामान्य वर्ग के गरीब लोगों को सरकारी नौकरी और शिक्षा में आरक्षण देने वाले विधेयक पर अपनी बात रखते हुए उद्धव ने कहा, 'अगर आप वाकई आर्थिक रूप से कमजोर सामान्य वर्ग के लोगों की मदद करना चाहते हैं तो आप 8 लाख रुपए से कम सालाना आय वाले लोगों को टैक्स में छूट क्यों नहीं देते। आपने 8 लाख से कम वालों को आरक्षण तो दिया लेकिन क्या आपने आंकड़े और तथ्यों का विश्लेषण कर सही तरह से आरक्षण लागू करने पर विचार किया है।'

उद्धव ने इस दौरान अमित शाह के हालिया बयान पर भी तीखी प्रतिक्रिया दी। ठाकरे ने कहा कि महाराष्ट्र में शिवसेना को हराने वाला कोई पैदा नहीं हुआ है। बता दें कि अमित शाह ने आम चुनाव में गठबंधन न होने की स्थिति में पूर्व सहयोगियों को हराने वाले बयान दिया था।



 

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें

app-download