comScore

उद्धव ठाकरे का मोदी पर तीखा हमला बोले हमें ऐसा हिंदुत्व कबूल नहीं

July 23rd, 2018 14:15 IST
उद्धव ठाकरे का मोदी पर तीखा हमला बोले हमें ऐसा हिंदुत्व कबूल नहीं

हाईलाइट

  • ठाकरे बोले हमें ऐसा हिंदुत्व कबूल नहीं।
  • गाय की रक्षा हो रही है और महिलाएं असुरक्षित है।
  • 2019 का चुनाव अकेले लड़ सकती है भाजपा।

डिजिटल डेस्क, मुंबई। भारतीय जनता पार्टी और शिवसेना के बीच अंतरकलह जारी है। शिवसेना एनडीए का हिस्सा होने के बाद भी महाराष्ट्र से लेकर कई राष्ट्रीय मुद्दों पर दोनों दल एकमत होते नज़र नही आ रहे हैं। भाजपा और शिवसेना के बीच चल रही तनातनी हाल ही में शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे के एक बयान से फिर सुर्खियों में आ गयी है। ठाकरे ने 'सामना' को दिये एक इंटरव्यू में कहा कि उन्हे मोदी का हिंदुत्व कबूल नही है, जिसमें गाय की रक्षा हो रही है और महिलाएं असुरक्षित हैं। ठाकरे ने यह भी कहा कि मैं नरेंद्र मोदी के सत्ता के सपनों के लिए नहीं, आम आदमी के सपनों लिए लड़ रहा हूं।

हिंदुत्व का यह विचार हमारा नहीं है
शिवसेना के मुखपत्र सामना को दिये गये इंटरव्यू में उद्धव ठाकरे ने कहा, ''मैं पिछले तीन-चार वर्षों से देश में चल रहे हिंदुत्व को स्वीकार नहीं करता हूं। यह हिंदुत्व का हमारा विचार नहीं है, हमारी महिला आज असुरक्षित हैं और आप गायों की रक्षा कर रहे हैं। शिवसेना प्रमुख ने मोदी और भाजपा पर तीखा हमला बोलते हुए कहा कि, ''वाह-वाह करने वालों और चाटुकारिता करने वालों को मैं मित्र नहीं मानता। सरकार का हिस्सा होने के बाद भी देश की जनता के लिए अगर कुछ गलत कदम उठाए जाएंगे तो पूरी ताकत के साथ उसे बताना मैं फर्ज समझता हूं और वह मैं करुंगा।

शिवसेना किसी एक पार्टी की मित्र नहीं
एक सवाल का जवाब देते हुए शिवसेना सुप्रीमो ठाकरे ने कहा कि शिवसेना किसी एक पार्टी की दोस्त नही है, इसलिए समय-समय पर कोई बात मुझे पसंद न आए या योग्य न लगे तो उस समय मैं बोलता हूं, उसी का नतीजा देखिए पिछले चार वर्षों में शिवसेना ने जो भूमिकाएं रखीं वही अब लागू करनी पड़ रही हैं। हमने सरकार की किसी भूमिका या नीति का विरोध किया तो वह देश के, जनता के हित के लिए ही किया।

शिवसेना के रुख से नाराज है भाजपा
शुक्रवार को लोकसभा में अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा और वोटिंग में शिवसेना शामिल नही हुई थी। शिवसेना केंद्र और महाराष्ट्र में सरकार की सहयोगी है। शिवसेना के इस रवैये से भाजपा आलाकमान भी नाराज़ है। कल मुंबई पहुंचे अमित शाह ने भाजपा नेताओं से कहा कि वह गठबंधन के भरोसे नहीं रहें और 2019 लोकसभा चुनाव में सभी सीटों पर लड़ने के लिए तैयारी करें।

Loading...
कमेंट करें
HKifV
Loading...
loading...