comScore
Dainik Bhaskar Hindi

83 की उम्र में बुजुर्ग चढ़ा घोड़ी, हैरान कर देगी वजह...

BhaskarHindi.com | Last Modified - February 20th, 2018 19:45 IST

6k
0
0

डिजिटल डेस्क, करौली। राजस्थान के करौली जिले के कुड़गांव क्षेत्र की एक अनूठी शादी पूरे क्षेत्र में चर्चा का विषय बन रही है। वैसे तो शादियां आपने बहुत सी देखी होंगी, लेकिन अनूठी शादी में दूल्हे और दुल्हन को देखने लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी थी। दरअसल सैमरदा गांव के रहने वाले 83 वर्षीय सुखराम बेरवा ने अपने से आधी उम्र से भी छोटी 30 साल की रमेश जी देवी से दूसरी शादी रचाई है। सुखराम बेरवा ने इस शादी की वजह बेटे की चाह और अपनी संपत्ति के लिए वारिस बताया है। 

Image result for buddha-05_022018091745

शादी में 12 गांवों के लोग हुए शामिल 

गांव सैंमरदा के सुखराम बैरवा ने बेटे की चाहत में दूसरी शादी रचाई है। इस जोड़ी को देखने लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी थी। खास बात यह है, कि इस शादी में बुजुर्ग की बेटियां, दामाद और नाती भी शामिल हुए। इस विवाह से किसी को कोई आपत्ति नहीं है, बल्कि आसपास के 12 गांवों के एक हजार लोग इस विवाह की दावत में शामिल हुए।

53 साल छोटी लड़की से रचाई शादी, बूढ़े ससुर की बारात में दामाद भी जमकर नाचे

बेटे की मौत शादी का कारण 

इससे पहले सुखराम बैरवा की पहली पत्नी के 2 बेटी और एक बेटा था। बेटियों की कई साल पहले ही शादी भी कर दी, जबकि इकलौते बेटे कान्हू की 30 साल की उम्र में असामयिक बीमारी के कारण मृत्यु हो गई। इसके चलते वंशवृद्धि का संकट पैदा हो गया। सुखराम और पहली पत्नी बत्तो बैरवा ने बताया कि उनकी काफी प्रॉपर्टी है। इसे संभालने वाला कोई वारिस तो चाहिए। इसी उम्मीद में यह दूसरी शादी उनकी सहमति पर ही रचाई गई है। 

53 साल छोटी लड़की से रचाई शादी, बूढ़े ससुर की बारात में दामाद भी जमकर नाचे

राजस्थान सरकार की नाकामयाबी 

प्रदेश की वसुंधरा सरकार भले ही महिला सशक्तिकरण का बात करती है, लेकिन राजस्थान में अक्सर इस तरह की घटनाएं होती रहती है जिससे यह साबित हो जाता है कि अभी भी लोगों की मानसिकता में किसी भी तरह का कोई खास परिवर्तन नहीं हुआ है। यहां सरकार द्वारा किए जा रहे महिलाओं के विकास की कोशिशों की धज्जियां उड़ाते आप आसानी से देख सकते हैं।
 

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें

app-download