comScore

योग दिवस से पहले जगमगाया संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय, अनुपम खेर ने दबाया स्विच

July 27th, 2017 16:19 IST
योग दिवस से पहले जगमगाया संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय, अनुपम खेर ने दबाया स्विच

टीम डिजिटल, नई दिल्ली. ये तीसरा साल है जब अंतरराष्ट्रीय योग दिवस 21 जून को मनाया जा रहा है। संयुक्त राष्ट्र ने इसमें अपनी भागीदारी एक दिन पहले ही दिखा दी। इस मौके पर संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय 'योग' शब्द से जगमगा उठा. अभिनेता अनुपम खेर ने स्विच दबाकर इसे रोशन किया. दरअसल, संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय की इमारत में योग शब्द को लिखा गया. जो लाइट्स ऑन होते ही नजर आने लगा. संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी प्रतिनिधि सैयद अकबरूद्दीन ने ट्वीट किया- संयुक्त राष्ट्र में योग जगमगा उठा. यहां संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय की इमारत की एक झलक है, जिसे अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के लिए अभूतपूर्व तरीके से रोशन किया गया है.

मोदी और योगी होंगे साथ
अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लखनऊ में मौजूद रहेंगे. पीएम मोदी और सीएम योगी साथ योग करते नजर आएंगे. मोदी की सुरक्षा को लेकर सरकारी मशीनरी निरंतर समीक्षा कर रही है. रविवार को देर शाम एडीजी सुरक्षा विजय कुमार ने एक-एक बिंदु की पड़ताल की. मोदी की सुरक्षा में कोई चूक न हो और स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप के मानक का पूरा पालन हो, इसके लिए आवश्यक हिदायत दी. योग में एक-एक व्यक्ति पर नजर रखी जाएगी। प्रधानमंत्री 20 और 21 जून को लखनऊ में रहेंगे.

दिल्ली में योग दिवस की तैयारियां
नई दिल्ली के कनॉट प्लेस में योग का आयोजन किया जाएगा. बुधवार को राष्ट्रीय राजधानी में आयोजित किए जाने वाले समारोह में केंद्रीय मंत्री एम वेंकैया नायडू मुख्य अतिथि होंगे और दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल, मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, नई दिल्ली की सांसद मीनाक्षी लेखी सहित अन्य अतिथियों के साथ करीब 10,000 लोग हिस्सा लेंगे. एनडीएमसी कनॉट प्लेस, उसके छह अर्द्धव्यासों और इनर सर्किलों, तीन उद्यानों – लोदी गार्डन, नेहरू पार्क, तालकटोरा गार्डन – और साथ ही इंडिया गेट पर स्थित चिल्ड्रेन पार्क में योग दिवस के दिल्ली संस्करण का आयोजन करेगा.
करीब 10,000 प्रतिभागी योग करेंगे. कार्यक्रम सुबह छह बजे शुरू होगा और प्रतिभागी सुबह सात बजे से सात बजकर 45 मिनट तक योग करेंगे.” विभिन्न देशों के राजनयिक नेहरू पार्क में होने वाले कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे.

योग दिवस की शुरूवात
यूनाइटेड नेशंस की आम सभा में 11 दिसंबर 2014 को भारत द्वारा पेश किए गए प्रस्ताव को स्वीकार करते कर लिया गया था और 21 जून को ‘अंतरराष्ट्रीय योग दिवस’ के रूप में घोषित कर दिया. यूएन ने योग की महत्ता को स्वीकारते हुए माना कि ‘ योग मानव स्वास्थ्य व कल्याण की दिशा में एक संपूर्ण नजरिया है.’ पीएम मोदी के जरिए पहली बार पेश किया गया ये प्रस्ताव तीन महीने से भी कम समय में यूएन की महासभा में पास हो गया.

21 जून को ही क्यों?
अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के 21 जून का चुनाव इसलिए किया गया, क्योंकि इस दिन ग्रीष्म संक्रांति होती है. इस दिन सूर्य धरती की दृष्टि से उत्तर से दक्षिण की ओर चलना शुरू करता है. यानी सूर्य जो अब तक उत्तरी गोलार्ध के सामने था, अब दक्षिणी गोलार्ध की तरफ बढऩा शुरु हो जाता है. योग के नजरिए से ये समय संक्रमण काल होता है. यानी रूपांतरण के लिए बेहतर समय होता है.

कमेंट करें
lYoqG