comScore
Dainik Bhaskar Hindi

सतना : दिनदहाड़े स्कूल बस से गन प्वाइंट पर पांच वर्षीय जुड़वा भाइयों का अपहरण

BhaskarHindi.com | Last Modified - February 13th, 2019 14:08 IST

1k
0
0
सतना : दिनदहाड़े स्कूल बस से गन प्वाइंट पर पांच वर्षीय जुड़वा भाइयों का अपहरण

डिजिटल डेस्क, सतना। चित्रकूट में नयागांव थाना क्षेत्र स्थित एसपीएस स्कूल कैंपस में  मंगलवार की दोपहर उस वक्त हड़कंप मच गया, जब बाइक से आए 2 अज्ञात नकाबपोश गन प्वाइंट पर बस में सवार यूकेजी के 2 छात्रों श्रेयांश रावत और प्रियांश रावत को उठा ले गए। 5 वर्षीय दोनों बच्चे आपस में जुड़वा भाई हैं। इस सिलसिले में पुलिस के हाथ फिलहाल कोई सुराग नहीं लगा है।

बाइक से आए थे बदमाश  
बस के ड्राइवर रिंकू के हवाले से पुलिस ने बताया कि दोपहर 12 बज कर 26 मिनट पर स्कूल बस नंबर एमपी 19 पी 0973 जैसे ही स्कूल भवन से लगभग 500 मीटर के फासले पर पहुंची कैंपस की रोड नंबर-2 की ओर से लालरंग की बाइक से आए 2 नकाबपोश युवकों ने स्कूल बस के आगे बाइक रोक दी। बस रुकते ही दोनों युवक बस के अंदर आ गए। दोनों बदमाश युवकों की उम्र लगभग 25 से 26 साल है। एक ने काले और दूसरे ने सफेद रंग की टी शर्ट पहन रखी थी। दोनों ने लाल रंग के गमछे से मुंह बांध रखे थे। इसी में से एक युवक ने बस में घुसते ही पिस्टल निकाल कर धमकाया और दूसरा बदमाश बस में पीछे की सीट पर बैठे 5 साल के श्रेयांश और उसके जुड़वा भाई प्रियांश पिता बृजेश रावत को गन प्वाइंट पर ही कवर कर लिया। बदमाशों ने दोनों बच्चों को घसीट कर बाहर निकाला और एक ही बाइक में अगवा कर भाग निकले। अपहृत बच्चों के पिता बृजेश रावत हिमशंकर विजय तेल के बड़े कारोबारी हैं। परिवार यूपी के चित्रकूट जिला मुख्यालय के सीतापुर में रहता है।  

सिर्फ 8 मिनट  
नकाबपोश बदमाशों के हत्थे चढ़ी स्कूल बस नंबर एमपी 19 पी 0973 में लगे सीसीटीवी कैमरे के फुटेज बताते हैं कि जिस वक्त हथियार बंद बदमाश बस के अंदर दाखिल हुए उस वक्त दोपहर के 12 बज कर 26 मिनट हो रहे थे। स्कूल कैंपस के रोड नंबर -2 पर लगे एक अन्य सीसीटीवी फुटेज से भी साफ है कि बदमाश 12 बज कर 21 मिनट पर इसी रास्ते से बस तक पहुंचे। इसी कैमरे पर अगवा बच्चों समेत दोनों बदमाशों को 12 बज कर 29 मिनट पर कैंपस से बाहर जाते हुए देखा गया। यानि देखते ही देखते वारदात में बदमाशों को सिर्फ 8 मिनट लगे। सीसीटीवी फुटेज में बदमाशों की गतिविधियों से इस बात की भी आशंका जताई जा रही है कि दोनों युवक पेशेवर बदमाश हो सकते हैं?  

कई दिनों से कर रहे थे रेकी
जनचर्चा है कि संदिग्ध किस्म के दोनों युवक कई दिनों से सद्गुरु पब्लिक स्कूल (एसपीसएस) जानकीकुंड की रेकी कर रहे थे। आमतौर पर स्कूल कैंपस में अभिभावकों का मूवमेंट रहता है , इसीलिए इनकी गतिविधियों पर किसी ने ध्यान नहीं दिया। खबर है, बच्चों को अगवा कर भागे बदमाशों का सतुंलन बिगड़ने से रजौला के पास एक बार बाइक भी गिरी। आशंका है कि बदमाश बच्चों को लेकर सती अनुसुइया आश्रम की ओर भागे। बदमाशों के इस मूवमेंट से ये आशंका भी जताई जा रही है कि वारदात में साढ़े 5 लाख के इनामी और अंतरराज्यीय गैंग लीडर बबुली का हाथ हो सकता है? हालांकि इन तमाम सवालों के जवाब में सतना पुलिस ने चुप्पी साध रखी है। बदमाशों की धरपकड़ और पकड़ छुड़ाने के लिए उत्तर प्रदेश की चित्रकूट पुलिस को भी सक्रिय किया गया है।

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें

app-download