comScore

अश्लील वीडियो बनाकर पॉर्न साइट पर किया अपलोड

अश्लील वीडियो बनाकर पॉर्न साइट पर किया अपलोड

डिजिटल डेस्क, नागपुर। सोशल मीडिया पर दो युवतियों को अपमानित किए जाने के दो प्रकरण उजागर हुए हैं। शुक्रवार को सोनेगांव और वाड़ी थाने में प्रकरण दर्ज किए गए हैं, लेकिन अभी तक आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं हुई है। सोनेगांव थाना क्षेत्र में हुई है। पीड़ित 23 वर्षीय युवती है। 1 मई-2015 से 13 जून-2016 के बीच में किसी व्यक्ति ने पीड़िता का अश्लील वीडियो बनाकर उसे पॉर्न साइट पर अपलोड किया। जब पीड़िता को रिश्तेदार और परिचितों के फोन आने लगे, तब उसे इस वीडियो के बारे में पता चला। इसके बाद पीड़िता ने परिजनों के थाने पहुंचकर अज्ञात आरोपी के खिलाफ प्रकरण दर्ज कराया है। पीड़िता सभ्रांत परिवार की है। संदेह है कि, किसी ने युवती को बदनाम करने के इरादे से साजिश के तहत घटना को अंजाम दिया है।

फर्जी फेसबुक आईडी बनाई

दूसरी घटना पीड़ित 30 वर्षीय महिला है, जबकि आरोपी श्रीकृष्णन बंसोड, कोल्हापुर जिले के कंदनगांव का निवासी है। 27 अक्टूबर-2019 को संदिग्ध आरोपी श्रीकृष्णन ने पीड़िता के नाम से फर्जी फेसबुक आईडी बनाकर अश्लील मैसेज भेजा। इसके पहले भी श्रीकृष्णन पीड़िता के साथ इस तरह की हरकत कर चुका था, जिससे माना जा रहा है यह हरकत भी उसी की है। मामला एकतरफा प्रेम प्रकरण से जुड़ा हुआ है। दोनों प्रकरण साइबर श्रेणी से जुड़े होने के कारण साइबर सेल के सौंपे गए हैं। जांच जारी है। 

बालिका से दुष्कर्म का प्रयास तनाव का माहौल बना रहा

उधर मासूम बालिका के साथ दुष्कर्म की कोशिश की गई है। गुस्साए बस्ती के लोग नराधम को पिटते हुए थाने ले गए। इससे कुछ समय के लिए तनाव माहौल बना रहा। समाचार लिखे जाने तक प्रकरण दर्ज होना बाकी था। पीड़िता 7 वर्ष की मासूम बालिका है, जबकि आरोपित व्यक्ति बस्ती का ही लक्ष्मण गोस्वामी (35) है। शनिवार की शाम को वह झांसा देकर बालिका को अपने घर ले गया था। बालिका के साथ नराधम लक्ष्मण ने दुष्कर्म की कोशिश की, जिससे बालिका रोने लगी। चिल्लाने और रोने की आवाज सुनकर बालिका की मां और बस्ती की कुछ महिला लक्ष्मण के कमरे में जा धमके। घृनित कृत्य करते हुए उसे रंगे हाथ पकड़ा। जंगल में लगी आग की तरह यह खबर बस्ती में पहुंच गई। जिससे बड़ी संख्या में लोग जमा हो गए। लक्ष्मण की करतूत सुनकर लोग गुस्से से आग बबुला हो गए और लक्ष्मण की अधमरा होने तक पिटाई कर दी। इस बीच िकसी ने फोन कर घटित प्रकरण की सूचना संबंधित थाने को दी। जिससे निरीक्षक हांडे सह दल बल मौके पर पहुंचे। इस बीच भीड़ द्वारा ही लक्ष्मण को पिटते हुए थाने लाया जा रहा था। पुलिस ने गुस्साए लोगों को समझा बुझाकर शांत िकया। घटित प्रकरण से देर रात तक तनाव का माहौल बना रहा। इस बीच प्रकरण की भनक लगते ही अन्य आला पुलिस अधिकारी भी थाने में पहुंचे। समाचार लिखे जाने तक प्रकरण दर्ज होना बाकी था। 
 

कमेंट करें
1B8zQ