comScore

अमेरिका ने और सख्त किए रूस पर प्रतिबंध, ब्रिटेन के जासूस को जहर दिए जाने से नाराज

अमेरिका ने और सख्त किए रूस पर प्रतिबंध, ब्रिटेन के जासूस को जहर दिए जाने से नाराज

हाईलाइट

  • इससे पहले भी रूस पर प्रतिबंध लगा चुका है अमेरिका
  • रूसी नगारिक स्क्रिपल ब्रिटेन के लिए बन गया था दोहरा एजेंट

वॉशिंगटन, आईएएनएस। अमेरिकी विदेश विभाग ने एक पूर्व रूसी जासूस को पिछले मार्च महीने में ब्रिटेन में जहर दिए जाने को लेकर मॉस्को पर दूसरे दौर का प्रतिबंध लगा दिया है। समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, विदेश विभाग ने कहा कि प्रतिबंधों के इस दूसरे दौर के तहत अमेरिका अंतर्राष्ट्रीय वित्तीय संस्थानों द्वारा रूस को दिए जाने वाले ऋण का विरोध करेगा, गैर-रूबल मुद्रा में रूसी संप्रभु ऋण के प्राथमिक बाजार में हिस्सेदारी से अमेरिकी बैंकों पर रोक लगाएगा और साथ ही रूसी सरकार को गैर-रूबल मुद्रा के ऋण देने पर रोक लगाएगा तथा वाणिज्य विभाग द्वारा नियंत्रित वस्तुओं एवं प्रौद्योगिकी पर अतिरिक्त निर्यात लाइसेंसिंग प्रतिबंध लागू करेगा।

दरअसल, ब्रिटेन ने मार्च 2018 में पूर्व रूसी जासूस सर्गेई स्क्रिपल को सेलिसबरी में एक मिलिट्री-ग्रेड नर्व एजेंट (जहर) के जरिए उसकी हत्या की कोशिश के लिए दो रूसी नागरिकों को उनकी अनुपस्थिति में आरोपित किया है। स्क्रिपल ब्रिटेन के लिए एक दोहरा एजेंट बन गया था। हालांकि, रूस ने जहर देने की घटना में किसी भी तरह की संलिप्तता से इंकार किया है।

अमेरिका ने इससे पहले अगस्त 2018 में इस मामले को लेकर रूस पर प्रतिबंध लगाए थे। इसके बाद अमेरिकी विदेशी सहायता, हथियारों की बिक्री और रूस को वित्तपोषण बंद कर दिया गया था। सेलिसबरी के जहर वाले मामले के कारण रूस और पश्चिम के बीच एक कूटनीतिक युद्ध शुरू हो गया है।

कमेंट करें
wvbHs