comScore

सिपाही ने खोला अरबपति RTO की काली करतूतों का चिट्ठा

July 27th, 2017 15:42 IST
सिपाही ने खोला अरबपति RTO की काली करतूतों का चिट्ठा

टीम डिजिटल, वाराणसी। अवैध वसूली के आरोप में निलंबित किए गए चंदौली के एआरटीओ आरएस यादव को शनिवार रात जौनपुर की पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। इसके बाद रविवार को चंदौली पुलिस उसकी संपत्ति जांच के लिए छापेमारी करने वाराणसी पहुंची।

ड्राइवर के नाम पर चलता था कारोबार यहां उसके छावनी स्थित आलिशान होटल पहुंचकर कंप्यूटर के सीपीयू और कुछ रजिस्टरों को सीज कर दिया गया। बताया जा रहा है कि आरएस यादव ने होटल किसी ड्राइवर के नाम पर बना रखा है। मकबूल आलम रोड स्थित आलीशान मकान में पुलिस ने घंटों छापेमारी कर रिकॉर्ड जब्त किए, सूत्रों के मुताबिक इस एआरटीओ के पास अरबों की बेनामी संपत्ति है। कई संपत्ति दुसरों और नौकरों के नाम है। गोरखपुर के रुस्तमपुर में करोडों का कॉम्प्लेक्स है। आरएस यादव मूल रूप से गोरखपुर के चौरी-चौरा के रहने वाले हैं। छापेमारी का नेतृत्व कर रहे चंदौली के सीओ प्रदीप सिंह चंदेल ने बताया कि अभी संपत्ति जांच की जा रही है।

दरसअल ये है पूरा मामला चंदौली में नेशनल हाईवे-2 पर ओवरलोड ट्रकों से वसूली करते सीओ सदर त्रिपुरारी पांडे ने एआरटीओ आरएस यादव के चालक सिपाही और दो प्राइवेट व्यक्तियों को अवैध वसूली करते पकड़ा। पकड़ा गया आरोपी ARTO, सिपाही शिव बहादुर यादव से जब सीओ ने कड़ाई से पूछताछ की तो कैमरे के सामने उसने सारी पोल खोल दी। सिपाही को निलंबित कर सभी तीन के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया।

बीसीसीआई ने कहा
कोच के लिए सचिन-सौरव-लक्ष्मण ने नहीं मांगा भुगतान MP में तानाशाह हिटलर वापस आ गया है, राहुल गांधी रक्षा करो! GST ने घटाए 66 प्रॉडक्ट्स के रेट, ट्रैक्टर और कंप्यूटर पार्ट्स के टैक्स रेट घटे Featured Posts यूपी के चंदौली में परिवहन विभाग के एक सिपाही और विभाग की गाड़ी चला रहे प्राइवेट ड्राइवर को पुलिस ने अवैध वसूली का प्रयास करते हुए रंगे हाथ पकड़ा और गिरफ्तार कर लिया। उधर बगैर किसी अधिकारी की मौजूदगी में हाई-वे पर ट्रक की चेकिंग करने और वसूली का प्रयास करने के आरोप में विभाग ने भी कार्रवाई करते हुए आरोपी सिपाही को निलंबित कर दिया है। दरअसल चंदौली के सीओ त्रिपुरारी पांडेय चंदौली से मुगलसराय की तरफ आ रहे थे तभी उनकी नजर हाई-वे के किनारे परिवहन विभाग की गाड़ी पर पड़ी। जहां एक सिपाही ट्रक चालक से कागजात वगैरह मांग रहा था।

परिवहन विभाग की गाड़ी में किसी अधिकारी को मौजूद न देखकर सीओ ने अपनी गाड़ी रुकवाई और सिपाही से पूछा कि बिना किसी अधिकारी के मौजूदगी के वो गाड़ी की चेकिंग क्यों कर रहा है। इसके बाद सिपाही को दोषी पाए जाने पर सीओ ने कार्रवाई करते हुए सिपाही और परिवहन विभाग की गाड़ी चला रहे प्राइवेट ड्राइवर को हिरासत में भेज दिया। उधर सहायक परिवहन अधिकारी आरएस यादव ने बताया कि वो सिपाही विभाग का कैश जमा कराने गया था और उस दौरान उसने चेकिंग की। इस घटना को संज्ञान में लेते हुए चंदौली के एआरटीओ ने आरोपी सिपाही के खिलाफ विभागीय कार्रवाई करने के लिए उच्च अधिकारियों को लिखा है। जिस पर कार्रवाई करते हुए आरोपी सिपाही को निलंबित कर दिया गया।

कमेंट करें
Survey
आज के मैच
IPL | Match 41 | 23 April 2019 | 08:00 PM
CSK
v
SRH
M. A. Chidambaram Stadium, Chennai