comScore
Dainik Bhaskar Hindi

7 फरवरी से 7 दिन सबसे श्रेष्ठ, जानें इस माह की शुभ विवाह तिथियां

BhaskarHindi.com | Last Modified - September 06th, 2018 15:40 IST

20.7k
0
0

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। विवाह मुहूर्त, हिंदू धर्म में विवाह के लिए कुंडली मिलान सबसे आवश्यक माना जाता है। गुण मिलाए जाते हैं ग्रह नक्षत्र देखे जाते हैं। इसके बाद ही विवाह तय होता है, किंतु इसके उपरांत विवाह के लिए सबसे ज्यादा जरूरी है तो वह है शुभ मुहूर्त। विवाह के शुभ मुहूर्त में गुरू और शुक्र का उदित होना बेहद आवश्यक है। इनके अस्त होने की दशा में ये मुहूर्त विवाह के लिए उत्तम नही माने जाते। साल 2017 में देवउठनी एकादशी पर इसी वजह से विवाह के मंगल मुहूर्त प्रारंभ नही हो सके थे, किंतु इस बार साल 2018 में एक बार फिर अब विवाह की शुभ घड़ी शुरू हो रही है। जनवरी 2018 में विवाहादि मुहूर्त नहीं रहे, जबकि फरवरी माह में सबसे ज्यादा विवाह मुहूर्त बताए जा रहे हैं। 


विवाह की शुभ तिथियां 
-7 फरवरी 2018 से प्रारंभ होकर 13 फरवरी 2018
-18, 20 फरवरी 2018
-23, 24 व 28 फरवरी 2018 


14 फरवरी 2018 को महाशिवरात्रि 

महाशिवरात्रि इस बार 14 फरवरी बुधवार को है। इस दिन भगवान शिव का विवाह मां पार्वती से संपन्न हुआ था। भागवान भोलेनाथ बारात लेकर मां पार्वती को ब्याहने निकले थे। इसी दिन शिव-पार्वती की बारात भी निकाली जाती है। यह स्त्री पुरुष सभी धारण करते हैं। ऐसी मान्यता है कि इस दिन जो भी कुंवारी कन्याएं पूर्ण विधि-विधान से व्रत धारण करती हैं उन्हें मनभावन पति की प्राप्ति होती है। 

मार्च में विवाह मुहूर्त 

फरवरी की विवाह की शुभ बेला के पश्चात मार्च माह 2018 में 1 मार्च से 8 मार्च तक लगातार विवाह के शुभ मुहूर्त हैं। इसके पश्चात 10, 12 एवं 13 मार्च 2018 को भी विवाह के शुभ मुहूर्त हैं। विद्वानों का मानना है कि शुभ मुहूर्त में किया गया विवाह गृहस्थ जीवन को सुखी बनाता है एवं संतान सहित दंपत्ति के जीवन में वैवाहिक जीवन के समस्त सुखों का आगमन होता है। 

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें

app-download