comScore

अपने व्यवसाय क्षेत्र में चाहते हैं सफलता तो जन्म नक्षत्र के अनुसार करें काम

अपने व्यवसाय क्षेत्र में चाहते हैं सफलता तो जन्म नक्षत्र के अनुसार करें काम

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। ज्योतिष के अनुसार ऐसा माना जाता है कि व्यक्ति का जीवन उसकी जन्म कुंडली के अनुसार चलता है। कब अच्छा समय आएगा और कब समस्याओं का सामना करना पड़ेगा, यह सब कुंडली को देखकर जाना जा सकता है। असल में कुंडली है क्या? किसी मनुष्य का जन्म होता है तो उस क्षण मौजूद ग्रहों और नक्षत्रों के आधार पर उसकी कुंडली का निर्धारण होता है। वे ग्रह और नक्षत्र, व्यक्ति के जीवन पर अपनी-अपनी तरह से प्रभाव छोड़ते हैं और इसी के अनुसार व्यक्ति के जीवन की दिशा तय होती है। सूर्य और चंद्रमा समेत अन्य नौ ग्रहों के विषय में तो हम भली-भांति जानते और समझते हैं कि वे किस तरह व्यक्ति के जीवन पर अपना प्रभाव डालते हैं, ये तो हम कई बार सुन चुके होते हैं, लेकिन आज हम आपको नक्षत्र की दुनिया से जुड़ी एक अन्य बात बताने जा रहे हैं जिसके अनुसार आप ये भी जान सकते हैं कि किस क्षेत्र में भाग्य अजमाना आपके लिए फायदेमंद होगा।

हम 27 नक्षत्रों के विषय में जानते हैं, ज्योतिष विशेषज्ञों का कहना है कि इन 27 में से आपका जन्म किस नक्षत्र में हुआ है, इसके आधार पर अगर आप अपने भाग्य का निर्धारण करेंगे तो आपको सफलता अवश्य मिलेगी। सबसे पहले जानते हैं उन लोगों के बारे में जिनका जन्म अश्विनी नक्षत्र में हुआ है। अश्विनी नक्षत्र में जन्मे लोग अगर यातायात से जुड़ा कोई कार्य करेंगे तो उन्हें सफलता मिलेगी। इसके अलावा खेल, दवाइयां, कृषि, जिम, जौहरी, सुनार आदि से संबंधित क्षेत्र भी फायदा पहुंचाएंगे।

भरणी नक्षत्र 2-  भरणी नक्षत्र में जन्में जातकों को जन्म लेने वाले, गृह सेवक, शवगृह अधिकारी, दाह संस्कार से संबंधित कार्य करने चाहिए। वे बच्चों का ध्यान रखने वाले या नर्सरी स्कूल के अध्यापक के तौर पर भी कार्य कर सकते हैं। तंबाकू, कॉफी, चाय से जुड़े क्षेत्र भी लाभ पहुंचाएंगे।

कृत्तिका नक्षत्र 3- कृत्तिका नक्षत्र में जन्म लेने वाले लोग ऐसे क्षेत्र में सफल हो सकते हैं जो नुकीली चीज या तेज धार से जुड़े हों। आप चाकू, तलवार के निर्माण से जुड़ सकते हैं या फिर अच्छे लोहार या वकील भी साबित हो सकते हैं। अगर आप ऐसे किसी कार्य से जुड़ते हैं, जिसके अनुसार नशे के आदी लोगों को सुधारा जाता है तो अवश्य सफलता मिलेगी।

रोहिणी नक्षत्र 4- रोहिणी नक्षत्र से संबंधित लोग खानपान के कार्य से जुड़ेंगे तो सफलता मिलेगी। खाना बनाना हो या फिर बांटना, ये कार्य आपके लिए उत्तम हैं। इसके अलावा कला का क्षेत्र भी आपके लिए है। आप अच्छे कलाकार, गायक, संगीतकार भी हो सकते हैं। इस नक्षत्र में जन्मे लोग रचनात्मक होते हैं।

मृगशिरा नक्षत्र 5- यात्रा से जुड़े कार्य में अगर आप संलग्न हैं तो आपको अवश्य ही सफलता मिलेगी। इसके अलावा शिक्षा, खगोलशास्त्र, पैसे का हिसाब-किताब रखना, ये सभी क्षेत्र भी आपको लाभ दिलवाएंगे। कपड़े के काम में लिप्त लोगों को भी लाभ मिलेगा।

आर्द्रा नक्षत्र 6- बिजली के उपकरण या बिजली से संबंधित कोई अन्य कार्य करना आपके लिए फायदेमंद रहेगा। कंप्यूटर, तकनीक, गणित, वैज्ञानिक, गेमिंग, आदि से संबंधित क्षेत्र आपके लिए हैं। इसके अलावा डिब्बा बंद खाद्य पदार्थ का काम भी आपको सूट करेगा। अगर आप जासूस हैं या रहस्य सुलझाने जैसे कार्य कर रहे हैं तो भी आपको सफलता मिलेगी।

पूर्नवसु नक्षत्र 7-  काल्पनिक कहानियां लिखना, या खरीदने-बेचने से संबंधित कोई कार्य करना, ये आपके लिए फायदेमंद साबित होंगे। यात्रा और रख-रखाव से संबंधित कार्य भी आप कर सकते हैं। अगर आप होटल मैनेजमेंट में कार्यरत हैं या फिर दीक्षा देने का काम करते हैं तो आपको फायदा मिलेगा। इतिहासकार या भेड़-बकरियों को पालने वाले लोग भी सफलता प्राप्त करेंगे।

पुष्य नक्षत्र 8- दूध से संबंधित व्यापार करने वाले लोग सफलता प्राप्त करेंगे। कैटरिंग और होटल भी अच्छे व्यवसाय में हैं। नेता, शासक, धार्मिक कार्य करने वाले लोग, शिक्षक और अध्यापक आदि लोग लाभ प्राप्त करते हैं।

अश्लेषा नक्षत्र 9- पेट्रोलियम, सिगरेट, कानूनी, दवाइयों से संबंधित इंडस्ट्री से जुड़े लोग अवश्य लाभ प्राप्त करेंगे। इस नक्षत्र में जन्मे लोग तांत्रिक, सांप का जहर, बिल्ली पालने वाले, सीक्रेट सर्विस करने वाले, मनोवैज्ञानिक होते हैं। ये पोंगे पंडित और आत्माओं को बुलाने वाले भी होते हैं।

माघ नक्षत्र 10- इस नक्षत्र में जन्म लेने वाले लोग शाही तो नहीं होते लेकिन उनका शाही घरानों से सीधा संपर्क रहता है। वे उनके मैनेजर भी हो सकते हैं और महत्वपूर्ण कर्मचारी भी। इसके अलावा सरकार के अधीन बड़े पदों में काम करने वाले, बड़े वकील, जज, नेता, वक्ता, ज्योतिष, पुरातत्व वैज्ञानिक भी इसी नक्षत्र में जन्म लेने वाले होते हैं।

पूर्वफाल्गुनी नक्षत्र 11- इस नक्षत्र में जन्मे लोग अगर महिलाओं से संबंधित सामान या बहुमूल्य रत्नों का व्यापार करते हैं तो उन्हें अवश्य ही सफलता मिलती है। ब्यूटीशियन, गायक, घर की साज-सज्जा या अन्य रचनात्मक क्षेत्र से जुड़े लोग अवश्य ही सफल होते हैं। विवाह से संबंधित हर कॅरियर भी आप ही के लिए हैं।

उत्तराफाल्गुनी नक्षत्र 12- मनोरंजन, खेल और कला से संबंधित क्षेत्रों में कार्य करने वाले लोग अवश्य ही सफलता प्राप्त करते हैं। इस नक्षत्र में जन्मे धार्मिक संस्थानों के मुखिया या पुजारी, परोपकार करने वाले, दान-पुण्य के कार्य से जुड़े, शादी-विवाह से संबंधित सलाह देने वाले या अंतरराष्ट्रीय मसलों से संबंधित लोग भी सफलता प्राप्त करते हैं।

हस्त नक्षत्र 13- गहने बनाने वाले लोग, सेहत से संबंधित कार्य करने वाले, हास्य कलाकार, काल्पनिक कहानियां लिखने वाले, उपन्यासकार, रेडियो या टेलिविजन इंडस्ट्री से जुड़े लोगों का संबंध अगर हस्त नक्षत्र से है तो उन्हें अवश्य ही सफलता मिलती है।

चित्रा नक्षत्र 14- अपना व्यापार चलाने वाले, घर की साज-सज्जा, गहने बनाने, फैशन डिजायनर, मॉडल्स, कॉस्मेटिक, वास्तु-फेंगशुई, ग्राफिक आर्टिस्ट, सर्जन, प्लास्टिक सर्जन, स्टेज आर्टिस्ट, गायक, इन क्षेत्रों में कार्यरत लोग सफलता प्राप्त अवश्य करते हैं।

स्वाति नक्षत्र 15- व्यवसाय चलाने वाले, गायक, वाद्य यंत्र बजाने वाले, अध्ययन कार्य में संलिप्त, स्वतंत्र कार्य करने वाले, सामाजिक सेवा में लिप्त, लोग सफल होते हैं, इसके अलावा न्यूज रीडर, कंप्यूटर्स और सॉफ्टवेयर इंडस्ट्री में काम करने वाले लोग सफलता पाते हैं।

विशाखा नक्षत्र 16- शराब, फैशन, कला और साथ ही बोलने संबंधित क्षेत्रों में कार्य करने वाले लोग सफलता हासिल करते हैं। इसके अलावा सफल राजनेता, खिलाड़ी, धार्मिक नेता, नर्तक, सैनिक, आलोचक, अपराधियों का संबंध भी इसी नक्षत्र से है।

अनुराधा नक्षत्र 17- सम्मोहन क्रिया में लिप्त, ज्योतिषशास्त्री, सिनेमा संबंधित क्षेत्र, फोटोग्राफर, फैक्टरी में काम करने वाले मजदूर, औद्योगिक क्षेत्र से संबंधित, वैज्ञानिक, गणितज्ञ, डेटा एक्सपर्ट, अंकशास्त्र विशेषज्ञ, खदानों में काम करने वाले, विदेश व्यापार से संबंधित लोग सफलता प्राप्त करते हैं।

ज्येष्ठ नक्षत्र 18- नीति निर्माण से संबंधित क्षेत्रों में कार्य करने वाले लोग, सरकारी अधिकारी, रिपोर्टर्स, रेडियो जॉकी, न्यूज रीडर, टॉक शो होस्ट, वक्ता, काला जादू करने वाले, जासूस, माफिया, सर्जन, हस्त कारीगर, एथलीट्स, आदि क्षेत्रों से संबंधित लोग सफलता प्राप्त करते हैं।

मूल नक्षत्र 19- इस नक्षत्र में जन्म लेने वाले लोगों के लिए दवाइयों से संबंधित क्षेत्र, न्याय, जासूसी, रक्षा, अध्ययन, जैसे कार्य सफलता दिलवाएंगे। इसके अलावा वक्ता, सार्वजनिक नेता, सब्जियों के व्यापारी, अंग रक्षक, मल्लयुद्ध करने वाले पहलवान, गणितज्ञ, सोने की खान में काम करने वाले, घुड़सवारी में भी सफल होते हैं।

पूर्वाषाढ़ा नक्षत्र 20- पानी के जहाज संबंधी उद्योग में काम करने वाले प्रेरण, अध्यापक, भाषण देने वाले, फैशन एक्सपर्ट्स, कच्चे सामान का विक्रय करने वाले, बालों की सजावट देखने वाले, तरल पदार्थों का कार्य करने वाले लोग सफलता प्राप्त करते हैं।

उत्तराषाढ़ा नक्षत्र 21- ज्योतिष, वकील, सरकारी अधिकारी, सेना में कार्यरत, अध्ययनकर्ता, सुरक्षा कार्य, व्यापारी, प्रबंधक, क्रिकेट खिलाड़ी, राजनेता और उत्तरदायित्व निभाने वाले कार्यों को करने मे सफल होते हैं।

श्रवण नक्षत्र 22- किसी भी क्षेत्र में काम करने वाले अध्यापक, वक्ता, बौद्धिक, छात्र, भाषाविद, कहानीकार, हास्य अभिनेता, गायन से संबंधित क्षेत्र से जुड़े लोग, टेलिफोन ऑपरेटर्स, मनोवैज्ञानिक, यातायात से संबंधित क्षेत्र में कार्यरत, लोग सफलतम होते हैं।

धनिष्ट नक्षत्र 23- गायन, वादन, नृत्य, म्यूजिक बैंड...इन सबसे संबंधित क्षेत्र के लोग सफलता पाते हैं। इसके अलावा मनोरंजन उद्योग, रचनात्मक क्षेत्र, कवि, ज्योतिषशास्त्री, प्रेत आत्माओं को बुलाने वाले तांत्रिक तन्त्र,मन्त्र, करने में सफलता हासिल करते हैं।

शतभिषा नक्षत्र 24- ड्रग्स या दवाइयों से संबंधित क्षेत्र में काम करने वाले लोग सफलता प्राप्त करते हैं। सर्जन, मदिरा से जुड़े क्षेत्रों में कार्यरत लोग भी सफलता पाते हैं।

पूर्वभाद्रपद नक्षत्र 25- मृत्यु से संबंधित किसी भी व्यवसाय से जुड़े लोग सफल होते हैं। कॉफिन बनाने वाले, कब्र खोदने वाले, अंतिम संस्कार से संबंधित सामान का व्यापार करने वाले सफलता पाते हैं। इसके साथ-साथ आतंकवादी, हथियार बनाने वाले, काला जादू करने वाले लोग भी सफलता पाते हैं। उल्टे पुल्टे कार्यों से जीवन यापन करने में सफल हो जाते है।

उत्तरभाद्रपद नक्षत्र 26- योग और ध्यान से संबंधित क्षेत्रों में कार्यरत लोग सफलता प्राप्त करते हैं। तंत्र-मंत्र करने वाले और रुहानी ताकतों से संपर्क स्थापित करने वाले लोगों को सफलता अवश्य मिलती है। इसके अलावा दान-पुण्य करने वाले लोग सफल होते हैं। सामाजिक संघटन से लाभ लेने और लाभ देने से सफलता प्राप्त करते है।

रेवती नक्षत्र 27- सम्मोहन क्रिया करने वाले लोग, जादूगर, गायक, कलाकार, आर्टिस्ट, हास्य कलाकार, मनोरंजन करने वाले, कंस्ट्रक्शन बिजनेस से जुड़े लोग सफलता पाते हैं। पुजारी, कथा वाचक, वक्ता, धार्मिक संस्थानों में कार्यरत होने से सफल होते हैं।
 

कमेंट करें
t049C