comScore
Dainik Bhaskar Hindi

यहां आयोजित होता है दूसरे की पत्नी चुराने का फेस्टिवल

BhaskarHindi.com | Last Modified - November 24th, 2017 15:34 IST

717
0
0

डिजिटल डेस्क, प्राया। आदिवासियों की कितनी ही परंपराओं के बारे में अब तक आपने सुना होगा। इनमें सबसे ज्यादा रोचक इनकी शादी की परंपराएं होती हैं। फिर चाहे वह इंडिया में हो या अफ्रीका में या फिर किसी अन्य देश में। कई बार तो इनके बारे में जानकर इनके कल्चर पर हैरानी भी होती है। यहां आपको एक ऐसी ही परंपरा के बारे में बताया जा रहा है जिसके अनुसार ये लोग एक-दूसरे की बीवियों को पहले चुराते हैं फिर शादी करते हैं। 

परिवार की सहमति और मर्जी

जी हां, पश्चिमी अफ्रिका की वोदाब्बे जनजाति में ये परंपरा है। जिसके लिए एक अच्छे खासे फेस्टिवल का आयोजन भी हर साल होता है। इस परपंरा के अनुसार ये लोग दो शादी कर सकते हैं, लेकिन पहली शादी इन्हें परिवार की सहमति और मर्जी से करना होती है, लेकिन दूसरी शादी दूसरे की पत्नी चुराकर ही होती है। 

लड़के चेहरे पर रंग लगाकर आते हैं

इस अनोखे फेस्टिवल के दिन लड़के चेहरे पर रंग लगाकर आते हैं। ये खुद को तैयार करते हैं और विवाहित महिला को रिझाते हैं। महिला को रिझाते वक्त इस बात का ध्यान रखा जाता है कि महिला का पति ये नजारा ना देखे और ना ही उसे इसकी खबर लगे। 

लव मैरिज मानते हैं और उसे स्वीकारते भी हैं

इस तरह की शादी को इस समुदाय के लोग लव मैरिज मानते हैं और उसे स्वीकारते भी हैं, लेकिन इसके लिए जरूरी है कि पहले विवाहित महिला उसी युवक से शादी करने तैयार हो जाए जो उसे रिझाने की कोशिश कर रहा है। इस मामले में उसके साथ किसी तरह की जबरदस्ती नही की जा सकती। दूसरे की पत्नी काे भगाने अाैर फिर उससे शादी करने का ये अनाेखा त्याेहार इसी जनजाति में देखने मिलता है।  शुरूअात के बारे में खास जानकारी नही है लेकिन  इसे काफी पुराना बताया जाता है।

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें

ई-पेपर