comScore

आखिर बलात्कार के पीछे क्या है असली वजह? जानें यहां

September 06th, 2018 08:50 IST
आखिर बलात्कार के पीछे क्या है असली वजह? जानें यहां

डिजिटल डेस्क। आजकल रेप जैसी घटनाएं आम सी हो गई है। आए दिन मीडिया में हम बलात्कार की खबरें इतना सुनते रहते हैं कि अब कहीं पर अगर कोई बलात्कार की घटना होती है तो हमें उससे ज्यादा फर्क ही नहीं पड़ता। कई पढ़े-लिखे लोग भी बलात्कार के लिए महिलाओं के रहन-सहन और उनके पहनावे को दोषी मानते हैं। हमारा सभ्य समाज आज भी पुरुषों की इस गलती पर पर्दा डाल देता है और पीड़ित महिला को ही इसके लिए जिम्मेदार ठहरा देते हैं, लेकिन वास्तव में बलात्कार के लिए तो पुरुष ही जिम्मेदार हैं ना। अगर कोई महिला थोड़ा खुलकर रहना चाहती है, लड़कों की तरह ही आजाद घूमना चाहती है तो इसमें उसकी क्या गलती है? असल में कभी हमारा इस बात पर ध्यान ही नहीं गया या हम ध्यान देना ही नहीं चाहते कि 'बलात्कार' के पीछे क्या कारण है? इसलिए आज हम आपको बताते हैं कि बलात्कार के पीछे की असली वजह क्या है? 

महिलाएं सिर्फ सेक्शुअल जरुरतों के लिए है 

हम हमेशा से ये सुनते आ रहे हैं कि हमारे समाज में पुरुषों ने ही अधिकार किया है, जबकि महिलाएं सिर्फ और सिर्फ घर संभालने के लिए और पुरुषों की सेक्शुअल जरुरतों को पूरा करने के लिए ही बनीं हैं। इस वजह से कुछ पुरुष महिलाओं पर अपना अधिकार दिखाने के लिए ऐसी हरकतें करते हैं। 

मेंटल डिसऑर्डर

कई साइक्राइटिस्ट का मानना है कि कई पुरुष कुछ ज्यादा ही मेंटल डिसऑर्डर से पीड़ित होते हैं, जिस वजह से वो अपने साथ-साथ अपने आसपास के लोगों को भी नुकसान पहुंचाते हैं। कई बार ऐसी स्थिति में पुरुषों को महिलाओं को नुकसान पहुंचाने में काफी खुशी और आत्म संतुष्टि मिलती है, जिस कारण वो रेप जैसी भयावह घटनाओं को अंजाम देते हैं। 

न्यूरोलॉजिकल इंपेयरमेंट

आमतौर पर हमारे आसपास कई ऐसे लोग होते हैं,जो पढ़ने-लिखने में कमजोर या फिर दब्बू किस्म के लोग होते हैं। कई वैज्ञानिकों का मानना है कि ये सेक्स को लेकर काफी आक्रामक रहते हैं। ऐसे लोग हार्मोनल फंक्शन के कारण एग्रीसेवनेस और सेक्स के बीच का अंतर नहीं समझ पाते। 

खुद को ताकतवर साबित करने के लिए

कई लोग ऐसे होते हैं, जिन्हें समाज में बहुत कमजोर समझा जाता है या फिर उनसे कोई किसी तरह की उम्मीद नहीं रखता है। ऐसे लोगों का समाज में भी जमकर मजाक बनाया जाता है, जिससे निराश होकर ये लोग अपने घर-परिवार या आसपास के लोगों के सामने अपना अधिकार दिखाने या ताकतवर बनने की कोशिश करते हैं। इसके लिए वो बलात्कार जैसी घटनाओं को अंजाम देने से भी बाज नहीं आते, क्योंकि उन्हें ऐसा लगता है कि ऐसा करके वो उस महिला पर अधिकार दिखाते हैं। 

सेक्शुअल असॉल्ट

आज हम जिस समाज में जी रहे हैं वहां पर रेप को तो गलत माना गया है, लेकिन सेक्स और सेक्शुअल असॉल्ट को लेकर हम बहुत नॉर्मल बिहेव करते हैं। सेक्स रिलेटेड जोक्स, वल्गर कंटेंट ये सब एक तरह से सेक्शुअल असॉल्ट का ही हिस्सा है। सेक्शुअल असॉल्ट को भी रेप के लिए कई डॉक्टरों और साइक्राइटिस्ट ने जिम्मेदार माना है।  

कमेंट करें
Nltcy