comScore

आजम के बचाव में बोले जीतनराम मांझी- मां बेटे को चूमती है क्या ये सेक्स है?

आजम के बचाव में बोले जीतनराम मांझी- मां बेटे को चूमती है क्या ये सेक्स है?

हाईलाइट

  • आजम खान के बचाव में बोले हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा के नेता और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी
  • आजम के बयान का गलत मतलब निकाला गया। वह माफी मांगें, लेकिन इस्तीफे के जरूरत नहीं

डिजिटल डेस्क, नवादा। सपा सांसद आजम खान की बीजेपी की महिला सांसद रमा देवी को लेकर की गई टिप्पणी पर बवाल मचा हुआ है। बीजेपी समेत सभी दलों के सांसद उनसे माफी की मांग कर रहे हैं, लेकिन बिहार के पूर्व सीएम और हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा के अध्यक्ष जीतन राम मांझी को आजम की टिप्पणी में कुछ गलत नहीं लगा। उन्होंने आजम खान का बचाव करते हुए कहा कि, आजम माफी मांगें, लेकिन इस्तीफे के जरूरत नहीं है।

दरअसल गुरुवार को लोकसभा में तीन तलाक बिल पर चर्चा के दौरान आजम खान जब बोलने के लिए खड़े हुए तो उन्होंने कहा, मुख्तार अब्बास नकवी कहां हैं। इस पर स्पीकर रमा देवी ने कहा, वह इधर-उधर की बात न करें बल्कि चेयर को संबोधित करते हुए बोलें। इसी दौरान आजम खान ने रमा देवी को लेकर अशोभनीय टिप्पणी की, जिसके बाद उन्हें सदन की कार्यवाही से निकाल दिया गया। आजम खान की इस टिप्पणी की लगातार आलोचना हो रही है और उनके इस्तीफे की मांग भी की जा रही है।

इसी बीच आजम खान को हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा के नेता और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम का समर्थन मिला है। मांझी ने सपा नेता के बचाव में की गई अपनी टिप्पणी से एक और विवाद खड़ा कर दिया है। मांझी ने आजम के बचाव में कहा, जब कोई भाई-बहन मिलते हैं तो एक दूसरे के चुम्मा लेते हैं, क्या यह सेक्स है। मां अपने बेटे के चुम्मा लेती है, बेटा मां को चुम्मा लेता है, क्या यह सेक्स होता है? आजम खान ने भी उसी लहजे में संसद में अपनी बात कही थी। मगर उनके बयान का गलत मतलब निकाला गया। उनके बयान का गलत मतलब निकाला गया। वह अपनी टिप्पणी पर माफी मांगें, लेकिन इस्तीफे के जरूरत नहीं।

कमेंट करें
uZfYh