comScore
Dainik Bhaskar Hindi

केन्द्र की राजनीति पर ममता की निगाहें, पं. बंगाल में कौन संभालेगा सत्ता?

BhaskarHindi.com | Last Modified - June 13th, 2018 17:16 IST

1.9k
0
0
केन्द्र की राजनीति पर ममता की निगाहें, पं. बंगाल में कौन संभालेगा सत्ता?

डिजिटल डेस्क, कोलकाता। भारतीय राजनीति में बीजेपी के खिलाफ महागठबंधन की आहट के साथ ही पश्चिम बंगाल सीएम ममता बनर्जी की निगाहें भी केन्द्र की ओर हो गई हैं। वे बीजेपी के खिलाफ बन रहे इस मोर्चे को जोर-शोर से ताकत देने में लगी हुई हैं। इस साल मार्च में इसके लिए ममता ने विभिन्न विपक्षी दलों के नेताओं से दिल्ली में मुलाकात भी की थी। कर्नाटक में कांग्रेस के साथ मिलकर सरकार बनाने वाले जेडीएस नेता कुमारस्वामी के शपथ ग्रहण समारोह में भी ममता शामिल हुई थी। ग्यारह विपक्षी दलों के नेताओं ने यहां बीजेपी के खिलाफ एकजुट होकर लड़ने का संकेत दिया था। पिछले दिनों ममता अपनी जन रैलियों और बयानों में भी बीजेपी के खिलाफ महागठबंधन का आह्वान करती नजर आई हैं। ऐसे में जाहिर है कि ममता पूरी तरह से केन्द्र की राजनीति पर अपनी नजर गढ़ाए हुए है। अगर वाकई 2019 में कोई बड़ा उलटफेर होता है और ममता केन्द्रीय राजनीति में आती है तो बड़ा सवाल यह है कि पश्चिम बंगाल में उनकी विरासत कौन संभालेगा?

केन्द्रीय राजनीति में ममता!
पिछले कुछ समय से ममता बनर्जी लगातार केन्द्र की बीजेपी सरकार पर निशाना साधती रही है। बीजेपी के खिलाफ मोर्चाबंदी में भी वे लीड करती रही हैं। राजनीतिक विशेषज्ञ का भी मानना है कि इन सब के पीछे ममता की महत्वकांक्षा महागठबंधन का पीएम उम्मीदवार बनने की हो सकती है। केन्द्र की राजनीति में उनकी जबरदस्त सक्रियता भी कुछ इसी ओर इशारा कर रही है।

बंगाल में कौन संभालेगा सत्ता ?
राजनीतिक जानकारों का कहना है कि ममता यदि केन्द्रीय राजनीति में आती है तो पश्चिम बंगाल में उनकी जगह उनके भतीजे अभिषेक बनर्जी संभाल सकते हैं। पिछले कुछ समय से यह देखा भी गया है कि राज्य की सियासत में ममता ने अपने भतीजे अभिषेक बनर्जी को बड़ा रोल दिया है। पिछले दिनों टीएमसी नेता मदन मित्रा ने भी कहा था कि अभिषेक बनर्जी बंगाल में युवाओं के चेहरे हैं और आज के नेता ही कल की उम्मीदें हैं।

बता दें कि अभिषेक बनर्जी 2010 में तृणमूल युवा के अध्यक्ष बने थे। 2014 में डायमंड हार्बर लोकसभा सीट से उन्होंने जीत दर्ज की थी। इसके कुछ ही महीनों बाद तृणमूल युवा को तृणमूल यूथ कांग्रेस में मर्ज कर दिया गया था।

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ई-पेपर