comScore
Dainik Bhaskar Hindi

जानें क्यों कोलकाता की पुलिस पहनती है सफेद वर्दी

BhaskarHindi.com | Last Modified - February 13th, 2019 12:02 IST

4.9k
1
0
जानें क्यों कोलकाता की पुलिस पहनती है सफेद वर्दी

डिजिटल डेस्क। यूं तो पूरे देश में पुलिस की वर्दी खाकी रंग की होती है, लेकिन कोलकाता पुलिस की वर्दी का रंग सफेद होता है, क्या कभी आपने सोचा है कि वहां की पुलिस सफेद यूनिफॉर्म क्यों पहनती है? आखिर ऐसा किस वजह से है?  तो चलिए जानते हैं इसके पीछे क्या वजह है। 

दरअसल खाकी वर्दी और सफेद वर्दी अंग्रेजों के जमाने से ही चली आ रही है। ब्रिटिश राज में जब पुलिस का गठन हुआ था, तब उनकी पुलिस वाइट यूनिफॉर्म पहनती थी, लेकिन लंबे समय तक ड्यूटी करने के दौरान वह जल्दी ही गंदी हो जाया करती थी। इस वजह से पुलिसकर्मियों ने वर्दी को जल्दी गंदा होने से बचाने के लिए उसे अलग-अलग रंगों में रंगना शुरु कर दिया। 

सफेद वर्दी पर अलग- अलग रंग लगाने की वजह से यूनिफॉर्म अलग-अलग रंगों की दिखने लगती थी, लेकिन ऐसे में ये पहचनना मुश्किल हो जाता था कि वो शख्स पुलिस का ही जवान है की नहीं। इसी समस्या से निपटने के लिए अंग्रेजी अफसरों ने खाकी रंग की वर्दी बनवाई, ताकि वो जल्दी गंदी न हो। साल 1847 में अंग्रेज अफसर सर हैरी लम्सडेन ने पहली बार आधिकारिक तौर पर खाकी रंग की वर्दी को अपनाया था। तब से यही खाकी भारतीय पुलिस की वर्दी बन गई, जो अब तक चली आ रही है। 

आपको जानकर हैरानी होगी कि पश्चिम बंगाल में पुलिस खाकी वर्दी ही पहनती है, लेकिन वहीं की कोलकाता पुलिस सफेद वर्दी पहनती है। दरअसल कोलकाता पुलिस को भी उस समय खाकी वर्दी पहनने का प्रस्ताव दिया गया था, लेकिन उन्होंने उसे खारिज कर दिया था। इसके पीछे की वजह उन्होंने ये बताई कि कोलकाता एक तटीय इलाका है और यहां काफी गर्मी और नमी रहती है। ऐसे में वैज्ञानिक दृष्टिकोण से सफेद रंग ज्यादा बेहतर है, क्योंकि इस रंग से सूरज की रोशनी परिवर्तित हो जाती है। जिससे ज्यादा गर्मी नहीं लगती है।  

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें

app-download