comScore

पन्ना में दर्दनाक हादसा: बस से जैसे ही बाहर निकाला सर, खंभे से कट गई महिला की गर्दन

January 18th, 2019 18:59 IST
पन्ना में दर्दनाक हादसा: बस से जैसे ही बाहर निकाला सर, खंभे से कट गई महिला की गर्दन

डिजिटल डेस्क, पन्ना। मौत कितनी दर्दनाक हो सकती है इसका उदाहरण यहां मप्र के पन्ना जिले में देखने मिला। करीब 65 साल की महिला अपने दामाद के साथ अपने घर बक्सवाहा जिला छतरपुर जा रही थी। महिला खिड़की वाली सीट पर बैठी हुई थी। इसी दौरान उसने अपना सिर खिड़की से बाहर निकाला और रास्ते में लगे खंभे से टकरा गया, जिससे उसकी गर्दन कटकर अलग हो गई। घटना के बाद से ऐसा लगा मानो मौत इसका ही इंतजार कर रही थी। घटना के बाद से बस में हड़कंप की स्थिति निर्मित हो गई। सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने पंचनामा कर शव को पोस्ट मार्टम के लिए भेजा है।

गर्दन धड़ से अलग होते ही मच गई चीख पुकार
पन्ना सतना राष्ट्रीय राज्य मार्ग पर पन्ना नगर के डायमंड चौक के समीप छत्रसाल महाविद्यालय के सामने आज दोपहर 2:30 बजे सतना से पन्ना के लिए आ रही यात्री बस जैसे ही साइंस कॉलेज के समीप एक मिनी ट्रक से क्रासिंग ले रही थी, तभी छतरपुर जिले के ग्राम बकस्वाहा के गुग्वारा निवासी श्रीमती आशा रानी पति स्व.शिवनारायण खरे उम्र 65 वर्ष ने अपनी गर्दन बस के बाहर निकाल दी। जिसके बाद महिला की गर्दन विद्युत पोल से जा लगी और गर्दन धड़ से अलग हो गई। यह हादसा देखते ही बस में सवार यात्रियों में हड़कंप मच गया।

मौके पर पहुंची पुलिस
अम्बे ट्रेवल्स बस क्रमांक एमपी-19-पी-1856 का बस चालक बस छोड़कर मौके से फरार हो गया। घटना की सूचना पाते ही कोतवाली पन्ना से उपनिरीक्षक मुन्ना लाल यादव, एम.डी.शाहिद, पुलिस आरक्षक रावत पुलिस बल के साथ घटना स्थल पर पहुंच गए। पुलिस ने घटना स्थल का निरीक्षण किया एवं मौके से साक्ष्य एकत्रित किये एवं शव को अपने कब्जे में लिया गया।

लोगों की लगी भीड़
घटना स्थल पर हादसे के बाद जैसे ही भीड़ काफी अधिक बढ़ने लगी वैसे ही कोतवाली पुलिस ने अपनी सूझबूझ से काम लेते हुए यात्री बस को घटना स्थल से तत्काल कोतवाली थाना में सुरक्षा की दृष्टि से भेजा गया।

सीधी से छतरपुर दामाद के साथ जा रही थी महिला
घटना में मृत हुई महिला अपनी बेटी की ससुराल सीधी गयी हुई थी। जहां से आज अपने दामाद प्रदीप खरे निवासी सीधी के साथ अपने घर बक्सवाहा जिला छतरपुर जा रही थी। पर एकाएक यह घटना हो जाने से बस में मौजूद दामाद दंग रह गया। जिसके बाद घटना की जानकारी प्रदीप खरे ने दूरभाष के माध्यम से अपने परिवार को एवं ससुराल पक्ष के लोगों को दी।

कमेंट करें
K1cSJ