comScore

महिला ठगों ने इंजीनियर को लगाई हजारों की चपत

महिला ठगों ने इंजीनियर को लगाई हजारों की चपत

डिजिटल डेस्क, नागपुर। दो महिला ठगों ने शहर के एक इंजीनियर युवक को 51 हजार से ठग लिया। मामला प्रतापनगर थानांतर्गत का है। दिल्ली की दो महिला ठगों ने नागपुर के एक युवक को नौकरी लगाने के नाम पर साफ्टवेयर कंपनी में कार्यरत इंजीनियर युवक के साथ यह ठगी की। पहली बार दोनों  महिला आरोपियों ने पीड़ित युवक अमोघ शशिकांत हस्तक (24) से मोबाइल फोन पर संपर्क किया था। उसके बाद दोनों ने उसे इंडिगो एयर लाइन में एमआर मैनेजर की नौकरी दिलाने का झांसा देकर उसके साथ ठगी की। 

खुद को एयर लाइंस के एचआर विभाग में होने का दिया झांसा
पुलिस सूत्रों के अनुसार रामकृष्ण नगर खामला निवासी अमोघ हस्तक ने गत दिनों प्रतापनगर थाने में आरोपी श्वेता और नेहा सिंह नामक महिलाओं के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज कराया है। उसने पुलिस को बताया कि श्वेता ने गत 10 मई को सुबह करीब 10.30 बजे अमोघ को मोबाइल पर फोन किया। श्वेता ने अमोघ से कहा कि वह फ्यूचर जॉब सोल्यूशन कंपनी की प्रतिनिधि है। इसी तरह नेहा सिंह ने भी अमोघ को फोन कर उससे कहा कि वह इंडिगो एयर लाइन कंपनी के एचआर विभाग में होना बताया। दोनों महिलाओं ने अमोघ से कहा कि वह उसे इंडिगो एयर लाइंस कंपनी में एमआर मैनेजर की नौकरी दिला सकती हैं। दोनों महिलाओं ने दिल्ली से फोन किया था। अमोघ महिला आरोपियों के झांसे में आ गया था।

बैंक खाते में डाले पैसे
दाेनों महिलाओं ने अमोघ से अलग-अलग बैंक खातों में इस नौकरी के लिए कागजी कार्रवाई प्रक्रिया पूरी करने के नाम पर करीब 51 हजार रुपए जमा कराया। उसके बाद वह उससे और रकम की मांग करने लगीं, तब अमोघ को समझ में आ गया कि उसके साथ श्वेता और नेहा ने ठगी की है। इन दोनों महिला आरोपियों ने कई बार उसे फोन किया, लेकिन अमोघ 51 हजार रुपए गंवाने के बाद सतर्क हो चुका था। उसने दोनों महिला आरोपियों के बरगलाने के बाद दोबारा उनके झांसे में नहीं आया। उसने प्रतापनगर थाने में वरिष्ठ थानेदार सुनील शिंदे से मुलाकात की। शिंदे के आदेश पर थाने के सहायक पुलिस निरीक्षक पेठे ने आरोपी श्वेता और नेहा सिंह के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस जांच कर रही है।

कमेंट करें
YMcGg