comScore
Dainik Bhaskar Hindi

राफेल डील भ्रष्टाचार में शामिल हैं पीएम मोदी- यशवंत सिन्हा

BhaskarHindi.com | Last Modified - September 13th, 2018 13:12 IST

4.2k
1
0
राफेल डील भ्रष्टाचार में शामिल हैं पीएम मोदी- यशवंत सिन्हा

News Highlights

  • राफेल डील मामले पर सिन्हा ने मोदी पर लगाए गंभीर आरोप
  • राफेल डील भ्रष्टाचार में पीएम मोदी शामिल - सिन्हा
  • राफेल डील देश का सबसे बड़ा रक्षा खरीद घोटाला


डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। राफेल डील पीएम मोदी सहित भाजपा सरकार के लिए गले की फांस बनी हुई है। विपक्षी दल लगातार मोदी सरकार पर लगातार निशाना साध रहे हैं। अब राफेल डील को लेकर पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा के साथ अरुण शौरी ने मोदी सरकार पर गंभीर आरोप लगाए हैं। वित्त मंत्री रह चुके यशवंत सिन्हा और अरुण शौरी ने मीडिया से चर्चा के दौरान कहा कि राफेल डील को एकतरफा अंतिम रूप देते हुए सरकार ने रक्षा खरीद के सभी नियमों की अनदेखी की है, पीएम मोदी ने राष्ट्रीय सुरक्षा के साथ समझौता किया है।

सरकार झूठ फैला रही है
मीडिया से चर्चा के दौरान सिन्हा और शौरी ने सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि देश के सबसे बड़े रक्षा खरीद घोटाले में मोदी की संलिप्तता को छुपाने के लिए सरकार ने भ्रम फैलाया है। इस दौरान सिन्हा और शौरी के साथ वकील प्रशांत भूषण भी मैजूद रहे।

झूठ के जाल में सरकार
अरुण शौरी ने कहा कि सरकार ने जो भी सफाई दी, उसने सरकार को झूठ के जाल में फंसाने का ही काम किया है। शौरी ने कहा कि पीएम मोदी को संप्रग सरकार के सौदे को बदलने का कोई अधिकार नहीं था। यह काम संबंधित लोगों के द्वारा 7-8 वर्षों की मेहनत से संभव हो पाया था। यशवंत सिन्हा, अरुण शौरी पहले भी कई मौकों पर सरकार को घेरते हुए नजर आए हैं। 

आप की रैली में हुए थे शामिल
हाल ही में आप द्वारा आयोजित एक रैली में यशवंत सिन्हा के साथ सांसद शत्रुघ्न सिन्हा भी शामिल हुए थे। यशवंत सिन्हा ने इस मंच से भी मोदी सरकार की जमकर आलोचना की थी। शत्रुघ्न सिन्हा ने बिना नाम लिए मोदी को तानाशाह तक कह दिया था। वहीं रैली के दौरान दिल्ली के साीएम अरविंद केजरीवाल ने यशवंत सिन्हा से आप के मंच से लोकसभा चुनाव लड़ने का आग्रह किया। केजरीवाल ने रैली में मौजूद लोगों से पूछा कि क्या यशवंत जी को चुनाव लड़ना चाहिए? इसका जवाब जनता ने 'हां' में दिया, जिसके बाद केजरीवाल ने कहा कि देखिये मैं नहीं कह रहा जनता चाहती है कि आप चुनाव लड़ें।

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें

ई-पेपर