comScore

युवती व नाबालिग गुड़गुड़ा रहे थे हुक्का, हंगामा मचाने की कोशिश

युवती व नाबालिग गुड़गुड़ा रहे थे हुक्का, हंगामा मचाने की कोशिश

डिजिटल डेस्क, जबलपुर। ब्लूम चौक के पास स्थित ए-वन कैफे  में एक युवती एवं तीन नाबालिग किशोरों को हुक्का गुड़गुड़ाते पकड़े जाने से हड़कम्प मच गया। कई लोग तो पुलिस को कैफे में घुसते देखकर ही भाग निकले, लेकिन एक युवती  एवं तीन नाबालिग भाग नहीं पाये। उन्हें ओमती पुलिस ने दबोच लिया। इस मामले में पांच लोगों को गिरफ्तार किया गया है, जिसमें कैफे संचालक रंजीत बर्मन भी शामिल है। इस संदर्भ में ओमती थाना प्रभारी नीरज वर्मा ने जानकारी दी है कि कैफे की आड़ में हुक्का बार चलाये जाने की शिकायत मिली थी। रात करीब 9 बजे जब पुलिस ने कैफे पर छापा मारा तो पता चला कि यहाँ पर हुक्का बार भी चल रहा है। नाबालिग छात्र एवं युवती भी हुक्का गुडग़ुड़ाते हुए मिली। युवती  ने इस दौरान हंगामा मचाने की भी कोशिश की, लेकिन उसे हिरासत में ले लिया गया। कैफे के संचालक रंजीत बर्मन को जब पकड़ा गया तो उसका कहना था कि पिछले 15 दिन पहले ही कैफे खोला गया है। कैफे में युवकों की माँग पर ही हुक्के की व्यवस्था की गई है। पुलिस ने हुक्के एवं तम्बाकू आदि सामान को जब्त कर लिया है।

एक दर्जन से अधिक अवैध हुक्का बार 

जानकारी मिली है कि इस समय ओमती, मदन महल एवं गोरखपुर क्षेत्र में एक दर्जन से अधिक हुक्का बार संचालित हो रहे हैं। इनमें अधिकतर छात्र एवं छात्राएँ ही हुक्का पीने पहुँचते हैं। पिछले माह भी गोरखपुर क्षेत्र के तीन कैफे में छापेमारी की गई थी। 

पिंकू काला हत्याकांड के आरोपी पुलिस के कब्जे में

हिस्ट्री शीटर बदमाश पिंकू काला की हत्या के आरोपी रूपक रैकवार उर्फ  लालू उर्फ लूला एवं अक्की उर्फ अनमोल मिश्रा द्वारा कोतवाली सीएसपी के समक्ष सरेंडर कर दिया गया। देर रात किये गए सरेंडर से पुलिस ने अभी इनकार किया है। सूत्रों का कहना है कि सरेंडर कर दिये जाने की चर्चा पूरे दिन चलती रही।  सूत्रों का कहना है कि अक्की एवं लूला का सरेंडर दिन में होना था, लेकिन संभव नहीं हो पाया। वहीं पुलिस इस बात को स्वीकार नहीं कर रही है कि लूला ने सरेंडर किया है। इस मामले में पुलिस लूला एवं अक्की के सरेंडर की बात को छुपाने का प्रयास कर रही है। पुलिस को पिंकू काला हत्या कांड में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले अक्की एवं  लूला की पिछले कई दिनों से तलाश थी और वे गिरफ्तारी से बचने के लिए छिपे हुए थे। सूत्रों का यह भी कहना है कि देर रात आरोपियों को सीएसपी ऑफिस लेकर पूछताछ के लिए लाया गया था और उसके बाद ही यह बात तेजी से फैल गई कि दोनों आरोपी पुलिस के हत्थे चढ़ गए हैं। उनसे हत्या में इस्तेमाल किए गए कट्टे की पूछताछ जारी है। पुलिस आज करेगी खुलासा - इस मामले में कहा जा रहा है कि पुलिस आज मंगलवार को खुलासा करेगी और इसकी तैयारी कर ली गई है। जेल में सुरक्षा बढ़ाई-इधर दूसरी तरफ लूला का एक साथी राहुल टिंडा पर जेल के भीतर हुए हमले के बाद पुलिस ने राहुल की सुरक्षा बढ़ाने को कहा है। उन लोगों की पहचान की जा रही है जो कि पिंकू गैंग से जुड़े हुए हैं।
 

कमेंट करें
WYytj