comScore
Dainik Bhaskar Hindi

बोलेरो और बाइक की टक्कर में एक की मौत, गुस्साए परिजनों ने किया शव रखकर किया प्रदर्शन

BhaskarHindi.com | Last Modified - January 13th, 2019 18:50 IST

1.3k
0
0
बोलेरो और बाइक की टक्कर में एक की मौत, गुस्साए परिजनों ने किया शव रखकर किया प्रदर्शन

डिजिटल डेस्क, सतना। मोटर साइकिल पर अपने मामा के घर जा रहे एक किशोर को सामने से आ रही बोलेरो गाड़ी ने जोरदार टक्कर मार दी। टक्कर लगने के बाद क्षेत्रिय लोगों ने युवक को अस्पताल पहुंचाया, जहां उसकी दर्दनाक मौत हो गई। गुस्साए परिजनों और क्षेत्रिय लोगों ने शव रखकर प्रदर्शन किया, जिससे जाम की स्थिति निर्मित हो गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने स्थिति को नियंत्रित किया।

टक्कर मारकर भागने लगा बोलेरो चालक
मैहर-सतना मार्ग पर बोलेरो की ठोकर से घायल किशोर ने जिला अस्पताल लाए जाते समय दम तोड़ दिया, जिसका एम्बुलेंस चालक ने उचेहरा अस्पताल में उतार दिया। इस बात से नाराज परिजन ने दूसरे वाहन से शव मैहर ले जाकर सड़क पर रख दिया और तीन घंटे तक धरना देते रहे। पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक राजेन्द्र चौधरी पुत्र दद्दा 16 वर्ष निवासी कांसा थाना देहात, शनिवार शाम को बाइक पर सवार होकर ओइला में रहने वाले मामा के घर आ रहा था। तकरीबन सवा 4 बजे वह चुंगीनाका के पास पहुंचा, तभी उचेहरा से गई बोलेरो क्रमांक एमपी-19सीबी-8235 सामने से बाइक को टक्कर मारकर भाग निकली, जिससे राजेन्द्र गंभीर रूप से घायल हो गया। इस दौरान वहां मौजूद लोगों ने डायल 100 पर सूचित कर किशोर को सिविल अस्पताल भेज दिया। जहां घायल के पास मिले परिचय पत्र व फोन से परिजन का पता लगाकर खबर दी गई तो भाग रही बोलेरो को थाने के पास ही रोक लिया गया।

तीन घंटे तक किया प्रदर्शन
सिविल अस्पताल में प्राथमिक उपचार के बाद 108 एम्बुलेंस से किशोर को जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया, लेकिन इचौल के पास ही उसकी सांसें थम गईं। तब परिजन ने चालक से वापस मैहर चलने के लिए कहा पर उसने इंकार कर दिया और उचेहरा अस्पताल में शव को उतारकर दूसरे मरीज को लेकर सतना रवाना हो गया। चालक की मनमानी से आक्रोशित परिजन ने किसी तरह प्राइवेट वाहन का इंतजाम किया और शाम 6 बजे राजेन्द्र का शव मैहर ले गए। इसी बीच किसी ने बोलेरो छोडऩे की अफवाह उड़ा दी। यह बात पता चलते ही आक्रोशित परिजन ने सतना-मैहर रोड पर शव रख दिया। मृतक के घरवालों की नाराजगी और जाम की खबर मिलने पर तहसीलदार संजय दुबे और टीआई अशोक पांडेय ने मौके पर जाकर समझाइश देते हुए रात 9 बजे शव को उठवाकर मरचुरी में रखवा दिया। इसी के साथ जाम खुलवाकर यातायात बहाल कराया।

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें

app-download