comScore

वन्यजीवों के अंगो की तस्करी करनेवाले 3 आरोपी गिरफ्तार

वन्यजीवों के अंगो की तस्करी करनेवाले 3 आरोपी गिरफ्तार

डिजिटल डेस्क, चिमूर। वन्यजीवों के अवयवों की तस्करी करने वाले 3 आरोपियों को चिमूर वनपरिक्षेत्र के अधिकारी और कर्मचारियों ने पकड़ा।  बालाजी परसराम सिडाम ऐसा मुख्य आरोपी का नाम है। वह कोलारा का निवासी है। मुख्य आरोपी ने पूछताछ में गांव के राजू सुखदास पिल्लेवान व दिलीप तुकाराम पिल्लेवान दो आरोपियों की भी जानकारी मिली। उनके पास जंगली सुअर के दांत होने की जानकारी आरोपी ने वनविभाग को दी। इस तरह से वनविभाग ने उन्हें भी धर दबोचा।                        

जानकारी के अनुसार ताड़ोबा जंगल क्षेत्र के समीप कोलारा निवासी आरोपी बालाजी परसराम सिडाम के पास बाघ की मूंछे होने थी जिसे वह बेचने की फिराक में होने की गूप्त सूचना मिली थी। इसी सिलसिले में परसराम चिमूर आने की भी सूचना भी विभाग को मिली थी। इस आधार पर वनविभाग ने जाल बिछाया। फंटर  बना कर आरोपी के पास भेजा। आरोपी ने बाघों की मूछों का सौदा किया। उस समय आरोपी के पास बाघ की 3 मूंछे स्पष्ट दिखाई दी। उसे तत्काल गिरफ्तार किया गया। उसके बाद चिमूर के वनविभाग के कार्यालय में आरोपी को लाया गया। उससे कड़ी पूछताछ करने पर उसके और दो सहयोगी होने की बात सामने आयी। यही नहीं उनके पास जंगली सुअर के दांत होने की भी जानकारी मुख्य आरोपी परसराम ने दी। इस आधार पर चिमूर तहसील के उसेगांव जाकर वनविभाग ने अन्य आरोपी राजू सुखदास पिल्लेवान व दिलीप तुकाराम पिल्लेवान के घर छापा मार कर जंगली सुअर के दांत बरामद किए।तीनों आरोपियों को वनविभाग ने गिरफ्तार कर लिया है।  

कमेंट करें
6icjY