comScore

डॉक्टर बनकर सर्राफा व्यवसायी को लगाई 78 हजार रुपए की चपत

डॉक्टर बनकर सर्राफा व्यवसायी को लगाई 78 हजार रुपए की चपत

डिजिटल डेस्क, नागपुर। एक युवक ने डॉक्टर बनकर इतवारी के सर्राफा व्यवसायी को 78 हजार रुपए का चूना लगा दिया। युवक ने सर्राफा व्यवसायी को पुराना ग्राहक बताकर अपना परिचय डॉक्टर महाजन, महल निवासी के रूप में दिया। दुकान से सोने-चांदी के (15 ग्राम के) सिक्के खरीदने के बाद उसने चेक दिया। भुगतान के लिए चेक बैंक में डालने पर फर्जी हस्ताक्षर किए जाने का खुलासा हुआ। पुलिस के अनुसार पीड़ित सर्राफा व्यवसायी उत्तम गुलाबचंद कश्यप (53), फ्लैट नं.-53 सेंट्रल एवेन्यू, तहसील निवासी है। उत्तम की इतवारी में गुलाबचंद साहेबलाल सर्राफ ज्चेलर्स नामक दुकान है। उत्तम की शिकायत पर तहसील थाने में धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया गया है।

खुद को पुराना ग्राहक बताया
शिकायत के अनुसार 9 जुलाई को शाम करीब 6.45 बजे दुकान बंद करते समय एक युवक उत्तम की दुकान पर आया और अपना नाम डाॅ. महाजन बताते हुए दुकान का पुराना ग्राहक बताया। युवक ने उत्तम से सोने का 10 ग्राम का और एक 5 ग्राम का चांदी का क्वॉइन मांगा। चूंकि, दुकान बंद करने का समय था, इसलिए उत्तम ने मना कर दिया, लेकिन युवक ने घर पर धार्मिक कार्यक्रम शुरू होने का हवाला देकर सिक्के देने की गुजारिश की। तब उत्तम ने युवक को सोने-चांदी के सिक्के दिए। इन सिक्कों का बिल करीब 78,414 रुपए हुआ। बिल मांगने पर आरोपी डाॅक्टर युवक ने चेक देने की बात कही। उत्तम ने चेक लेने से इनकार करने पर युवक ने दोबारा विनती की तो उत्तम ने उसे सोने-चांदी सिक्के दिए।

एक्सिस बैंक शाखा, वणी का चेक दिया
युवक ने 10 जुलाई-2020 का एक्सिस बैंक शाखा, वणी, जिला यवतमाल के खाते का चेक नं.-102196 दिया। उत्तम ने जब चेक बैंक में जमा किया, तब चेक पर फर्जी हस्ताक्षर किए जाने की जानकारी सामने आई। बैंक अधिकारियों ने उत्तम को इस बारे में जानकारी दी, तब उत्तम ने तहसील थाने में शिकायत की। सहायक पुलिस उप-निरीक्षक जेवियर ने आरोपी युवक के खिलाफ धारा 420 के तहत मामला दर्ज किया। 
 

कमेंट करें
xGeWX