comScore

16 संदिग्धों के नमूने जांच के लिए मेयो अस्पताल में भेजे गए

16 संदिग्धों के नमूने जांच के लिए मेयो अस्पताल में भेजे गए

डिजिटल डेस्क, भंडारा । आइसोलेशन वार्ड में मरीजों का आंकड़ा बढ़ गया है। मंगलवार को आइसोलेशन  वार्डमें पांच नए मरीजों को भर्ती किया गया। जबकि 16संदिग्धों के नमूने नागपुर के मेयो अस्पताल में जांच के लिए भेजे गए हैं। जिले में अब तक एक भी कोरोनाग्रस्त मरीज नही मिला है।अब विदेश से जिले में नागरिकों का लौटना लगभग बंद हो गया है। जिलाअस्पताल के नर्सिंग होस्टेल में स्थित क्वांरटाइन में अब 17 लोग भर्ती हैं। जबकि 14 लोग होम क्वांरटाइन है। इसी तरह अस्पताल क्वांरटाइन की कालावधि पूर्ण होने पर 11 लोगों को  छुट्टी दे दी गई है। जिलास्वास्थ्य विभाग ने बताया कि 30 मार्च को 16 संदिग्धों के नमूने जांच हेतु मेयो अस्पताल में भेजे गए हैं। सभी की रिपोर्ट आना बाकी है। भंडारा जिले की सीमा पर कुल नौ चेक पोस्ट तैयार की गई है। इन चेक पोस्ट पर वैद्यकीय अधिकारियों की टीम तैनात है। अभी तक महानगरों से कुल 8 हजार 831 लोग लौटे हैं। इन सभी को होम क्वांरटाइन रहने के निर्देश दिए गए हैं

बुलढाणा के कोरोनाग्रस्त के संपर्क में आए दिग्रस के 2 संदिग्ध अस्पताल में दाखिल
दिग्रस (यवतमाल):बुलढाणा में कोरोना के कारण जिस व्यक्ति की मृत्यु हुई उसके संपर्क मेंआए दिग्रस के दो लोगों को मंगलवार 31 मार्च को जांच के लिए जिला सरकारीअस्पताल में दाखिल किया गया है। साथ ही उनके 11 परिजनों को भी होम क्वांरटाइन किया गया है। बताया जाता है कि, बुलढाणा निवासी उक्त कोरोनाग्रस्त 18 मार्च को दारव्हा आया था। उस समय दिग्रस के यह दो लोग उसके संपर्क में आए थे। 29  मार्च को इसकी जानकारी मिली जिसके बाद प्रशासन तुरंत हरकत में आ गया। ग्रामीण अस्पताल के चिकित्सकों की टीम पुलिस बंदोबस्त में 108  एम्बुलेंस के साथ उनके घर पर पहुंची और दोनों को यवतमाल रवाना किया गया। यह जानकारी उजागर होने के बाद दिग्रस में दहशत देखी जा रही है।

कमेंट करें
QYzmM