comScore

कोरोनावायरस: रेलवे अस्पताल में तैयार किए गये दो विशेष वार्ड

कोरोनावायरस: रेलवे अस्पताल में तैयार किए गये दो विशेष वार्ड

डिजिटल डेस्क, नागपुर। कोरोना वायरस की दहशत बनी हुई है। अपने-अपने स्तर पर सतर्कता बरती जा रही है। रोजाना सफर करने वाले करोड़ों यात्रियों की स्वास्थ्य सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए रेल मंत्रालय की ओर से भी सभी मंडलों को आवश्यक तैयारी करने और सावधानी बरतने के निर्देश दिए गए हैं। मध्य रेलवे नागपुर मंडल में भी तैयारी शुरू कर दी गई है। मध्य रेलवे अस्पताल में दो आइसोलेशन वॉर्ड बनाए गए हैं। 

स्टेशनों पर उद्घोषणा 
कोरोना वायरस के पॉजिटिव प्रकरण दिल्ली और तेलंगाना में मिले हैं। उत्तर और दक्षिण मार्ग की अधिकतम गाड़ियां नागपुर होकर जाती हैं, जिसमें दिल्ली और तेलंगाना की गाड़ियां शामिल हैं। इसे लेकर नागपुर मंडल में लगातार उद्घोषणा की जाएगी।  कोरोना के लक्षण और बचाव की जानकारी भी दी जाएगी। मास्क के उपयोग को लेकर सेमिनार भी लिए गए। संदिग्ध मरीजों की जांच कैसे करनी है, इसकी भी जानकारी दी गई। 

सेमिनार आयोजित में दी जानकारी
रेलवे अस्पताल में कोरोना को लेकर सभी को सतर्क रहने के निर्देश दिए गए हैं। अस्पतालों में पीपीई किट भी उपलब्ध कराई गई है। जिसमें मास्क, दस्ताने, गाउन सहित अन्य सामग्री हैं। साथ ही अस्पताल में दो विशेष आइसोलेशन वार्ड तैयार किए गए हैं। 1 वार्ड महिलाओं के लिए और 1 पुरुषों के लिए तैयार किया गया है। सभी कर्मचारियों को काेरोना के लक्षण दिखाई देने पर तुरंत जांच कराने के िनर्देश दिए गए हैं।  

संदिग्ध मिलने पर सैंपल भेजेंगे : कोरोना को लेकर दाे विशेष वार्ड तैयार किए गए हैं। यदि कोई संदिग्ध मरीज मिलता है, तो जिस अस्पताल में  सुविधा है, वहां सैंपल भेजेंगे।  -एस.जी. राव,  सहायक वाणिज्य प्रबंधक, मध्य रेलवे नागपुर मंडल

-श्री राधाकृष्ण हॉस्पिटल की ओर से विशेषज्ञों की सलाह 
नागपुर महानगर पालिका और श्री राधाकृष्ण हॉस्पिटल एंड रिसर्च इंस्टीट्यूट की ओर से कोरोना वायरस से संपर्क और उसके संदर्भ में रखी जाने वाली सावधानी विषय पर चर्चासत्र का आयोजन किया गया।  कार्यक्रम का उद्घाटन करते हुए उपमहापौर मनीषा कोठे ने कहा कि मन में कोरोना के वायरस से प्रति डर रखने की जरूरत नहीं है। फिलहाल सावधानी सबसे सर्वोत्तम उपाय है। कोरोना का संक्रमण है कि नहीं, इस विषय पर डॉक्टरों की सलाह के अनुसार ही काम करें और सावधानी रखें।  महानगर पालिका के एपिडेमिक ऑफिसर डॉ. गोवर्धन नवखरे ने कहा कि साफ सफाई और बार-बार हाथ धोने की आदत अपनाए जाने की जरूरत है। डॉ. भरत अग्रवाल ने भी इस विषय पर मार्गदर्शन किया। चर्चा सत्र में उप महापौर मनीषा कोठे, परिवहन सभापति नरेंद्र बोरकर, नगरसेवका मनीषा धावडे, कांता रारोकर, मनपा के एपिडेमिक ऑफिसर डॉ. गोवर्धन नवखरे, श्री राधाकृष्ण हॉस्पिटल एंड रिसर्च इंस्टीट्यूट के अध्यक्ष गोविंद पोद्दार, डॉ. भरत अग्रवाल, सहसंयोजक मधुसूदन सारडा, मनोज अग्रवाल उपस्थित थे। 

कमेंट करें
zNasA