comScore

डॉ. गंटावार दंपति, एनडीएस जवान उपाध्याय, लिपिक भुसे संस्पेंड- जानिए क्या है आरोप

डॉ. गंटावार दंपति, एनडीएस जवान उपाध्याय, लिपिक भुसे संस्पेंड- जानिए क्या है आरोप

डिजिटल डेस्क, नागपुर । मनपा में अतिरिक्त स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. प्रवीण गंटावार, उनकी पत्नी इंदिरा गांधी अस्पताल में स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. शीलू चिमूरकर, एनडीएस जवान संदीप उपाध्याय और ड्राइवर से लिपिक पद पर पदोन्नत किए गए प्रमोद भुसे को मनपा की सेवा से निलंबित करने के आदेश दिए गए हैं। मनपा की आमसभा में पीठासीन अधिकारी महापौर संदीप जोशी ने यह आदेश दिया है। इन कर्मचारियों के खिलाफ मनपा सदन में लगाए गए गंभीर आरोपों का संज्ञान लेकर सदन की सहमति से यह निर्णय लिया गया है।

कोई झूठ-फरेब नहीं किया, सारे काम नियमानुसार ही हुए: मुंढे
स्थगन प्रस्ताव पर चर्चा में आयुक्त तुकाराम मुंढे की कार्यप्रणाली पर सत्तापक्ष-विपक्ष ने जमकर हमला किया। उनके खिलाफ गुमराह करने, नगरसेवकों की प्रतिष्ठा कलंकित करने के लिए जान-बूझकर विकास कार्यों को रोकने, जनप्रतिनिधि को विश्वास में नहीं लेकर एकतरफा कामकाज,  सोशल मीडिया पर झूठा प्रचार कर विकास कार्यों का श्रेय बटोरने, जनप्रतिनिधि का अधिकार हनन, नियमवाह्य काम, कोरोना संक्रमण की रोकथाम में दिशा-निर्देशों का उल्लंघन, क्वारेंटाइन सेंटर में असुविधा, क्वारेंटाइन प्रक्रिया में नागरिकों की बिना वजह प्रताड़ना आदि आरोप लगाए गए। नगरसेवकों के आरोपों का आयुक्त ने सिलसिलेवार जवाब दिया। जिस तरह नगरसेवकाें ने चर्चा में उनके खिलाफ बार-बार झूठ-फरेब शब्द प्रयोग किया गया। उसी स्टाइल में आयुक्त ने भी एक-एक आरोप के जवाब में कहा कि इसमें कोई झूठ-फरेब नहीं है। सारे काम नियमानुसार ही किए गए हैं।

स्थगन प्रस्तावों पर हुई चर्चा में 58 सदस्यों ने हिस्सा लिया
20 जून से लगातार पांच दिन चली मनपा की आमसभा में शिवसेना नगरसेवक मंगला गवरे और कांग्रेस नगरसेवक िनतीन साठवणे के स्थगन प्रस्ताव पर लगातार चार दिन चर्चा हुई। कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए कंटेनमेंट जोन (प्रतिबंधित क्षेत्र)  में असुविधा, नगरसेवक साठवणे के िखलाफ पुलिस में दर्ज मामला व कार्यादेश जारी किए गए अत्यावश्यक कार्यों पर लगाई गई रोक के खिलाफ स्थगन प्रस्ताव लाया गया था। इन दो प्रस्तावों पर चली चर्चा में 58 सदस्यों ने िहस्सा लिया। इस दौरान अतिरिक्त स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. प्रवीण गंटावार पर जनप्रतिनिधियों के साथ असभ्य बर्ताव के नगरसेवकों ने आरोप लगाए। डॉ. गंटावार मनपा के इंदिरा गांधी अस्पताल के इंचार्ज हैं। उनकी पत्नी डॉ. शीलू चिमूरकर उसी अस्पताल में स्वास्थ्य अधिकारी हैं। धंतोली में उनका निजी अस्पताल है। डॉ. चिमूरकर मनपा अस्पताल में सप्ताह में एक-दाे दिन आती हैं। डॉ. गंटावार पर पत्नी के मस्टर पर हस्ताक्षर कर मनपा को चूना लगाने का नगरसेवक दयाशंकर ितवारी ने आरोप लगाया। इस मामले में जांच कमेटी ने उन्हें 26 जून 2019 को नोटिस देकर अपना पक्ष रखने का अवसर दिया था। अभी तक इस मामले में कोई कार्रवाई नहीं किए जाने की जानकारी उन्होंने सदन को दी। काेरोना संक्रमण काल में एनडीएस के जवान संदीप उपाध्याय पर बिना वजह दुकानदारों के साथ मारपीट कर प्रताड़ित करने का मामला सदन में उठाया गया। वहीं ड्राइवर से पदोन्नत लिपिक प्रमोद भुसे को आयुक्त ने अपना सहायक बना रखा है। भुसे की पदोन्नति पर प्रश्न चिह्न खड़े किए गए। सदन में उठाए गए इन प्रश्नों का महापौर ने संज्ञान लेकर उन्हें तत्काल प्रभाव से निलंबित करने के आदेश दिए।

कमेंट करें
9XpnQ