comScore

 प्रेमी के साथ मिलकर पति की हत्या, शव को ठिकाने लगाने के पहले ही पुलिस ने दबोचा

 प्रेमी के साथ मिलकर पति की हत्या, शव को ठिकाने लगाने के पहले ही पुलिस ने दबोचा

डिजिटल डेस्क, नागपुर।  शादी के बाद बने प्रेम संबंधों में रोड़ा बन रहे पति की अपने प्रेमी और उसके भाई के साथ मिलकर पत्नी ने हाथ-पैर बांधकर, तकिये से मुंह दबाकर हत्या कर दी। शव को ठिकाने लगाने और घटनास्थल से फरार होने से पूर्व ही कामठी पुलिस ने तीनों आरोपियों को धरदबोचा। पुलिस के अनुसार नया पुलिस थाना अंतर्गत भीम नगर मार्ग स्थित नप की पानी की टंकी के सामने शारदा नामक महिला के घर में किराये से रहने वाले स्वास्थ्य विभाग के वार्ड ब्वॉय की पत्नी ने अपने प्रेमी की सहायता से उसकी हत्या कर दी। मृतक राजू का नाम हरिदास कुकुर्डे (37) है। आरोपी पत्नी शुभांगी राजू कुकुर्डे (30), प्रेमी रितेश दिलीप बिरहा (35) है, जो कामठी उपजिला अस्पताल के क्वार्टर में रहता है। हत्या में शामिल तीसरा आरोपी प्रेमी का भाई हरिचंद्र राजेंद्र बिरहा (34), बोरियापुरा, कामठी निवासी है। 

प्रेम संबंध के चलते कमरा बदला था
राजू, पत्नी शुभांगी और 5 साल के बेटे के साथ अस्पताल के क्वार्टर में जीवनयापन कर रहा था। रितेश भी विवाहित है और पत्नी व तीन बच्चों के वहीं क्वार्टर परिसर में रहता था। इस बीच शुभांगी और रितेश में प्रेम संबंध स्थापित हो गए। कुछ दिन बाद राजू को इसकी भनक लग गई। पति-पत्नी में विवाद होने लगा। आखिरकार छह माह पहले उसने भीम नगर में एक किराये का कमरा लिया। कुछ दिन सब ठीक-ठाक चला, लेकिन फिर  रितेश और शुभांगी के बीच प्रेम संबंधों का सिलसिला शुरू हो गया। फिर पति-पत्नी के बीच विवाद शुरू हो गया। घटना के एक दिन पहले इसी बात को लेकर राजू, शुभांगी और रितेश के बीच झगड़ा हुआ। 

पति के सोते ही प्रेमी को बुला लिया
इस झगड़े के बाद प्रेम संबंधों में कांटा बन रहे राजू को शुभांगी ने अपने रास्ते से हटाने की योजना बनाई। हमेशा की तरह पति-पत्नी ने रात को भाेजन किया। उपरांत शुभांगी ने सोने का नाटक किया। राजू जब गहरी नींद में सो गया, तब शुभांगी ने प्रेमी रितेश और उसके भाई हरिचंद्र को रात को करीब दो बजे घर बुलाया और  गहरी नींद में सोए राजू के हाथ-पैर बांध दिए तथा मुंह पर तकिया रख दिया। राजू अपनी जान बचाने के लिए चिल्लाने लगा, तो पड़ोस में रहने वाले व्यक्ति को  संदेह हुआ। उसने तुरंत कामठी पुलिस को इसकी सूचना दी। सूचना मिलते ही देर रात पेट्रोलिंग कर रहे डीबी स्क्वॉड के हवलदार पप्पू यादव और मंगेश लांजेवार घटनास्थल पर पहुंचे। पुलिस ने दरवाजा तोड़कर घर में प्रवेश किया। राजू का शव बिस्तर पर पड़ा था। पुलिस ने तीनों आरोपियों को ऑन द स्पॉट धरदबोचा।  

कमेंट करें
N1axy