दैनिक भास्कर हिंदी: नागपुर यूनिवर्सिटी जिला स्तर पर शुरू करेगा सैटेलाइट सेंटर  

September 25th, 2018

डिजिटल डेस्क, नागपुर। राष्ट्रसंत तुकड़ोजी महाराज नागपुर विश्वविद्यालय द्वारा तैयार किए गए अगले पांच वर्षों के प्रोस्पेक्टिव प्लान के तहत यूनिवर्सिटी ने हर जिले में अपना सैटेलाइट सेंटर शुरू करने का निर्णय लिया है, जिसमें यूनिवर्सिटी से जुड़े प्रशासकीय कार्य संबंधित जिले में ही पूरे किए जाएंगे। विद्यार्थी ऐसे केंद्रों पर शैक्षणिक  दस्तावेज और परीक्षा संबंधी प्रक्रिया पूर्ण कर सकेंगे। नागपुर विश्वविद्यालय का कामकाज गोंदिया, भंडारा और वर्धा जिले में भी फैला है। यहां यूनिवर्सिटी संलग्नित कॉलेजों में हजारों स्टूडेंट्स शिक्षा ले रहे हैं, लेकिन जब भी कॉलेजों के विद्यार्थियों, शिक्षकों या कर्मचारियों को यूनिवर्सिटी  से कोई काम पड़ता है, तो उन्हें सीधे नागपुर आना पड़ता है। 

यहां यूनिवर्सिटी के सिविल लाइंस स्थित प्रशासकीय परिसर या भरत नगर स्थित परीक्षा भवन के उन्हें कई बार चक्कर काटने पड़ते हैं। ऐसे में उनके जिलों में सैटेलाइट सेंटर शुरू होने से अपने जिले में ही वे यूनिवर्सिटी से जुड़े कामकाज पूर्ण कर पाएंगे। यूनिवर्सिटी के अधिष्ठाता डॉ. विनायक देशपांडे की अध्यक्षता में गठित समिति ने यह प्रोस्पेक्टिव प्लान तैयार किया है, जिसके लिए समिति ने कई शिक्षकों, विद्यार्थियों को शिक्षा क्षेत्र के जानकारों से फीडबेक लिए थे। इस में प्रस्तावित सैटेलाइट सेंटर योजना के तहत कॉलेजों का क्लस्टर बनाया जाएगा और कॉलेजों की गुणवत्ता बढ़ाने से जुड़े कई उपक्रम चलाए जाएंगे। डॉ. देशपांडे के अनुसार यूनिवर्सिटी की यह योजना संबंधित जिलों के कॉलेजों और विद्यार्थियों के लिए महत्वपूर्ण साबित होंगे। साथ ही उन्हें बात-बात पर नागपुर यात्रा की जरूरत नहीं पड़ेगी, अपने जिले में ही वे कार्य पूर्ण कर सकेंगे।