दैनिक भास्कर हिंदी: कोरोना से बचने सरकारी अस्पतालों में न मास्क, न सैनिटाइजर, भगवान भरोसे मरीज

August 31st, 2020

डिजिटल डेस्क, नागपुर।  सरकारी अस्पतालों में मास्क, सैनिटाइजर, दस्ताने, टोपियां आदि की कमी हो गई है। कोरोनाकाल में सुरक्षा कवच के रूप में इस्तेमाल की जानेवाली सामग्री पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध नहीं है। सूत्रों के मुताबिक मास्क न होने पर यहां के चिकित्सक पर्ची थमाकर मास्क खरीद लाने के निर्देश दे रहे हैं। 

परिचारिकाओं को खरीदने पड़ रहे मास्क
मेडिकल व मेयो अस्पताल में काम करनेवाली परिचारिकाओं व कुछ कर्मचारियों को मास्क, सैनिटाइजर, ग्लब्स आदि बाहर से खरीदकर इस्तेमाल करना पड़ रहा है। अस्पताल सूत्रों के मुताबिक, अस्पताल में घटिया दर्जे का मास्क दिया जा रहा है। इतना ही नहीं, पीपीई किट की भी गुणवत्ता अच्छी नहीं है। इससे कर्मचारी असहज महसूस कर रहे हैं। कुछ कर्मचारियों के तो बेहोश होने तक के मामले सामने आए हैं। उधर, मेयो अस्पताल में कुछ दवाओं की भी कमी है। दूसरी ओर, मास्क, सैनिटाइजर व अन्य आवश्यक सामग्री की किल्लत को लेकर मेडिकल  के वैद्यकीय अधीक्षक डॉ. अविनाश गावंडे व मेयो के उप-अधीक्षक डॉ. सागर पांडे से संपर्क का प्रयास किया गया, किंतु संपर्क नही हो सका। डॉ. अविनाश गावंडे किसी बैठक में व्यस्त थे और डॉ. सागर ने फोन नहीं उठाया।