comScore

पेट्रोल पंप पर डकैती डालने की बना रहे थे योजना, पुलिस ने पहले ही दबोचा

पेट्रोल पंप पर डकैती डालने की बना रहे थे योजना, पुलिस ने पहले ही दबोचा

डिजिटल डेस्क, नागपुर। शहर के वाठोड़ा क्षेत्र में एक पेट्रोल पंप पर डकैती डालने की योजना बना रहे 10 लोगों को पुलिस ने धरदबोचा। गिरफ्तार आरोपियों में गैंगस्टर संतोष आंबेकर का भांजा विकास उर्फ सन्नी राजकुमार वर्मा भी शामिल है। सन्नी हाल ही में सेंट्रल जेल से जमानत पर छूटकर आया था। अन्य गिरफ्तार आरोपियों में कोई तड़ीपार, तो कुछ पर एमपीडीए (झोपड़पट्टी दादा कानून) का मामला दर्ज है। इनमें हत्या के आरोपी भी शामिल हैं। आरोपियों को घटना को अंजाम देने के पूर्व ही अपराध शाखा पुलिस विभाग की यूनिट-4 ने गुप्त सूचना मिलने पर 6 जून को रात करीब 10 बजे धरदबोचा। आरोपियों से घातक शस्त्र, मिर्ची पाउडर, मोबाइल फोन व अन्य सामग्री सहित करीब 3 लाख 3 हजार रुपए का माल जब्त किया गया है। सभी आरोपी वाठोड़ा क्षेत्र में स्वामीनारायण मंदिर के पास एक खाली मकान में पेट्रोल पंप पर डकैती डालने की तैयारी में जुटे थे। रविवार को सभी आरोपियों को न्यायालय ने 9 जून तक पुलिस रिमांड में भेज दिया है।

यह हैं आरोपी
गिरफ्तार आरोपियों के नाम मोहसीन उर्फ बबलू खुजली रफीक शेख (30), दर्शन कॉलोनी नंदनवन,  इमरान उर्फ अरमान रौफ खान (26), सद्भावना नगर, प्लाट नं.-92-93,  नंदनवन, विकास उर्फ सन्नी राजकुमार वर्मा (29), घर क्र.-82, इतवारी हाईस्कूल, दारोडकर चौक, लकडगंज, गौरव श्रीरामजी मानमोडे (23),  गुरुदेव नगर, पेट्रोल पंप के पीछे, नंदनवन,  सुगत उर्फ धम्मदीप दीपक बागड़े (25),  वाठोड़ा ले-आउट, प्रिंस सोसाइटी, प्लाट नं.-16, तेजस्विनी नगर,  वाठोड़ा,  अमर चंदू महाले, (22),  हरिश्चंद्र  लॉन के बगल में   प्लाट नं.-62,  वाठोड़ा, तुषार विश्वनाथ डहाके (19), गजानन नगर, प्लाट नं.-104, वाठोड़ा ले-आउट,  विजय शामराव चन्ने  (40), गोपालकृष्ण लॉन के पास वाठोड़ा, रंजीत राजेश धनावत (22), जुनी मंगलवारी, हिंदुस्थान स्कूल के पास लकड़गंज  और समीर उर्फ अजय शंकर चौरसिया (30),  भांडेवाड़ी, गोंडपुरा, चांदकोवे  के घर किराए से पारडी निवासी है। सभी आरोपियों पर वाठोड़ा थाने में धारा 399, 402, 188, 4/25, 142, 135 के तहत मामला दर्ज किया गया है।  

किस आरोपी पर कितने अपराध दर्ज 
पुलिस सूत्रों के अनुसार मोहसीन उर्फ बबलू शेख पर 13 गंभीर अपराध दर्ज हैं। इमरान उर्फ अरमान रौफ खान पर 8 गंभीर अपराध दर्ज हैं। इस आरोपी पर इसके पहले एम.पी.डी.ए  के अंतर्गत कार्रवाई की गई थी। संतोष आंबेकर का भाजंा विकास उर्फ सन्नी राजकुमार वर्मा पर 13 गंभीर, गौरव मानमोडे  पर एक, सुगत पर 2 हत्या सहित 5,  अमर महाले पर  6, तुषार  डहाके  पर 4, विजय चन्ने   पर डकैती के 2 सहित 19 तथा रंजीत  धनावत पर फिरौती, हत्या व लूटपाट सहित 20, समीर उर्फ अजय चौरसिया  के खिलाफ अपहरण व बलात्कार के 3 गंभीर  अपराध सहित 6  मामले दर्ज हैं।
 
 

कमेंट करें
g2I5W
NEXT STORY

Paytm Money: अब पेटीएम मनी ऐप से हर कोई कर सकता है स्टॉक मार्किट में  निवेश, कंपनी का 10 लाख निवेशकों को जोड़ने का लक्ष्य

Paytm Money: अब पेटीएम मनी ऐप से हर कोई कर सकता है स्टॉक मार्किट में  निवेश, कंपनी का 10 लाख निवेशकों को जोड़ने का लक्ष्य

डिजिटल डेस्क, दिल्ली। भारत के घरेलु वित्तीय सेवा प्रदाता पेटीएम ने आज घोषणा की है कि इसकी पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी पेटीएम मनी ने देश में सभी के लिए स्टॉकब्रोकिंग की सुविधा शुरू कर दी है। कंपनी का लक्ष्य इस वित्त वर्ष में 10 लाख से अधिक निवेशकों को जोड़ना है, जिसमें अधिकतर छोटे शहरों और कस्बों से आने वाले फर्स्ट टाइम यूजर्स होंगे। इस प्रयास का उद्देश्य उत्पाद के आसान उपयोग, कम मूल्य निर्धारण (डिलीवरी ऑर्डर पर जीरो ब्रोकरेज, इंट्राडे के लिए 10 रुपये) और डिजिटल केवाईसी के साथ पेपरलेस खाता खोलने के साथ निवेश को प्रोत्साहित करना तथा अधिक-से-अधिक लोगों तक पहुंचना है। कंपनी भारत में सबसे व्यापक ऑनलाइन वेल्थ मैनेजमेंट प्लेटफार्म बनने के लिए प्रयासरत है, जो वित्तीय समावेशन के लक्ष्य के तहत आम लोगों तक आसानी से पहुंच सके।

पेटीएम मनी को अपने शुरुआती प्रयास में ही लोगों से भारी प्रतिक्रिया मिली और उसने 2.2 लाख से अधिक निवेशकों को अपने साथ जोड़ लिया। इनमें से, 65% उपयोगकर्ता 18 से 30 वर्ष के आयु वर्ग में हैं, जो दर्शाता है कि नई पीढ़ी अपनी वेल्थ पोर्टफोलियो का निर्माण कर रही है। टियर-1 शहरों जैसे मुंबई, बैंगलोर, हैदराबाद, जयपुर और अहमदाबाद में इस प्लेटफार्म को बड़े स्तर पर अपनाया गया है। ठाणे, गुंटूर, बर्धमान, कृष्णा, और आगरा जैसे छोटे शहरों में भी लोगों का भारी झुकाव देखने को मिला है। यह सेवा सुपर-फास्ट लोडिंग स्टॉक चार्ट्स, ट्रैक मार्केट मूवर्स एंड कंपनी फंडामेंटल्स सुविधाओं के साथ अब आईओएस, एंड्रॉइड और वेब पर उपलब्ध है। पेटीएम मनी ऐप शेयरों पर निवेश, व्यापार और सर्च के लिए प्राइस अलर्ट और एसआईपी सेट करने के लिए आसान इंटरफ़ेस प्रदान करता है।

इस अवसर पर पेटीएम मनी के सीईओ, वरुण श्रीधर ने कहा, "हमारा उद्देश्य वेल्थ मैनेजमेंट सेवाओं को आबादी के बड़े हिस्से तक पहुंचाना है, जो आत्मानिर्भर भारत के लक्ष्य में योगदान करेगी। हमारा मानना है कि यह मिलेनियल और नए निवेशकों को उनके वेल्थ पोर्टफोलियो के निर्माण में सक्षम बनाने का समय है। प्रौद्योगिकी पर आधारित हमारे समाधान शेयर में निवेश को सरल और आसान बनाता है। हम वर्तमान उत्पादों को चुनौती देते रहेंगे और भारत के सर्वश्रेष्ठ उत्पाद का निर्माण करते रहेंगे। हम पेटीएम मनी को सभी भारतीय के लिए एक व्यापक वेल्थ मैनेजमेंट प्लेटफार्म बनाने के लिए प्रतिबद्ध हैं। "

इतने कम समय में पेटीएम मनी पर स्टॉक ट्रेडिंग को व्यापक रूप से अपनाया जाना काफी महत्व रखता है। यह हर भारतीय के लिए डिजिटल निवेश को आसान बनाने के कंपनी के प्रयासों की सराहना को भी दर्शाता है। शेयरों में आसान निवेश के साथ, प्लेटफॉर्म उपयोगकर्ता को बाजार के बारे में शोध करने, मार्केट मूवर्स का पता लगाने, अनुकूल वॉचलिस्ट तैयार करने और 50 से अधिक शेयरों के लिए प्राइस अलर्ट सेट करने के अवसर प्रदान करता है। इसके अलावा, उपयोगकर्ता स्टॉक के लिए साप्ताहिक / मासिक एसआईपी सेट कर सकते हैं, और स्टॉक में निवेश को आॅटोमेट कर सकते हैं। बिल्ट-इन ब्रोकरेज कैलकुलेटर के साथ, निवेशक लेनदेन शुल्क का पता लगा सकते हैं और शेयरों को लाभ पर बेचने के लिए ब्रेक-इवेन प्राइस जान सकते हैं। इसके अलावा, स्टॉक ट्रेडिंग के अनुभव को और बेहतर बनाने के लिए एडवांस्ड चार्ट और अन्य विकल्प जैसे कवर चार्ट तथा ब्रैकेट ऑर्डर भी जोड़े गए हैं। इन सुविधाओं के अलावा बैंक-स्तरीय सुरक्षा के साथ निवेशकों के व्यक्तिगत डेटा को सुरक्षित रखते हुए अन्य सुविधाएं भी उपलब्ध होंगी।


पेटीएम मनी के बारे में
पेटीएम मनी वन97 कम्युनिकेशंस की पूर्ण स्वामित्व वाली एक सहायक कंपनी है। वन97 कम्युनिकेशंस भारत की घरेलू वित्तीय सेवा प्रदाता पेटीएम का स्वामित्व भी रखता है। यह देश का सबसे बड़ा ऑनलाइन इंवेस्टमेंट प्लेटफार्म है, और अब इसने उपयोगकर्ताओं के लिए डायरेक्ट म्यूचुअल फंड्स और एनपीएस के अपने वर्तमान आॅफर में स्टॉक्स को भी जोड़ दिया है। पेटीएम मनी का लक्ष्य एक पूर्ण-स्टैक इंवेस्टमेंट और वेल्थ मैनेजमेंट प्लेटफार्म बनना और लाखों भारतीयों तक धन सृजन के अवसरों को पहुंचाना है। बेंगलुरु स्थित मुख्यालय से संचालित इस कंपनी की टीम में 300 से अधिक सदस्य हैं।