comScore

रायपुर : महिला एवं बाल विकास सचिव श्री आर प्रसन्ना ने अबूझमाड़ में पोषण पुर्नवास केन्द्र और आंगनबाड़ी केन्द्र का किया निरीक्षण

July 24th, 2020 16:13 IST
रायपुर : महिला एवं बाल विकास सचिव श्री आर प्रसन्ना ने अबूझमाड़ में पोषण पुर्नवास केन्द्र और आंगनबाड़ी केन्द्र का किया निरीक्षण

डिजिटल डेस्क, रायपुर । पोषण पुर्नवास केन्द्र से स्वस्थ होकर लौटे बालक धैर्य के घर जाकर जाना हाल-चाल रायपुर 23 जुलाई 2020 महिला एवं बाल विकास के सचिव श्री आर प्रसन्ना आज नारायणपुर प्रवास के दौरान ओरछा विकासखण्ड के ग्राम कुंदला में संचालित पोषण पुनर्वास केंद्र और आंगनबाड़ी का निरीक्षण किया। इस दौरान कलेक्टर श्री अभिजीत सिंह, संचालक महिला एवं बाल विकास श्रीमती दिव्या उमेश मिश्रा, सीईओ जिला पंचायत श्री राहुल देव, यूनीसेफ के प्रतिनिधि डॉ फरहद, जिला कार्यक्रम अधिकारी सहित महिला एवं बाल विकास विभाग के अन्य अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित थे। सचिव श्री प्रसन्ना ने कुंदला पोषण पुनर्वास केंद्र का मुआयना किया और वहां कुपोषित बच्चों को केन्द्र में लाने तथा उन्हें दिये जाने वाले पोषण आहार के बारे में जानकारी ली। पोषण पुनर्वास केन्द्र के कर्मियों ने बताया कि कोरोना संक्रमण और लॉकडाउन के चलते अभी केन्द्र में बच्चे कम संख्या में आ रहे हैं। सचिव श्री प्रसन्ना ने पोषण पुनर्वास केन्द्र में आने वाले बच्चों के खान-पान के रूचि के बारे में भी वहां के कर्मियों से जानकारी ली। कर्मचारियों ने बताया कि बच्चो के साथ आने वाली माताओं को यहां रसोई में बनाने खाने की विधि के बारे में बताया जाता है, अधिकतर महिलाएं घर जाकर यहां से सीखी विधि के अनुसार ही भोजन तैयार करते और खाते हैं। कर्मचारियों ने बताया कि हाट-बाजार या स्वास्थ्य शिविरों में कमजोर पाये गये बच्चों के माता-पिता की काउंसिलिंग करते है। उसके बाद कमजोर या कुपोषित बच्चों को पोषण पुर्नवास केन्द्र में रखकर उसे कुपोषित से सामान्य श्रेणी में लाया जाता है। यहां आये बच्चों के माता-पिता एवं अभिभावकों को सिरहा-गुनिया और झाड़-फूंक करने वालों से दूर रहने की समझाईश भी दी जाती है। पोषण पुर्नवास केन्द्र में कर्मचारियों ने बच्चों को खिलाये जाने वाले पोषण आहार को सचिव श्री प्रसन्ना एवं अन्य अधिकारियांे के समक्ष तैयार किया और उसके बनाने की विधि बतायी। सचिव श्री आर प्रसन्ना ने अबूझमाड़ विकासखंड के ग्राम पंचायत कोडोली में संचालित आंगनबाड़ी केन्द्र का भी निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने आंगनबाड़ी केन्द्र आये महिलाओं एवं बच्चों से बातचीत की। संचालक श्रीमती मिश्रा ने महिलाओं से दिये जाने वाले रेडी-टू-ईट की गुणवत्ता एवं उपयोग की विधि के बारे में जानकारी ली। महिलाओं ने बताया कि माह जुलाई तक का रेडी-टू-ईट आंगनबाडी कार्यकर्ता द्वारा दिया गया है। इस दौरान श्रीमती मिश्रा ने कोडोली आंगनबाड़ी केन्द्र में आये 7 माह के शिशु कैलाश का अन्न प्रासन्न कराया। पोषण पुर्नवास केन्द्र से सुपोषित होकर घर गये कुंदला गांव के श्रीमती जनत्री बाई के पुत्र धैर्य के घर पहुंचकर उनका हाल-चाल जाना। इस अवसर पर सचिव श्री आर प्रसन्ना ने मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान, पूरक पोषण आहार वितरण, रेडी टू ईट की गुणवत्ता सहित विभिन्न योजनाओं के क्रियान्वयन की जानकारी जमीनी स्तर पर पहुंचकर ली। उन्होंने हितग्राहियों के घर पहुंचकर उनसे बातचीत कर रेडी टू ईट और टेक होम राशन मिलने सहित अन्य योजनाओं के बारे में जानकारी ली और निरीक्षण के दौरान उन्होंने रेडी टू ईट और उसकी सामग्री का एक पैकेट साथ ले जाने की बात कही ताकि उसकी पौष्टिक गुणवत्ता की जांच की जा सके। मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान के तहत् सूखा राशन का वितरण किया। क्रमांक 2786 /चंद्रवंशी/राहुल

कमेंट करें
ZsFw6