दैनिक भास्कर हिंदी: सेक्स रैकेट को दबोचा, भोजपुरी अभिनेत्री सहित दो महिलाएं पकड़ाई

April 10th, 2021

डिजिटल डेस्क, नागपुर। गणेशपेठ स्थित बस स्थानक के पास बीती रात सामाजिक सुरक्षा विभाग की टीम ने होटल कृृष्णा ओयो में छापामार कार्रवाई की। कोलकाता की एक महिला और दो युवतियां को देह व्यापार में लिप्त पाई गईं। इनमें से एक भोजपुरी अभिनेत्री और मॉडल है, जो अंतरराज्यीय स्तर पर ऑनलाइन सेक्स रैकेट से जुड़ी है। पीड़िता के तौर पर दलालों के चंगुल से उसे मुक्त कराया गया है। दो आरोपियों के खिलाफ गणेशपेठ थाने में प्रकरण दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार किया गया है।   फरार साथी की तलाश जारी है।

वेबसीरीज में काम कर चुकी 
जानकारी के अनुसार देह व्यापार में लिप्त तीनों युवतियां कोलकाता की हैं। उनकी आयु 32, 25 और 23 वर्ष है। इनमें एक मॉडल है, जो कुछ भोजपुरी फिल्मों की वेबसीरीज में बतौर अभिनेत्री काम कर चुकी है। अन्य दो युवतियां इवेंट का काम करती हैं। 

काम-धंधे ठप होने से ऑनलाइन रैकेट से जुड़ गईं
लॉकडाउन में काम-धंधे ठप होने से युवतियां ऑनलाइन सेक्स से जुड़ गई हैं। कुछ दिन पहले वह दलाल दीपेश उर्फ गगन दिलीपभाई कानाबारा (36), सतनामी नगर निवासी के बुलावे पर नागपुर आई हुईं थीं। दीपेश ने उन्हें किराए का कमरा लेकर ठहराया था तथा उनके लिए ऑनलाइन  ग्राहक तलाशता था। 

दलाल भेजता था होटल, लॉज व फ्लैट में
ग्राहक से सौदा पक्का होने पर उन्हें अलग-अलग होटल, लाॅजेस और फ्लैटों में भेजा जाता रहा है। गुरुवार की रात भी उसने युवतियों को गणेशपेठ बस स्थानक के पास स्थित होटल कृष्णा आेयो में भेजा था। इसके लिए दीपेश ने पहले से ही दो कमरे बुक कर रखे थे, मगर अपराध शाखा के सामाजिक सुरक्षा विभाग को इसकी भनक लग गई। आला अधिकारियों को सूचना दी गई। 

दो पंटर भेजे
तय योजना के तहत दो फर्जी ग्राहकों को भेजा गया। पश्चात पुलिस ने होटल को घेर लिया और संकेत मिलते ही छापामार कार्रवाई को अंजाम दिया। कार्रवाई के दौरान दीपेश पुलिस के हाथ लग गया, लेकिन उसका साथी रेहान फरार होने में सफल हो गया। 

युवतियों को सुधारगृह भेजा
दीपेश के चंगुल से तीनों युवतियों को पीड़िता के तौर पर मुक्त कराया गया। पश्चात शुक्रवार को उन्हें अदालत में पेश कर तीनों युवतियों को सुधारगृह भेज दिया गया। 

आरोपी रिमांड पर, आपत्तिजनक सामग्री जब्त
दीपेश को पुलिस रिमांड पर लिया गया है। दीपेश के  कब्जे से 12 हजार नकद, तीन मोबाइल और आपत्तिनजक सामग्री जब्त की गई है। पुलिस आयुक्त अमितेशकुमार, अपर आयुक्त सुनील फुलारी, उपायुक्त गजानन राजमाने के मार्गदर्शन में निरीक्षक रवि नागोसे, उप-निरीक्षक स्मिता सोनवने, मंगला हरड़े, अनिल अंबादे, राशिद शेख, भूषण झाड़े, अजय पौनिकर, मनीष रामटेके आदि ने की। 

10 हजार में से मिलते थे ढाई हजार रुपए
दीपेश इसके पहले भी देह व्यापार के आरोप में पकड़ा जा चुका है। उसके खिलाफ पहले के भी दो प्रकरण दर्ज हैं। वह अंतरराज्यीय स्तर पर ऑललाइन सेक्स रैकेट चलाता है। पीड़िताअों से हुई पूछताछ में पता चला है कि, दीपेश एक ग्राहक से दस हजार रुपए लेता था और उसमें से केवल ढाई हजार रुपए पीड़िता को देता था। उन्हें ग्राहकों तक पहुंचाने का काम ओला, उबेर से रेहान और दीपेश करते थे।