मनी लांडरिग मामला: शिवसेना सांसद संजय राऊत कोर्ट में हुए हाजिर

January 24th, 2023

डिजिटल डेस्क, मुंबई। मुंबई की विशेष अदालत ने मंगलवार को पत्रा चाल से जुड़े मनी लांडरिंग मामले की सुनवाई 27 फरवरी तक के लिए स्थगित कर दी है। इससे पहले इस मामले में आरोपी शिवसेना (उद्धव बाला साहब ठाकरे) सांसद संजय राऊत विशेष न्यायाधीश आरएन रोकड़े के सामने हाजिर हुए। मंगलवार को इस मामले से जुड़े आरोपियों के खिलाफ आरोपतय किए जाने थे लेकिन इस मामले को लेकर अन्य आरोपियों से जुड़ी समन रिपोर्ट प्रवर्तन निदेशालय(ईडी) की ओर से नहीं पेश की जा सकी। इसके बाद न्यायाधीश ने इस मामले की सुनवाई 27 फरवरी 2023 तक के लिए स्थगित कर दी।  ईडी ने पत्रचाल के पुनर्विकास से जुड़े में वित्तीय अनियमितता से जुड़े मामले में शिवसेना नेता राऊत को 1 अगस्त 2022 को गिरफ्तार किया था। कई महीने जेल में बीताने के बाद कोर्ट ने राऊत को नवंबर 2022 में जमानत प्रदान की थी। 

क्या है पत्राचाल घोटाला मामला
गोरेगांव के सिद्धार्थ नगर इलाके में 47 एकड़ में स्थित पत्राचाल में  672 परिवार रहते थे। साल 2008 में महाराष्ट्र गृहनिर्माण व क्षेत्र विकास प्राधिकरण (म्हाडा) ने इसके पुनर्विकास का काम शुरू किया और गुरूआशीष कंस्ट्रक्शन को इसका ठेका दिया गया। गुरूआशीष कंस्ट्रक्शन को 3000 से ज्यादा फ्लैट बनाने थे जिनमें से 672 घर पत्राचाल के निवासियों को दिए जाने थे लेकिन इसके बदले गुरुआशीष कंस्ट्रक्शन को अतिरिक्त एफएसआई मिलनी थी लेकिन कंपनी ने पत्राचाल के निवासियों को घर दिए बिना अतिरिक्त एफएसआई दूसरे बिल्डरों को 1034 करोड़ रुपए में बेंच दी। मामले में दायर आरोपपत्र में प्रवीण राऊत, हाऊसिंग डेवलपमेंट एंड इंफ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड (एचडीआईएल) के सारंग वधावन, राकेश वधावन और गुरूआशीष कंट्रक्शन का नाम भी आरोपियों में शामिल है।