comScore

Coronavirus: लॉकडाउन के चलते ट्रांसपोर्ट ठप, घर पहुंचने के लिए मजदूरों ने किया पैदल कूच

Coronavirus: लॉकडाउन के चलते ट्रांसपोर्ट ठप, घर पहुंचने के लिए मजदूरों ने किया पैदल कूच

डिजिटल डेस्क, नागपुर। देशभरमें लॉकडाउन के चलते ट्रांसपोर्ट सेवा पूरी तरह से ठप है। ऐसे में कई मजदूरों ने अपने घर वापस जाने के लिए पैदल ही कूच कर दिया है। शुक्रवार को जाम से कुछ मजदूर 80 किलोमीटर का सफर तय करते हुए नागपुर पहुंचे। मजदूरों ने बताया कि, उन्हें जो ठेकेदार लेकर गया था, वह खुद उन्हें वहां छोड़ कर चला गया। आगे उन्हें मध्य प्रदेश के बैतूल शहर जाना है, जिसके लिए वह किसी साधन की तलाश कर रहे हैं।

ठेकेदार ने वापस ले जाने से किया मना
मजदूर गोलू बैरागी ने बताया कि, वह बैतूल के आगे चिदोर नाम के गांव का रहने वाला है। घर के हालात ठीक नहीं रहने से काम की तलाश में पहले नागपुर आया था। जहां उसे किसी ठेकेदार ने काम देने का आश्वासन देकर जाम ले गया था। जाम में कई दिनों से वह काम कर रहा था। अचानक कोरोना का कहर सामने आने से आवागमन व्यवस्था चरमरा गई। जिसके कारण उन्हें अपने घर वापसी की नौबत आन पड़ी है। लेकिन उनका जो ठेकेदार है, उसने कहा कि, तुम लोग अपनी व्यवस्था खुद कर लो, मै आपको यहां से कैसे लेकर जाऊं।

खाना न मिलने के चलते किया पैदल कूच
गोलू ने बताया कि सभी मजदूर एक-दो दिन वहीं पर रहे। लेकिन खाने-पीने का कोई इंतजाम नहीं होने के चलते सभी ने किसी साधन के माध्यम से वापसी करने का सोचा। लेकिन कोई भी उन्हें छोड़ने के लिए तैयार नहीं था। ऐसे में सभी ने मिलकर पदयात्रा करते हुए घर जाने का फैसला किया।

एक अन्य मजदूर कैलाश गोस्वामी ने बताया कि वह एक दिन पहले सुबह जाम से निकले थे तब वहां के लोगों ने नाश्ता दिया था। लेकिन तब से बिना कुछ खाए पैदल चल रहे हैं। मजदूर आगाराम बैरागी ने बताया कि 30 से 35 लोग जाम में फंसे है, जो पैदल ही यहां के लिए निकले हैं।

नागपुर में आकर मिला खाना-पानी 
पैदल चलकर आने वाले इन भूखे-प्यासे मजदूरों की जानकारी कुछ समाजसेवी संस्था को मिली, जिसके बाद उन्हें खाना नसीब हो सका।

कमेंट करें
CZtw2