दैनिक भास्कर हिंदी: Cryptocurrency Trading की सोच रहे हैं तो इन बातों का रखें ध्यान, भारी नुकसान किए बिना बन सकता है अच्छा प्रॉफिट

June 24th, 2021

हाईलाइट

  • भारत में क्रिप्टो करेंसी की ट्रेडिंग में लोगों का रुझान अचानक बढ़ा
  • एथेरियम और बिटकॉइन के बारे में चर्चा आम
  • कुछ सुझाव आपके लिए फायदेमंद साबित हो सकते हैं

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। भारत में क्रिप्टोकरेंसी की ट्रेडिंग में लोगों का रुझान अचानक बढ़ा है। एथेरियम और बिटकॉइन के बारे में चर्चा आम हो गई है। यदि आप भी क्रिप्टोकरेंसी में ट्रेडिंग की सोच रहे हैं, तो कुछ सुझाव आपके लिए फायदेमंद साबित हो सकते हैं। यहां हम आपको कुछ पॉइंट बता रहे हैं जिनका आपको पालन करना चाहिए, ताकि आप अपने ट्रेडों में भारी नुकसान किए बिना समझदारी से प्रॉफिट बना सके।

छोटे से शुरुआत करें
अप्रैल 2021 में बिटकॉइन ने अपने ऑल-टाइम हाई $64,863 को हिट किया था। यह कोई आश्चर्य की बात नहीं है कि बिटकॉइन के लॉन्च के बाद से लगभग 24,000 प्रतिशत का आरओआई (निवेश पर वापसी) मुंह में पानी लाने वाला है। वहीं फंडामेंटली मजबूत माने जाने वाले एथेरियम ने लॉन्च होने के बाद से लगभग 68,000 प्रतिशत का आरओआई दिया है। पिछले तीन महीनों में, इसकी कीमतें $1,600 तक गिरी और लगभग $4,300 तक बढ़ी। इसका 52-सप्ताह का ट्रेंड बिटकॉइन की तरह ही है। केवल 219 डॉलर पर ट्रेडिंग करते हुए यह तेजी से बढ़कर 4,362 डॉलर पर पहुंच गया था। 

ये रिटर्न आकर्षक लग सकता हैं, लेकिन आप हमेशा छोटे से शुरुआत करें। केवल वही निवेश करें जो आप खोने को तैयार हैं। जोखिम उठाने की अत्यधिक क्षमता के बावजूद आपको ये बात याद रखना चाहिए कि क्रिप्टोकरेंसी बाजार बेहद अस्थिर है और रातोंरात मार्केट क्रैश हो सकता है। वर्तमान में $32,000 पर ट्रेड कर रहे बिटकॉइन ने पिछले 7 दिनों में 15.95 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की है। इथेरियम की कीमत करीब 1,900 डॉलर है, जो पिछले सप्ताह से लगभग 21 प्रतिशत कम है। इस तरह के उतार-चढ़ाव आम हैं और विशेषज्ञ आपके पूरे पोर्टफोलियो का 2% से अधिक क्रिप्टोकरेंसी को ऐलॉट नहीं करने की सलाह देते हैं। किप्टो के बाजार में उतरने से पहले इसकी अस्थिरता और गतिशीलता से परिचित होना महत्वपूर्ण है।

बिटकॉइन और एथेरियम जैसी करेंसियों में करें निवेश
हर एक इन्वेस्टर, अपनी जोखिम लेने की क्षमता के बावजूद, बाजार में ब्लू-चिप कंपनियों के लिए स्पेसफिक पोर्टफोलियो का अलॉकेशन करता है। स्थिर, बड़ी और प्रसिद्ध कंपनियां जो लगातार अच्छा रिटर्न देने के लिए जानी जाती हैं। क्रिप्टोक्यूरेंसी की दुनिया में, बिटकॉइन और एथेरियम कुछ हद तक ब्लू चिप्स हैं। बिटकॉइन और एथेरियम के ट्रेंड को देखकर निश्चित रूप आपक अज्ञात क्रिप्टोकरेंसी खरीदने की सोचेंग जो कम कीमतों पर रातोंरात सनसनी बन सकती है। लेकिन बिटकॉइन और एथेरियम क्रिप्टोकरेंसी बाजार को डोमिनेट करती हैं, इसलिए अन्य करेंसियों के विपरीत, उनमें हेराफेरी की संभावना कम है।

भरोसेमंद प्लेटफॉर्म का उपयोग करें
क्रिप्टोक्यूरेंसी स्पेस में अस्पष्ट नियम है। ऐसे में कई क्रिप्टो आउटलेट्स पनप गए हैं जिससे घोटालों और धोखाधड़ी की संख्या में भी तेज वृद्धि हुई है। साउथ अफ्रीका के काजी भाइयों का हालिया मामला इसका एक उदाहरण है, जो अपने प्लेटफॉर्म के जरिए निवेशकों के 3.6 अरब डॉलर मूल्य के बिटकॉइन लेकर गायब हो गया। हाल ही में फेडरल ट्रेड कमीशन ने बताया कि अक्टूबर 2020 और मार्च 2021 के बीच विभिन्न क्रिप्टोकरेंसी स्कैम में करीब 7000 अमेरिकन कंज्यूमर्स ने 80 मिलियन डॉलर से अधिक गंवा दिए। इसलिए एक्सपर्ट्स विश्वसनीय प्लेटफार्मों के माध्यम से ही ट्रेड करने की सलाह देते हैं।

एक्सपर्ट्स के मुताबिक क्रिप्टोकरेंसी में ऐसे प्लेटफॉर्म के जरिए ही ट्रेड करें जिसकी बाजार में अच्छी रेपुटेशन है, साथ ही क्रिप्टोकरेंसी वॉलेट भी है। यदि आप क्रिप्टो में लॉन्ग टर्म के लिए निवेश करना चाहते हैं तो हार्डवेयर वॉलेट होना बेहद जरुरी है क्योंकि ये काफी सुरक्षित होते हैं। Binance और WazirX जैसे प्लेटफ़ॉर्म भी ऐसी वॉलेट सेवाएं प्रदान करते हैं। हालांकि यदि आप फ्रिक्वेंट ट्रेडर हैं, तो एक सॉफ्टवेयर वॉलेट से आपका काम चलल जाएगा।

ग्लोबल और होम डेवलपमेंट पर नजर रखें
एलोन मस्क ने बिटकॉइन के बारे में ट्वीट किया, चीन ने क्रिप्टोकरेंसी माइनिंग पर नकेल कसी, अल साल्वाडोर ने बिटकॉइन को वैध बनाया, आरबीआई ने सुप्रीम कोर्ट के सर्कुलर के साथ अपने रुख और समर्थन को स्पष्ट किया जिसने क्रिप्टोकरेंसी ट्रेडिंग की अनुमति दी थी- ये सभी प्रमुख डेवलपमेंट हैं जिसने मार्केट मूवमेंट को नाटकीय रूप से प्रभावित किया। इसलिए हमेशा भारत और विश्व स्तर पर, इन वैकल्पिक मुद्राओं की कीमत को प्रभावित करने वाले सभी डेवलपमेंट पर नजर रखें।

खबरें और भी हैं...